Wednesday, Sep 19 2018 | Time 01:36 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • हांगकांग को हराने में भारत के पसीने छूटे
  • गाजा में प्रदर्शनकारियों पर गोलीबारी, दो की मौत 46 घायल
  • प्रधानमंत्री से सिक्किम दौरा स्थगित करने की मांग
खेल Share

फाइनल में सौरभ काफी समय तक दूसरे स्थान पर बने रहे थे लेकिन जैसे ही मात्सुदा ने 8.9 का शॉट लगाया सौरभ को मजबूत बढ़त मिल गयी और उनके आखिरी क्षणों में 10.2 के शॉट के साथ वह शीर्ष पर आ गये। इससे पहले क्वालिफिकेशन राउंड में भी सौरभ ने इतना ही लाजवाब प्रदर्शन किया था और वह 586 के सर्वाधिक स्कोर के साथ शीर्ष पर रहे थे जबकि अभिषेक ने 580 अंकों के साथ छठे स्थान पर रहकर फाइनल के लिये क्वालीफाई किया था।
पेशे से वकील अभिषेक के लिये भी यह किसी बड़े अंतरराष्ट्रीय स्तर के खेलों में पदार्पण है, जिन्होंने पहले कभी निशानेबाजी विश्वकप में भी हिस्सा नहीं लिया है। भारत के लिये यह पदक इसलिये भी अहम है क्योंकि इस वर्ग में अब तक केवल विजय कुमार ही पदक जीत पाये हैं जिन्होंने 2010 के ग्वांग्झू खेलों में 10 मीटर एयर पिस्टल में कांस्य दिलाया था।
सौरभ और अभिषेक ने राष्ट्रीय चयन ट्रॉयल में अनुभवी जीतू राय और ओम मिथरवाल को मात देते हुये खेलों के लिये भारतीय दल में जगह बनाई थी। एशियाई खेलों में वर्ष 1974 के तेहरान खेलों में निशानेबाजी की इस स्पर्धा को शामिल किया गया था और खेलों के आखिरी 11 संस्करणों में चीन ने इसमें सर्वाधिक सात पदक जीते हैं जबकि कोरिया ने दो और जापान तथा उत्तर कोरिया के पास एक एक पदक है। लेकिन इस सूची में अब भारत का नाम भी जुड़ गया है।
क्वालिफिकेशन में सौरभ ने 40 अनुभवी निशानेबाजों की फील्ड में गेम्स रिकार्ड बनाते हुये शीर्ष पर जगह बनाई और वह पूर्व ओलंपिक चैंपियन कोरिया के जिन जोंगोह से दो अंक आगे रहे। सौरभ ने इससे पहले इसी वर्ग में जर्मनी में आईएसएसएफ जूनियर विश्वकप में 243.7 अंकों के साथ विश्व रिकार्ड बनाते हुये स्वर्ण जीता था।
राज प्रीति
जारी वार्ता
More News

19 Sep 2018 | 1:12 AM

 Sharesee more..

हांगकांग को हराने में भारत के पसीने छूटे

19 Sep 2018 | 1:06 AM

 Sharesee more..

साजन को रजत, विजय को कांस्य

18 Sep 2018 | 11:51 PM

 Sharesee more..
शिखर के विस्फोटक शतक से भारत के 285

शिखर के विस्फोटक शतक से भारत के 285

18 Sep 2018 | 9:13 PM

दुबई, 18 सितम्बर (वार्ता) इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज में रनों के लिए तरस रहे बाएं हाथ के ओपनर शिखर धवन ने हांगकांग के गेंदबाजों की बेरहमी से धुनाई करते हुए मात्र 120 गेंदों में 127 रन ठोके जिसकी बदौलत भारत ने हांगकांग के खिलाफ एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट के ग्रुप ए मुकाबले में मंगलवार को 50 ओवर में सात विकेट पर 285 रन बना लिए।

 Sharesee more..

18 Sep 2018 | 9:11 PM

 Sharesee more..
image