Wednesday, Sep 19 2018 | Time 06:49 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मैटिस ने अपने इस्तीफे की खबरों को किया खारिज
  • यमन के लाल सागर में 17 मछुआरों की हत्या
  • अमेरिका और पोलैंड करेंगे सैन्य और खुफिया संबंधों को सुदृढ़
  • आईसीसी ने शुरू की म्यांमार से रोहिंग्याओं के पलायन की जांच
  • हांगकांग को हराने में भारत के पसीने छूटे
  • गाजा में प्रदर्शनकारियों पर गोलीबारी, दो की मौत 46 घायल
  • प्रधानमंत्री से सिक्किम दौरा स्थगित करने की मांग
दुनिया Share

प्रभु ने आटो,मालवाहक विमान और विनिर्माण पर मांगा जापान से सहयाेग

सिंगापुर/ नयी दिल्ली 30 अगस्त (वार्ता) केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुुरेश प्रभु ने जापान से आटोमोबाइल, माल वाहक विमान और विनिर्माण के क्षेत्र में ज्यादा कारोबारी सहयोग तथा निवेश की मांग करते हुए जापानी कंपनियों को हरसंभव सहुलियत देने का आश्वासन दिया है।
श्री प्रभु ने गुरुवार को सिंगापुर में जापान के वित्त, व्यापार और उद्योग मंत्री हीरोशिगे सेको के साथ एक बैठक में कहा कि जापान की कंपनियां पहले से ही भारत में मौजूद हैं और बेहतर कारोबार कर रही है। उन्होंने कहा कि जापानी कंपनियों को आटोमोबाइल और विनिर्माण क्षेत्र में और ज्यादा निवेश करना चाहिए तथा भारतीय कंपनियों के साथ कारोबारी सहयोग करना चाहिए।
उन्होेंने रक्षा उत्पादन क्षेत्र को विदेशी प्रत्यक्ष निवेश (एफडीआई) के लिए खोलने का जिक्र करते हुए कहा कि जापानी कंपनियों को भारत में माल वाहक विमानों के विनिर्माण क्षेत्र में उतरना चाहिए और सरकार की उदार नीतियों का लाभ उठाना चाहिए। श्री प्रभु ने कहा कि जापानी निवेश का बढ़ावा देने के लिए एकल खिड़की प्रणाली स्थापित की जाएगी। बैठक के दौरान जापान एवं भारत ने ऊर्जा के क्षेत्र में सहयोग पर सहमति व्यक्त की।
केंद्रीय मंत्री ने चिकित्सा सहायकों और स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में भी जापान के सहयोग की पेशकश की जिसका जापानी मंत्री ने स्वागत किया। जापान ने भारतीय उद्याेगों में निवेश बढ़ाने का आश्वासन दिया है।
श्री प्रभु ने कहा कि सरकार सभी राज्यों में जापान के 12 नगर परियोजनाओं पर सहयोग करेगा।
सत्या टंडन
वार्ता
image