Thursday, Nov 15 2018 | Time 11:24 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सबरीमला विवाद: पिनारायी ने उच्चतम न्यायालय के फैसले पर बुलाई सर्वदलीय बैठक
  • यरूशलम में चाकूू हमले में चार इजरायली पुलिस अधिकारी घायल
  • भारत इस्पात के आयात की निर्भरता को कम करेगा: इस्पात सचिव
  • प़ बंगाल में साइबर अपराध निरोधक केन्द्र्र की स्थापना की जाएगी
  • राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पटना पहुंचे
  • ट्रक की चपेट में आने से बैंककर्मी समेत दो लोगों की मौत
  • वसंत कुंज में मालकिन और नौकर की हत्या
  • भाजपा के लगभग पांच दर्जन नेता पार्टी से निष्कासित
  • सीरिया: हवाई हमले मेें इस्लामिक स्टेट के 20 आतंकवादियों की मौत
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 16 नवंबर)
  • थेरेसा मे को ब्रेक्सिट सौदे पर मंत्रिमंडल से मिली सहमति
  • रूस में भूकंप के झटके
  • अमेरिका में बस पलटने से दो की मौत, 44 घायल
  • सीरिया में हवाई हमले मेें 20 आईएस की मौत
  • टीआरएस ने 10 उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी की
राज्य Share

देश के चौकीदार की भ्रष्टाचार में भागीदारी हुयी जगजाहिर: कांग्रेस

देश के चौकीदार की भ्रष्टाचार में भागीदारी हुयी जगजाहिर:  कांग्रेस

इलाहाबाद, चार सितंबर (वार्ता) राफेल विमान सौदे को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर हमलावर रूख बरकरार रखते हुये कांग्रेस ने तंज कसा कि देश का चौकीदार होने का दावा करने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की भ्रष्टाचार में संलिप्तता उजागर होने से जनता हतप्रभ है।

कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने मंगलवार को यहां पत्रकारों से कहा “ देश का सबसे बड़ा रक्षा सौदा और इसमें भ्रष्टाचार भाजपा के कार्यकाल में हुआ है। मोदी सरकार ने लड़ाकू विमानों के दाम तीन गुना बढ़ाए हैं।”

उन्होंने कहा संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के कार्यकाल में जब फ्रांस की डसाल्ट कंपनी से राफेल विमान की कीमत 526 करोड़ रूपये तय हुई थी लेकिन सत्ता में आते ही प्रधानमंत्री ने 2015 में फ्रांस का दौरा किया और उसी विमान को 1670 करोड़ रुपये में खरीदने का सौदा किया। 12 दिसम्बर , 2012 को हुई खुली अंतर्राष्ट्रीय बोली में 126 रा़फेल लड़ाकू विमान खरीदे जाने थे तथा प्रत्येक लड़ाकू विमान का मूल्य 526 करोड़ 10 लाख रूपए था। 18 लड़ाकू विमान फ्रांस से बनकर आने थे जबकि 108 लड़ाकू विमान भारत की 70 साल की अनुभवी कम्पनी हिंदुस्तान एयरोनोटिक्स लिमिटेड द्वारा ’’ ट्रांसफर आफ टेक्नालाॅजी ’’के तहत भारत में बनाए जाने थे। इस मूल्य के तहत 36 लड़ाकू विमानों की कीमत 28,940 करोड़ रूपए आती।

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि 10 अप्रैल 2015 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पेरिस, फ्रांस में 1670 करोड़ 70 लाख प्रति लड़ाकू विमान की दर से 36 राफेल लड़ाकू विमानो के लिए 60,145 करोड़ रूपए में ’’आफ दि शेल्फ’’इमरजेंसी खरीद की घोषणा 12 दिन पुरानी नई कम्पनी के पक्ष में कर डाली। आश्चर्य तो यह है कि इन विमानों के मूल्य को सुरक्षा का बहाना लेकर छिपाया जा रहा है जबकि सुरक्षा तकनीकी की हो सकती है पर मूल्य की नही होती।

दिनेश प्रदीप

जारी वार्ता

More News
बसपा ने व्यापमं के सूत्रधार डॉ जगदीश को बनाया प्रत्याशी

बसपा ने व्यापमं के सूत्रधार डॉ जगदीश को बनाया प्रत्याशी

15 Nov 2018 | 11:12 AM

भोपाल, 15 नवंबर (वार्ता) बहुजन समाज पार्टी ने मध्यप्रदेश में व्यापमं घोटाले के सूत्रधार रहे डॉ जगदीश सागर को भिंड जिले के गोहद से अपना प्रत्याशी बनाया है।

 Sharesee more..
अमित शाह आज से मध्यप्रदेश में भरेंगे चुनावी हुंकार

अमित शाह आज से मध्यप्रदेश में भरेंगे चुनावी हुंकार

15 Nov 2018 | 10:55 AM

भोपाल, 15 नवंबर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह आज से मध्यप्रदेश के चुनावी रण में हुंकार भरते हुए पार्टी के लिए प्रचार करेंगे।

 Sharesee more..
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पटना पहुंचे

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पटना पहुंचे

15 Nov 2018 | 10:34 AM

पटना 15 नवंबर (वार्ता) राष्ट्रपति रामनाथ काेविंद समस्तीपुर जिले में पूसा स्थित डॉ. राजेंद्र प्रसाद कृषि विश्वविद्यालय के पहले एवं राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी), पटना के आठवें दीक्षांत समारोह में शामिल होने के लिए एकदिवसीय दौरे पर आज पटना पहुंचे।

 Sharesee more..
image