Wednesday, Sep 26 2018 | Time 15:10 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • हाउसिंग सोसायटी घोटाला मामले में पाकिस्तान के पूर्व मुख्य न्यायाधीश का दामाद गिरफ्तार
  • लिबर्टी ने लांच किया परफ्यूम
  • उड़ान के दौरान विमान में शिशु की मौत
  • सायना आसान जीत से दूसरे दौर में
  • ई टेंडरिंग मामले से संबंधित जनहित याचिका खारिज
  • तेलंगाना की पूर्व मंत्री कांग्रेस में शामिल
  • ममता ने दी मनमोहन को जन्म दिन की बधाई
  • खरीफ में 14 करोड़ 15 लाख टन पैदावार का अनुमान
  • खरीफ में 14 करोड़ 15 लाख टन पैदावार का अनुमान
  • आधार कार्ड की संवैधानिक वैधता कुछ शर्तों के साथ बरकरार
  • भार वितरक बनाने वाले छात्र और सारस के परीक्षण पायलट सम्मानित
  • चांदी 460 रुपये महंगी; सोना 75 रुपये सस्ता
  • गंगा-यमुना प्रदूषण के मामले में केन्द्र समेत चार राज्यों से हाईकोर्ट ने मांगा जवाब
  • आधार पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत:भाजपा
  • नंबर वन हालेप वुहान ओपन से बाहर
दुनिया Share

चीन नेपाल को देगा चार बंदरगाहों के इस्तेमाल की इजाजत

काठमांडू 07 सितंबर (वार्ता) नेपाल ने कहा है कि चीन उसे अपने चार बंदरगाहों का उपयोग करने की इजाजत देगा।
नेपाल के वाणिज्य मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया कि नेपाल चीन के साथ अपना व्यापारिक संपर्क बढ़ाना चाहता है।
मंत्रालय ने बताया कि नेपाल और चीन के अधिकारियों के बीच आज यहां हुई बैठक के दौरान चीन के तियांजिन, शेंझन, लियायुंगांग तथा झांजियांग बंदरगाह का उपयोग नेपाल के करने को लेकर मसविदे को अंतिम रूप दिया गया। इसके अलावा चीन ने लांझओउ, ल्हासा तथा जिगेट्से माल गोदामों (ड्राई पोर्ट्स) का नेपाल के इस्तेमाल के करने पर भी सहमति जताई।
एक अधिकारी ने बाताया कि दोनों देशों के बीच मसविदा पर हस्ताक्षर हो जाने के बाद यह व्यवस्था प्रभावी हो जाएगी।
‌वाणिज्य मंत्रालय के अधिकारी रवि शंकर ने कहा, “ यह एक मील का पत्थर है क्योंकि भारत के दो बंदरगाहों के अलावा हमें चीन के चार बंदरगाहों का इस्तेमाल करने करने की इजाजत मिलने जा रहा है।
उन्होंने बताया कि जापान, दक्षिण कोरिया, उत्तर कोरिया तथा उत्तरी एशियाई देशों से माल लदे जहाज चीन के रास्ते नेपाल आ सकते हैं जिससे समय और लागत की बचत होगी। अभी तक इन देशों से सामान भारत के पू्र्वी तट कोलकाता के रास्ते नेपाल पहिंचता है। भारत ने नेपाल के व्यापार के लिए दक्षिणी तट पर विशाखापट्टनम को खोल दिया है।
उल्लेखनीय है कि नेपाल अभी तक तेल और अन्य जरूरी सामानों के आयात पर चीन से अधिक भारत पर निर्भर करता है लेकिन नेपाल अब चीन के बंदरगाहों का उपयोग करके भारत पर निर्भरता को कम करना चाहता है।
संतोष.श्रवण
वार्ता
More News

ताइ‌वान को हथियार ना बेचे अमेरिका: चीन

26 Sep 2018 | 1:42 PM

 Sharesee more..
सुषमा ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा सुधार पर की चर्चा

सुषमा ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा सुधार पर की चर्चा

26 Sep 2018 | 9:28 AM

न्यूयार्क 26 सितम्बर(वार्ता) विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने जी-4 देशों के विदेश मंत्रियों के साथ बुधवार को यहां एक बैठक की और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा सुधारों पर प्रगति को लेकर चर्चा की।

 Sharesee more..
फिनलैंड में परमाणु ऊर्जा संयंत्र बनाने के लिए शीघ्र  मिलेगा लाइसेंस

फिनलैंड में परमाणु ऊर्जा संयंत्र बनाने के लिए शीघ्र मिलेगा लाइसेंस

26 Sep 2018 | 8:01 AM

मास्को 26 सितंबर(वार्ता) रूसी सरकारी परमाणु ऊर्जा कंपनी रोसाटोम और इसके साझेदारों को फिनलैंड में अगले वर्ष हनहिकिवी-1 परमाणु ऊर्जा संयंत्र (एनपीपी) बनाने के लिए जल्द ही लाइसेंस प्राप्त हो सकता है।

 Sharesee more..
image