Tuesday, May 21 2019 | Time 08:42 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 22 मई)
  • अमेरिका में नौसैनिक विमान दुर्घटनाग्रस्त, पायलट सुरक्षित
  • ट्रम्प से रूस, ईरान पर प्रतिबंधों को पूरी तरह से लागू करने का अनुरोध
  • वेनेजुएला के लिए जीवन समर्पित करेंगे: मादुरो
  • ईरान का अमेरिका के खिलाफ कार्रवाई की तैयारी का 'कोई संकेत नहीं' है: ट्रम्प
  • मैक्रों ने रोगी पर अदालत के फैसले में हस्तक्षेप करने से किया इंकार
  • मैक्सिको में गोलीबारी में छह मरे
  • सुरक्षा परिषद ने रूसी अनुरोध को किया खारिज
  • एफिल टॉवर पर चढा व्यक्ति, पर्यटकों के लिए बंद
  • ईरान के साथ चर्चा करने का प्रयास की खबर झूठी :ट्रंप
India


राफेल मामला: पुनर्विचार याचिकाओं पर फैसला सुरक्षित

राफेल मामला: पुनर्विचार याचिकाओं पर फैसला सुरक्षित

नयी दिल्ली, 14 मार्च (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने राफेल लड़ाकू विमान खरीद मामले में दायर पुनर्विचार याचिकाओं पर गुरुवार को फैसला सुरक्षित रख लिया।
मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने लीक दस्तावेजों पर केंद्र के विशेषाधिकार के दावे पर आदेश सुरक्षित रख लिया।
केंद्र के सबसे बड़े विधि अधिकारी एटर्नी जनरल के. के. वेणुगोपाल ने राफेल लड़ाकू विमानों से संबंधित दस्तावेजों पर विशेषाधिकार का दावा किया तथा दलील दी कि भारतीय साक्ष्य अधिनियम की 123 के तहत इसे साक्ष्य के रूप में पेश नहीं किया जा सकता। उन्होंने दलील दी कि ये दस्तावेज सरकारी गोपनीयता कानून के तहत संरक्षित दस्तावेजों की श्रेणी में शामिल हैं और संबंधित विभाग की अनुमति के बगैर इन्हें पेश नहीं किया जा सकता।
श्री वेणुगोपाल ने कहा कि कोई भी राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े दस्तावेज प्रकाशित नहीं कर सकता, क्योंकि राष्ट्र की सुरक्षा सर्वोपरि है।
वहीं, वकील प्रशांत भूषण ने दलील दी कि राफेल के जिन दस्तावेजों पर एटर्नी जनरल विशेषाधिकार का दावा कर रहे हैं, वे प्रकाशित हो चुके हैं और सार्वजनिक दायरे में हैं। उन्होंने कहा कि सूचना के अधिकार कानून के प्रावधान कहते हैं कि जनहित अन्य चीजों से सर्वोपरि है और खुफिया एजेंसियों से संबंधित दस्तावेजों पर किसी प्रकार के विशेषाधिकार का दावा नहीं किया जा सकता।
श्री भूषण ने यह भी दलील कि राफेल सौदे में दोनों सरकारों के बीच कोई करार नहीं है क्योंकि इसमें फ्रांस ने कोई संप्रभू गारंटी नहीं दी है। उन्होंने कहा कि भारतीय प्रेस परिषद अधिनियम में पत्रकारों के सूत्रों के संरक्षण के भी प्रावधान हैं।
इसके बाद न्यायालय ने कहा कि वह केंद्र सरकार की प्रारंभिक आपत्ति पर फैसला करने के बाद ही मामले के तथ्यों पर विचार करेंगे।
पीठ राफेल सौदे के मामले में अपने फैसले पर पुनर्विचार के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्रियों यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी तथा श्री भूषण की ओर से दायर समीक्षा याचिकाओं पर सुनवाई कर रही है।
सुरेश.श्रवण
वार्ता

More News
रमानी आपराधिक मानहानि मामले में एम जे अकबर के साथ जिरह

रमानी आपराधिक मानहानि मामले में एम जे अकबर के साथ जिरह

20 May 2019 | 11:48 PM

नयी दिल्ली 20 मई (वार्ता) पूर्व विदेश राज्य मंत्री एम जे अकबर के साथ प्रिया रमानी आपराधिक मानहानि मामले में दिल्ली की एक आदलत में सोमवार को जिरह की गयी जिसमें उन्होंने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों का खंडन किया।

see more..
विवेक ओबेरॉय का ट्वीट मूर्खतापूर्ण एवं घिनौना: मालीवाल

विवेक ओबेरॉय का ट्वीट मूर्खतापूर्ण एवं घिनौना: मालीवाल

20 May 2019 | 10:23 PM

नयी दिल्ली 20 मई (वार्ता) दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने अभिनेत्री ऐश्वर्या राय बच्चन के जीवन पर आपत्तिजनक ट्वीट करने को लेकर बाॅलीवुड अभिनेता विवेक ओबेराॅय की कड़ी आलोचना करते हुए उनके ट्वीट को मूर्खतापूर्ण घिनौना करार दिया है।

see more..
मोदी के खिलाफ दायर याचिका पर अदालत 27 मई को करेगी सुनवाई

मोदी के खिलाफ दायर याचिका पर अदालत 27 मई को करेगी सुनवाई

20 May 2019 | 10:17 PM

नयी दिल्ली 20 मई (वार्ता) दिल्ली की एक अदालत ने बोफोर्स घोटाले को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर टिप्पणी करने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई सोमवार को 27 मई तक के लिए टाल दी।

see more..
नौसेना प्रमुख एडमिरल लाम्बा ने राष्ट्रपति से मुलाकात की

नौसेना प्रमुख एडमिरल लाम्बा ने राष्ट्रपति से मुलाकात की

20 May 2019 | 10:17 PM

नयी दिल्ली, 20 मई (वार्ता) इस माह के अंत में सेवानिवृत्त हो रहे नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लाम्बा ने तीनों सेनाओं के सर्वोच्च कमांडर एवं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से सोमवार को मुलाकात की।

see more..
चुनाव के दौरान राहुल ने की 158 चुनावी सभाएं

चुनाव के दौरान राहुल ने की 158 चुनावी सभाएं

20 May 2019 | 10:17 PM

नयी दिल्ली, 20 मई (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव के दौरान 158 चुनावी सभाएं और रोड शो करके मतदाताओं को लुभाने का प्रयास किया था।

see more..
image