Tuesday, Apr 23 2019 | Time 18:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बिहार में तीसरे चरण के चुनाव में 60 प्रतिशत पड़े वोट
  • खाद्य तेल नरम, चीनी, गेहूँ, दालें मजबूत
  • बाबूलाल मरांडी को दी गई धमकी की जांच शुरू
  • कांग्रेस और भाजपा दोनों ने ही किया लोगों का उत्पीड़न : नरेश उत्तम पटेल
  • ईरानी संसद ने सेंटकाॅम को आतंकवादी समूह घोषित किया
  • मजबूत सरकार-देश के लिए मजबूत चौकीदार की जरूरत: मोदी
  • म्यांमार के शीर्ष न्यायालय ने रॉयटर्स पत्रकारों की अपील खारिज की
  • बेयरस्टो, वार्नर की वतन वापसी से हैदराबाद को लगेगा झटका
  • बेयरस्टो, वार्नर की वतन वापसी से हैदराबाद को लगेगा झटका
  • छत्तीसगढ़ में शाम पांच बजे तक 64 3 प्रतिशत मतदान
  • बेयरस्टो, वार्नर की वतन वापसी से हैदारबाद को लगेगा झटका
  • बेयरस्टो, वार्नर की वतन वापसी से हैदारबाद को लगेगा झटका
  • गुजरात में 65 प्रतिशत से अधिक मतदान , मोदी, आडवाणी, शाह, जेटली ने भी की वोटिंग
  • तीसरे चरण में बंगाल, असम, गोवा, केरल और त्रिपुरा में भारी मतदान
राज्य


मध्यप्रदेश में अनेक स्थानों पर तेज बारिश के आसार

भोपाल 07 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश में मौसम को प्रभावित करने वाले चार सिस्टम बनने के कारण एक दर्जन से अधिक स्थानों पर भारी बारिश होने की चेतावनी मौसम विभाग ने जाहिर की है।
स्थानीय मौसम विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिकों ने बताया कि एक डीपप्रेशन बंगाल की खाड़ी एवं उत्तरी उड़ीसा तट में दीघा के पास बना हुआ है जसके पश्चिम दिशा की ओर आगे बढ़ने की संभावना है। दूसरे एक द्रोणिका फिराजपुर, अंबाला, मेरठ उरई, डाल्टनगंज, चाईबासा से बंगल की खाड़ी तक बनी हुई है।
इसके अलावा हवा के उपरी भाग में 3़ 1 से 5़8 किलोमीटर के बीच द्रोणिका बनी है जो बंगाल की खाड़ी से झारखंड उत्तरी छत्तीसगढ़, उत्तर पूर्व मध्य प्रदेश, दक्षिण उत्तरप्रदेश और उत्तर पूर्व हरियाणा तक बनी हुई है। साथ ही हवा के उपरी भाग में चक्रवाती हवा का घेरा बना हुआ है जो दक्षिण पूर्व उत्तर प्रदेश में 2़1 किलोमीटर की उंचाई तक है। इन सभी कारणों के चलते राज्य के सागर, छतरपुर, पन्ना, दमोह, टीकमगढ़, उमरिया, शहडोल अनूपपुर, डिंडौरी, रीवा और सतना में तेज बारिश हो सकती है।
इन सिस्टमों के प्रभाव के चलते महाकौशल अंचल में आने वाले जबलपुर, नरसिंहपुर, मंडला, कटनी के साथ ही होशंगाबाद, बैतूल, रायसेन, विदिशा, सीहोर, अशोकनगर और गुना जिले में कहीं-कहीं भारी होने की संभावना है।
प्रदेश में बने सिस्टम की वजह से पिछले 24 घंटो के दौरान डेढ़ दर्जन से अधिक स्थानों पर वर्षा दर्ज की गई। इस दौरान उमरिया, सतना, पचमढ़ी, खजुराहो में दूसरे स्थानों की अपेक्षा सबसे अधिक वर्षा दर्ज किया गया। इन तीनों स्थानों पर 50 मिमि से 80 मिमि वर्षा हुई है। वहीं अन्य स्थानों पर 5 सें 30 मिमि के बीच वर्षा रिकार्ड किया गया।
दूसरी ओर आज राज्य के एक दर्जन से स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की खबर मिली है। कई स्थानों पर तो रिमझिम, कहीं रूक-रूक बारिश होती रही। ऐसे कई स्थान रहे जहां छोड़े समय के लिए बूंदाबांदी हुई। अनेक स्थानों पर सुबह से आसमान में बदली छाई रही।
प्रदेश की राजधानी भोपाल में सुबह में कई स्थानों पर मामूली बारिश हुई। सुबह से ही बादलों ने आसमान को धेरे रहा। यहां अगले 24 घंटों के दौरान ऐसी ही स्थिति होने का अनुमान लगाया गया है।
नाग
वार्ता
image