Sunday, Feb 17 2019 | Time 19:02 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जम्मू हिंसा, पुलिस ने 10 लोगों को हिरासत में लिया
  • सिद्धू पर देश द्रोह का मामला दर्ज हो : कालिया
  • कृषि संकट, बेरोजगारी, विभाजनकारी ताकतें और पर्यावरणीय क्षरण सबसे बड़ी चुनौती: मनमोहन
  • पुलवामा हमले के विरोध में भाजपा नेता एवं कार्यकर्ताओं ने दिया धरना
  • बाहर पढ़ने वाले कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा की समीक्षा
  • बिहारवासियों का मेट्रो रेल का सपना हुआ पूरा
  • पुलवामा आतंकी घटना के बाद कश्मीरियों के पुलिस सत्यापन में आयी तेजी
  • खेलों से सुधारा जायेगा कैदियों को
  • झांसी रेलवे स्टेशन पर लहराया सौ फुट ऊंचा तिरंगा
  • केन्द्र सरकार शहीद जवानों के बच्चों की शिक्षा का दायित्व गंभीरता से ले- प्रदीप टम्टा
  • राज्य सरकार तकनीकी शिक्षा को बढ़ावा देने के लिये लगातार काम कर रही है:योगी
  • मजबूत सरकार से ही संभव हुये विकास के इतने कार्य : मोदी
  • शहीदों की शौर्यगाथा स्कूली पाठ्यक्रम में होगी शामिल
  • जम्मू में कर्फ्यू के कारण 20 से अधिक विवाह समारोह स्थगित
  • जम्मू में कर्फ्यू के कारण लोगों की बढ़ी परेशानी
दुनिया Share

भारत के साथ अच्छे संबंधों के पक्ष में हैं इमरान खान

इस्लामाबाद 24 जुलाई (वार्ता) क्रिकेटर से राजनेता बने तहरीक-ए- इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष इमरान खान ने बुधवार को होने वाले आम चुनाव से पहले भारत और पाकिस्तान के अच्छे संबंधों की वकालत करते हुए कहा है कि इससे दोनों देशों के बीच व्यापार का रास्ता खुलेगा जो दोनों पड़ोसी राष्ट्रों के हित में होगा।
श्री खान ने मंगलवार को एक टेलीविजन चैनल को दिये साक्षात्कार में कहा,“ अगर भारत के साथ हमारे संबंध अच्छे होंगे तो दोनों देशों के बीच व्यापार शुरू हो सकेगा। इससे दोनों देशों को फायदा होगा।”
श्री खान ने कहा,“ भारत के साथ संबंधों को लेकर वर्तमान में कश्मीर ही मुद्दा है। दोनों देशों के बीच संबंध सुधारने के प्रयासों के लिए मैं पाकिस्तान को पूरे नंबर देता हूं। लेकिन मेरा मानना है कि भारत के साथ अच्छे और शांतिपूर्ण संबंध होने चाहिए क्योंकि पूरा उपमहाद्वीप कश्मीर मुद्दे के कारण जैसे अशांत वातावरण में जी रहा है।”
उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की सबसे बड़ी समस्या यहां की अर्थव्यवस्था है। श्री खान ने कहा,“ पाकिस्तान इस समय जिस सबसे बड़ी चुनौती का सामना कर रहा है, वह है कि-- हम दिवालिया हैं। हम इस स्थिति नहीं हैं कि कर्ज की रकम वापस करें। हम अपनी जरूरतों को पूरा करने में सक्षम नहीं है, इसलिए हमने कर्ज लिये हैं। नयी सरकार की संस्थाओं को मजबूत करना होगा, राजस्व को बढ़ाना होगा और भ्रष्टाचार को दूर करना होगा। वर्तमान में हम विकट आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहे हैं।”
श्री खान की पार्टी ने इस माह जारी अपने चुनावी घोषणा पत्र में कहा था कि अगर पीटीआई सत्ता में आती है तो वह भारत को रणनीतिक बातचीत के लिए आमंत्रित करेगी।
आशा.श्रवण
वार्ता
More News

चीन में मकान ढहने से तीन लोगों की मौत, 14 घायल

17 Feb 2019 | 4:10 PM

 Sharesee more..

बंगलादेश में आग से नौ लोगों की मौत

17 Feb 2019 | 2:17 PM

 Sharesee more..
कंजर्वेटिव सांसद ब्रेक्जिट पर एकजुट हों : थेरेसा

कंजर्वेटिव सांसद ब्रेक्जिट पर एकजुट हों : थेरेसा

17 Feb 2019 | 12:13 PM

लंदन 17 फरवरी (वार्ता) ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मेे ने कंजर्वेटिव पार्टी के सांसदों को पत्र लिखकर अपनी ‘व्यक्तिगत वरीयताओं’ को एक ओर रखकर ब्रेक्जिट समझौते का समर्थन करने की अपील की।

 Sharesee more..
image