Wednesday, Jul 24 2019 | Time 13:59 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भाजपा कर्नाटक प्रमुख को केन्द्रीय नेतृत्व के निर्देश का इंतजार
  • बाढ़ और सुखाड़ में किसानों की तरह मछली पालकों को भी क्षतिपूर्ति देती है सरकार
  • प्रवासी भारतीयों की 50 हजार से अधिक शिकायतें मिली
  • कश्मीर पर मध्यस्थता स्वीकार करने का कोई औचित्य नहीं : राजनाथ
  • निजी भागीदारी से हवाई अड्डे फायदे में
  • नंबर एक और दो का आदेश हो जाए, तो एक दिन भी नहीं लगेगा - भार्गव
  • 70 प्रतिशत गायों में होगा कृत्रिम गर्भाधान: गिरिराज
  • विंडीज़ दौरे की तैयारी में जुटे धवन
  • विंडीज़ दौरे की तैयारी में जुटे धवन
  • बालटाल आधार शिविर में अमरनाथ तीर्थयात्री की मौत
  • राज्यसभा ने अपने पांच सदस्यों को दी विदाई
  • अहसान मनी दोबारा बने आईसीसी समिति के अध्यक्ष
  • अहसान मनी दोबारा बने आईसीसी समिति के अध्यक्ष
  • न्यूनतम वेतन नहीं देने पर होगी सख्त कार्रवाई: सरकार
राज्य


खेती की तरक्की के बिना गांव और प्रदेश की तरक्की संभव नहीं: मलैया

दमोह, 10 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के वित्त मंत्री जयंत मलैया ने कहा है कि खेती की तरक्की के बिना गाँव और प्रदेश की तरक्की संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारा किसान मेहनतकश है। उसे खेती में पानी मिल जाये, तो प्रदेश में कृषि का रिकार्ड उत्पादन होगा।
श्री मलैया ने यहां 518 करोड़ रुपये लागत की सीतानगर सिंचाई परियोजना के भूमि-पूजन के बाद समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि इसी को ध्यान में रखते हुए जिले के पंचम नगर, जूडी, साजली, सतधरू और सीतानगर सिंचाई परियोजनाएँ तैयार की गई हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने सिंचाई की ओर विशेष ध्यान दिया है। उन्होंने कहा कि खेतों में अब पाइप लाइन और स्प्रिंकलर के जरिये पानी पहुंचेगा। इससे पानी की बर्बादी रुकेगी।
सीतानगर सिंचाई परियोजना की चर्चा करते हुए श्री मलैया ने बताया कि इस परियोजना से दमोह, हटा और पथरिया विधानसभा क्षेत्र के 84 गाँव में 45 हजार एकड़ क्षेत्र में सिंचाई होगी। इसके और विस्तार के बाद सिंचाई का रकबा 53 हजार एकड हो जायेगा। किसान हितैषी निर्णयों की चर्चा करते हुए श्री मलैया ने बताया कि प्रदेश में किसानों को जीरो प्रतिशत पर कृषि ऋण उपलब्ध करवाया जा रहा है।
कार्यक्रम को सांसद प्रहलाद पटेल, विधायक लखन पटेल, उमादेवी खटीक एवं अन्य जन-प्रतिनिधियों ने भी संबोधित किया।
बघेल
वार्ता
image