Thursday, May 23 2024 | Time 20:24 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


पांच अप्रैल को पूर्णतया बंद रहेगी सिरसा अनाज मंडी: मेहता

सिरसा, 03 अप्रैल (वार्ता) हरियाणा में सिरसा की मार्केट कमेटी कार्यालय के आगे आढ़ती एसोसिएशन सिरसा का धरना-प्रदर्शन तीसरे दिन बुधवार को भी जारी रहा। धरने के कारण मंडी में फसलों की बोली दोपहर 12 बजे बाद ही आरंभ हो पाई।
धरना की अध्यक्षता आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान मनोहर मेहता ने की।
श्री मेहता ने उपस्थित आढ़तियों को संबोधित करते हुए कहा कि गेहूं पर पूरी दामी देने तथा सरसों की खरीद आढ़तियों के माध्यम से करने की मांग पर यह धरना-प्रदर्शन चल रहा है जो पांच अप्रैल तक चलेगा। उन्होंने बताया कि पांच अप्रैल को सिरसा मंडी में पूरी तरह से हड़ताल रहेगी। आढ़ती अपना कारोबार बंद रखेंगे और फसलों की बोली भी नहीं होगी। कंडातोल हड़ताल रहेगी। इसलिए किसान भाईयों से अपील है कि वे पांच अप्रैल को मंडी में अपनी फसलें लेकर न आए ताकि उन्हें कोई परेशानी न हो। उन्होंने फैक्ट्री मालिकों को भी अपील की है कि वे ट्रैक्टर-ट्रॅालियों की खाली-भराई न करवाए।
उधर आज धरने-प्रदर्शन में इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के नेता पहुंचे और उन्होंने आढ़तियों को पार्टी की ओर से पूरा समर्थन दिया। इनेलो जिलाध्यक्ष कश्मीर सिंह करीवाला, शहरी जिलाध्यक्ष गंगाराम बजाज, युवा जिलाध्यक्ष भगवान कोटली, हलका अध्यक्ष गुरदीप गिलग धरना पर पहुंचे।
धरने की अध्यक्षता कर रहे श्री मेहता ने समर्थन देने के लिए इनेलो नेताओं का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि आढ़तियों की मांग है कि किसानों की सभी फसलें जैसे कॉटन, सरसो, सूरजमुखी,बाजरा इत्यादि और अन्य सभी फसले सरकार द्वारा एमएसपी पर आढ़तियों के माध्यम से ही खरीदी जाए और आढ़त पूरी 2.5 प्रतिशत मिलनी चाहिए जो कि गेहूं पर लगभग 57 रुपये व धान पर लगभग 56 रुपये बनती है, जबकि पिछले चार वर्षों से सरकार द्वारा गेहूं पर 46 रुपये और धान पर 45.88 रुपए फिक्स आढ़त दी जा रही है जो की बहुत कम है।
सं.संजय
वार्ता
image