Monday, Nov 19 2018 | Time 19:31 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सुरजेवाला यह बताएं कि केएमपी परियोजना की लागत क्यों बढ़ी: गोयल
  • इंदिरा गांधी की 101वीं जयंती पर देश ने दी भावपूर्ण श्रद्धांजलि
  • चार साल में बनेगा किलोग्राम का नाया बाट, 60 करोड़ होंगे खर्च
  • अदलीवाल ग्रेनेड हमले में पाकिस्तान का हाथ होने के संकेत: कैप्टन
  • सोनिया, पिंकी और सिमरन क्वार्टरफाइनल में, स्वीटी बाहर
  • सोनिया, पिंकी और सिमरन क्वार्टरफाइनल में, स्वीटी बाहर
  • तूफान प्रभावित कर्नाटक को 546 करोड़ की केंद्रीय सहायता
  • होंडा ने बेचे 2 5 करोड़ स्कूटर
  • पुलवामा आतंकवादी हमले के शहीद जवान को दी गयी श्रद्धांजलि
  • अंजुम को दो दिन में दो स्वर्ण, मेहुली ने जीते 4 स्वर्ण
  • फूलका ने सेना का अपमान किया, देशद्रोह का केस दर्ज कर गिरफ्तार करने की मांग
  • नवाज ने जेआईटी जांच को किया खारिज
  • बिहार दिवस से पहले पूरा राज्य हो ओडीएफ घोषित : सुशील
  • झांसी के बबीना में शुरू हुआ भारत- रूस संयुक्त सैन्य अभ्यास
  • एसजीपीसी प्रधान ने मृतकों के प्रति शोक व्यक्त किया
राज्य Share

शोर शराबे और हंगामे के बीच नौ विधेयक पारित

जयपुर, 06 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान विधानसभा में विपक्ष के शोर शराबे के बीच आज नौ विघेयक सर्वसम्मति से पारित कर दिये गये ।
विधानसभा में पक्ष विपक्ष के शोरगुल और हंगामे के कारण दो बार बाधित हुयी कार्यवाही के बाद अपरान्ह दो बजे बाद सदन में विधायी कार्य निपटाये गये ।
सभापति राव राजेन्द्र सिंह ने विधायी कार्य शुरू करते ही कांग्रेस के सचेतक गोविंद सिंह डोटासरा ने पुन: मुख्यमंत्री गौरव यात्रा के मुददे पर चर्चा कराने की मांग की जिस पर सभापति ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने इस पर व्यवस्था दे दी है । इसलिये अब इस पर कोई चर्चा नही हो सकती ।
सभापति की व्यवस्था से असंतुष्ट कांग्रेस के सदस्य वैल पर आ गये और शोर शराबा करने लगे । कांग्रेसी सदस्यों ने इस दौरान सरकार विरोधी नारे लगाये । कांग्रेस के सदस्यों ने जनता से लूटे धन को जमा करो के नारे भी लगाये ।
विपक्ष के शोर शराबे के बीच ही राज्य सरकार की ओर से अधिसूचनाओं और प्रतिवेदन सदन की मेज पर रखे गये । इसके बाद श्रीमती किरण माहेश्वरी ने डा़ सर्वपल्ली राधाकृष्णन राजस्थान आयुर्वेद विश्वविद्यालय जोधपुर संशोधन विधेयक 2018, जगदगुरू रामानंदाचार्य राजस्थान संस्कृत विश्वविद्यालय सशोधन विधेयक 2018,राजस्थान नजी विश्वविद्यालय की विधियां संशोधन विधेयक 2018, अपेक्स विश्वविद्यालय जयपुर विधेयक 2018, श्याम विश्वविद्यालय लालसोट दौसा विधेयक 2018,लार्डस विश्वविद्यालय चकानी अलवर विधेयक 2018, तथा श्री खुशाल दास विश्वविद्यालय पीलीबंगा विधेयक 2018 पेश किया जिसे सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया ।
इसके बाद संसदीय कार्यमंत्री ने राजस्थान विधानसभा अधिकारियों तथा सदस्यों की परिलब्धियां और पेंशन संशोधन विधेयक 2018 तथा राजस्थान पंचायती राज संशोधन विघेयक 2018 पेश किया जिसे बगैर किसी चर्चा के पारित कर दिया गया ।
अजय सैनी संजय
वार्ता
More News

पंजाब-कैप्टन-पाकिस्तान दो अंतिम अादलीवाल

19 Nov 2018 | 7:21 PM

 Sharesee more..

एक महिला समेत दो नक्सली गिरफ्तार

19 Nov 2018 | 7:20 PM

 Sharesee more..
बिहार दिवस से पहले पूरा राज्य हो ओडीएफ घोषित : सुशील

बिहार दिवस से पहले पूरा राज्य हो ओडीएफ घोषित : सुशील

19 Nov 2018 | 7:18 PM

पटना 19 नवंबर (वार्ता) बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज आह्वान किया कि अगले वर्ष 22 मार्च बिहार दिवस से पूर्व पूरे राज्य को खुले में शौच से मुक्त (ओडीएफ) घोषित किया जाये।

 Sharesee more..
image