Saturday, Sep 22 2018 | Time 01:57 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मलिक के कमाल से पाकिस्तान ने अफगानिस्तान को हराया
  • राष्ट्रपति ने नौका हादसे की जांच का दिया आदेश
  • नन से दुष्कर्म का आरोपी बिशप मुलक्कल गिरफ्तार
राज्य Share

त्रिवेन्द्र ने सिंगापुर के उद्यमियों को उत्तराखंड में निवेश के लिए आमंत्रित किया

देहरादून 04 सितम्बर (वार्ता) उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राज्य की अनुकूल स्थितियों को रेखांकित करते हुए विदेशी निवेशकों को निवेश के लिए आमंत्रित किया है।
श्री रावत ने मंगलवार को सिंगापुर में ‘इन्वेस्ट नाॅर्थ समिट 2018’ में अपने संबोधन में राज्य में निवेशकों के लिए अनुकूल स्थितियां बनाने के लिए उठाए गए कदमों का जिक्र करते हुए ‘‘उत्तराखण्ड में निवेश संभावनाओं’’ पर प्रभावी पक्ष प्रस्तुत किया।
यहां जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार श्री रावत ने ‘इन्वेस्ट नाॅर्थ समिट 2018’ में प्रतिभाग लिया तथा सिंगापुर के व्यापारिक समुदाय से उत्साहपूर्ण प्रतिक्रियाएं मिलने पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहा हमारी मध्यम, लघु एवं सूक्ष्म औद्योगिक नीति 2015, ‘सिंगल विंडो क्लियरेन्स सिस्टम’ तथा भारी औद्योगिक तथा निवेश नीति 2015 उन कदमों में से एक है जो राज्य में औद्योगिक वातावरण को प्रोत्साहित करते है तथा निवेशकों के लिए सहज बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।
मुख्यमंत्री एवं अन्य प्रतिनिधिमण्डल ने सम्मेलन के दौरान ‘उत्तर भारत में निवेश स्थितियां’ पर भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) की रिर्पोट का विमोचन भी किया। राज्य सरकार के प्रतिनिधिमण्डल ने विभिन्न संस्थाओं के साथ बैठक की जिनमें राज्य में विकास के अवसरों पर चर्चा की गई । इन संस्थाओं में सरबना जरगोन प्रा. लिमिटेड, द गोल्डन स्टेट केपिटल प्रा. लिमिटेड आदि थे।
प्रतिनिधिमण्डल ने सिंगापुर के विदेश मंत्री श्री विवियन बालाकृष्णन से भी भेंट की। प्रतिनिधिमण्डल ने संभावित निवेशकों को सात और आठ अक्टूबर 2018 को देहरादून में आयोजित आगामी ‘‘डेस्टिनेशन उत्तराखंडः इन्वेस्टर्स समिट 2018’’ के लिए भी आमंत्रित किया।
‘‘इन्वेस्ट नाॅर्थ समिट 2018’’ में उत्तर भारतीय राज्यों उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, राजस्थान तथा उत्तर प्रदेश में संभावित परियोजनाओं तथा निवेश की संभावनाओं को प्रदर्शित किया। उन्होेंने पर्याप्त प्राकृतिक संसाधनों, कुशल मानव संसाधन, सक्रिय निवेश एवं नीति निर्धारक शासन तथा बढ़ती आय एवं द्रुत गति से विकसित होती आधारभूत संरचना के साथ मजबूत उपभोक्ता आधार के साथ उत्तर भारत को निवेशकों के लिए महत्वपूर्ण बताया। यह क्षेत्र इलेक्ट्राॅनिक्स, फार्मास्यूटिकल, वितीय सेवाओं, पर्यटन, स्वास्थ्य सेवाओं, शिक्षा, आधारभूत संरचना, ऊर्जा एवं आॅटामोबाइल क्षेत्र में निवेश अवसरों के लिए उत्तम है।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री के औद्योगिक सलाहकार के एस पंवार, अपर मुख्य सचिव ओम प्रकाश, सचिव अमित नेगी, स्मार्ट सिटी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी शैलेश बगौली, आईटीडीए के निदेशक अमित कुमार सिन्हा भी मौजूद थेे।
सं. उप्रेती
वार्ता
More News
प्रदेश के किसी व्यक्ति पर गलत कार्रवाई नहीं होंने देंगे: सिंधिया

प्रदेश के किसी व्यक्ति पर गलत कार्रवाई नहीं होंने देंगे: सिंधिया

21 Sep 2018 | 11:54 PM

शिवपुरी, 21 सितंबर (वार्ता) अनुसूचित जाति-अनुसूचित जनताति अधिनियम के विरोध के बीच कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के मध्यप्रदेश अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आज सपाक्स को आश्वासन देते हुए कहा कि इस अधिनियम के अन्तर्गत प्रदेश के किसी भी व्यक्ति पर गलत कार्यवाही नहीं होंने देंगे।

 Sharesee more..
हमने जूते-चप्पल पहनाए, कांग्रेस के पेट में मरोड़ हो गई - शिवराज

हमने जूते-चप्पल पहनाए, कांग्रेस के पेट में मरोड़ हो गई - शिवराज

21 Sep 2018 | 11:46 PM

छिंदवाड़ा, 21 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने तपती दोपहर में नंगे पैर तेंदूपत्ता बीनने वाली महिलाओं और पुरुषों को जूते-चप्पल पहनाए, तो कांग्रेस के पेट में मरोड़ उठने लगी।

 Sharesee more..

मालगाड़ी की महिला गार्ड के साथ छेड़छाड़

21 Sep 2018 | 11:38 PM

 Sharesee more..

टीआरएस नेता सपत्नीक कांग्रेस में शामिल

21 Sep 2018 | 11:22 PM

 Sharesee more..
भाजपा ने कुमारस्वामी के खिलाफ राज्यपाल से की शिकायत

भाजपा ने कुमारस्वामी के खिलाफ राज्यपाल से की शिकायत

21 Sep 2018 | 11:17 PM

बेंगलुरु 21 सितम्बर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं ने शुक्रवार को कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच. डी. कुमारस्वामी के जनता को विद्रोह के लिए उकसाने वाले बयान को लेकर उनके खिलाफ राज्यपाल वजुभाई वाला को शिकायत पत्र दिया और श्री कुमारस्वामी के खिलाफ संविधान के अनुसार कार्रवाई करने का आग्रह किया।

 Sharesee more..
image