Thursday, Sep 19 2019 | Time 06:05 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सऊदी क्राउन प्रिंस ने रिफाइनरी हमले की अंर्तराष्ट्रीय जांच की इच्छा जाहिर की
  • श्रीलंका में 16 नवंबर को होंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव
  • हौथी विद्रोहियों ने दुबई, अबू धाबी में दी हमले की धमकी
  • चुनाव नतीजे के कारण संयुक्त राष्ट्र महासभा में भाग नहीं लेंगे नेतन्याहू : रिपोर्ट
  • बंगलादेश ने रोहिंग्या संकट सुलझाने के लिए वैश्विक प्रयास की मांग की
  • खड्ड में गिरकर सगे भाइयों की हुई मौत
  • ट्रंप ने रोबर्ट ओ-ब्रायन को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नियुक्त किया
  • समर्थ सिंह बने यूपी की विजय हजारे टीम के कप्तान
भारत


एससी/एसटी कानून : केंद्र सरकार से जवाब तलब

एससी/एसटी कानून : केंद्र सरकार से जवाब तलब

नयी दिल्ली 07 सितम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति (एससी/एसटी) अत्याचार निवारण संशोधन कानून की संवैधानिक वैधता को चुनौती देने वाली याचिका की सुनवाई पर शुक्रवार को रजामंदी जता दी, हालांकि इसने फिलहाल कानून के अमल पर रोक लगाने से इन्कार कर दिया।

मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर और न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ की पीठ ने वकील पृथ्वी राज चौहान और प्रिया शर्मा की याचिका सुनवाई के लिए स्वीकार तो कर ली लेकिन संशोधन कानून के अमल पर स्थगनादेश जारी करने से इन्कार कर दिया।

न्यायमूर्ति मिश्रा ने कहा, “केंद्र सरकार का पक्ष जाने बिना कानून के अमल पर रोक लगाना मुनासिब नहीं होगा।” इसके साथ ही न्यायालय ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी करके छह सप्ताह के भीतर जवाबी हलफनामा दायर करने को कहा है।

उल्लेखनीय है कि शीर्ष अदालत ने गत 20 मार्च को दिये गए फैसले में एससी-एसटी कानून के दुरुपयोग पर चिंता जताते हुए धारा 18 के उन प्रावधानों को निरस्त कर दिया था, जिसके तहत आरोपी को तुरंत गिरफ्तार करने, तत्काल प्राथमिकी दर्ज करने और अग्रिम जमानत न देने की व्यवस्था की गयी थी।

न्यायालय ने इन प्रावधानों को निरस्त करते हुए कहा था कि एससी/एसटी अत्याचार निवारण कानून में शिकायत मिलने के बाद तुरंत मामला दर्ज नहीं होगा, पुलिस उपाधीक्षक या इस रैंक के अधिकारी पहले शिकायत की प्रारंभिक जांच करके पता लगाएगा कि मामला झूठा या दुर्भावना से प्रेरित तो नहीं है। इसके अलावा इस कानून में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद अभियुक्त को तुरंत गिरफ्तार नहीं किया जायेगा। सरकारी कर्मचारी की गिरफ्तारी से पहले सक्षम अधिकारी और सामान्य व्यक्ति की गिरफ्तारी से पहले एसएसपी की मंजूरी ली जायेगी। इतना ही नहीं न्यायालय ने अभियुक्त की अग्रिम जमानत का भी रास्ता खोल दिया था।

न्यायालय के इस फैसले का व्यापक राजनीतिक विरोध हुआ था और विभिन्न राजनीतिक दलों ने इससे कानून के कमजोर होने की बात कही थी। उसके बाद दो अप्रैल को देश भर में विरोध-प्रदर्शन और आंदोलन हुए थे।

केंद्र सरकार ने पुनरीक्षण याचिका दायर की थी, जो अब भी न्यायालय में लंबित है, लेकिन बाद में भारी राजनीतिक दबाव के बीच सरकार ने मानसून सत्र के दौरान संसद में संशोधन विधेयक पेश किया और दोनों सदनों में यह पारित भी हो गया। राष्ट्रपति की मोहर के बाद इसे अधिसूचित भी कर दिया गया है।

संशोधन कानून के तहत धारा 18ए जोड़कर न्यायालय द्वारा निरस्त किये गये प्रावधानों को फिर से बहाल करने की कवायद की गयी है ताकि कानून को मूल स्वरूप में लाया जा सके। इसी कवायद की वैधानिकता को याचिकाकर्ताओं ने चुनौती दी है।

सुरेश.श्रवण

वार्ता

More News
सिगरेट, पान मसाला पर भी प्रतिबंध लगाए सरकार : कांग्रेस

सिगरेट, पान मसाला पर भी प्रतिबंध लगाए सरकार : कांग्रेस

18 Sep 2019 | 11:44 PM

नयी दिल्ली ,18 सितंबर (वार्ता) कांग्रेस ने ई-सिगरेट के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने के सरकार के फैसले के बाद आज सवाल किया कि क्या वह ई-सिगरेट की तरह परंपरागत सिगरेट और पान मसाले की बिक्री पर भी रोक लगाएगी।

see more..
कोयला खनन, अनुबंधित विनिर्माण, एकल ब्रांड खुदरा में एफडीआई में ढील

कोयला खनन, अनुबंधित विनिर्माण, एकल ब्रांड खुदरा में एफडीआई में ढील

18 Sep 2019 | 11:44 PM

नयी दिल्ली 18 सितंबर (वार्ता) अर्थव्यवस्था की रफ्तार मंद पड़ने के बीच सरकार ने बुधवार के कोयला खनन, अनुबंधित विनिर्माण और एकल ब्रांड खुदरा कारोबार में विदेशी निवेश में ढील देते हुए प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) के प्रावधानों में बदलाव कर दिया।

see more..
एनआईए ने नये कानून के तहत मानव तस्करी का पहला मामला दर्ज किया

एनआईए ने नये कानून के तहत मानव तस्करी का पहला मामला दर्ज किया

18 Sep 2019 | 11:03 PM

नयी दिल्ली 18 सितम्बर (वार्ता) राष्ट्रीय जांच एजेन्सी (एनआईए) ने नया कानून अस्तित्व में आने के बाद मानव तस्करी का पहला मामला दर्ज किया है जिसमें तीन लोगों पर बंगलादेशी महिला को अवैध रूप से हैदराबाद में लाकर उसका यौन शोषण करने का आरोप लगाया गया है।

see more..
भारत ने मोदी के विमान के लिए हवाई क्षेत्र नहीं खोलने पर की पाकिस्तान की निंदा

भारत ने मोदी के विमान के लिए हवाई क्षेत्र नहीं खोलने पर की पाकिस्तान की निंदा

18 Sep 2019 | 11:44 PM

नयी दिल्ली 18 सितंबर (वार्ता) भारत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विमान को अमेरिका दौरा के लिए अपने हवाई क्षेत्र से गुजरने की इजाजत देने से इंकार करने को लेकर पाकिस्तान की कड़ी आलोचना की है।

see more..
उर्दू हिंदुस्तान की बेटी है उसकी खुशबू फैलनी चाहिए

उर्दू हिंदुस्तान की बेटी है उसकी खुशबू फैलनी चाहिए

18 Sep 2019 | 9:53 PM

नयी दिल्ली ,18 सितंबर (वार्ता) मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि उर्दू हिंदुस्तान की बेटी है और यही पली बढ़ी है उसकी मिठास और खुशबू कस्तूरी की तरह पूरी तरह दुनिया में फैले ।

see more..
image