Thursday, Oct 17 2019 | Time 08:23 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • फिलीपींस में भूकंप से मरने वालों की संख्या 5 हुई
  • इराक ने आईएस के कई आतंकवादी हिरासत में लिए
  • अमेरिकी सांसद तुर्की के खिलाफ प्रतिबंध लगाने पर प्रस्ताव पेश करेंगे
  • सऊदी अरब में सड़क हादसे में 35 की मौत
  • ईयू द्वारा अमेरिकी कंपनियों पर डिजिटल टैक्स से ट्रंप नाखुश
  • फिलीपींस में भूकंप से एक की मौत,कई घायल
  • भाजपा ने देश को कांग्रेस के चंगुल से बचाया : स्मृति ईरानी
  • सीरिया में सैन्य गठबंधन ने अपने सैन्य शिविर को नष्ट किया
भारत


कर्नाटक संकट: बागी विधायकों ने रमेश कुमार को फिर सौंपा इस्तीफा

नयी दिल्ली/बेंगलुरु 11 जुलाई (वार्ता) कर्नाटक में सत्तारूढ कांग्रेस-जनता दल (सेक्यूलर) गठबंधन के बागी दस विधायक ने गुरुवार तेजी से बदलते घटनाक्रम के दौरान विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार से मुलाकात कर उन्हें फिर से अपना इस्तीफा सौंपा।
इससे पहले, उच्चतम न्यायालय ने बागी विधायकों को आज शाम तक विधानसभा अध्यक्ष के सामने पेश होने और उनके इस्तीफे की पुष्टि करने का निर्देश दिया था। यदि इस्तीफा स्वीकार किए जाते है तो सत्तारूढ एच.डी. कुमारस्वामी की सरकार अल्पमत में आ जायेगी।
न्यायालय ने विधानसभा अध्यक्ष को गुरुवार रात तक इस्तीफे के बारे में बताने का निर्देश दिया। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता और अनिरुद्ध बोस की खंडपीठ शुक्रवार को मामले की अगली सुनवाई करेगी।
शीर्ष अदालत ने इस्तीफे पर फैसला करने के लिए अध्यक्ष की ओर से निर्धारित मध्य रात्रि की समय सीमा को बढ़ाने के लिए के आवेदन पर तत्काल सुनवाई करने से इन्कार कर दिया।
उनकी इस याचिका में अध्यक्ष ने इस्तीफे की जांच करने के लिए और समय देने के लिए उच्चतम न्यायालय से गुहार लगाई। जिससे यह तय किया जा सके कि ये इस्तीफे जोर जबर्दस्ती दिये गये या स्वैच्छिक रूप से।
बागी विधायकों ने शीर्ष अदालत से गुहार लगाई थी कि श्री रमेश कुमार कांग्रेस-जद (एस) सरकार को बचाने के लिए उनके इस्तीफे को स्वीकार नहीं कर रहे है।
सांसदों को प्रतिनिधत्व करते हुए पूर्व अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने विधानसभा अध्यक्ष पर पक्षपातपूर्ण राजनीति का आरोप लगाया। कांग्रेस-जद (एस) के विधायकों के इस्तीफे के मामले ने 13 महीने पुरानी कुमारस्वामी सरकार को अल्पमत में ला खड़ा किया है।
कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने श्री रमेश कुमार को संविधान के दसवीं अनुसूची के तहत अपने आठ बागी विधायकों को अयोग्य ठहराने की मांग की है। इससे पहले कांग्रेस ने केवल दो विधायकों रमेश जरकिहोली और महेश कुमातल्ली को अयोग्य ठहराने के लिए याचिका दायर की थी। जनता दल (एस) ने विधानसभा अध्यक्ष को उसके तीन बागी विधायकों को अयोग्य ठहराने के लिए याचिका दी थी।
श्री कुमारस्वामी की अध्यक्षता में राज्य मंत्रिमंडल ने इस्तीफे से उत्पन्न स्थिति का जायजा लेने के लिए आज बैठक की। उन्होंने कहा उन्हें विश्वास है कि उनकी सरकार बच जाएगी। मंत्रिमंडल ने कहा कि अगर विपक्षी भारतीय जनता पार्टी यह चाहती है तो गठबंधन अविश्वास प्रस्ताव का सामना करने के लिए तैयार है।
संसद भवन परिसर में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास नारेबाजी करते हुए सोनिया गांधी, राहुल गांधी और आनंद शर्मा सहित कांग्रेस के कई शीर्ष नेताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, राष्ट्रीय जनता दल और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के सांसदों ने संसद भवन में विरोध प्रदर्शन करते हुए भाजपा पर आरोप लगाया कि कर्नाटक और गोवा का राजनीतिक संकट लोकतंत्र के लिए खतरा है।
उप्रेती राम
वार्ता
More News
कांग्रेस के कर्नाटक से रास सदस्य राममूर्ति का इस्तीफा

कांग्रेस के कर्नाटक से रास सदस्य राममूर्ति का इस्तीफा

16 Oct 2019 | 10:30 PM

नयी दिल्ली/बेंगलुरू, 16 अक्टूबर (वार्ता) कांग्रेस के कर्नाटक से राज्यसभा सांसद के सी राममूर्ति ने पार्टी में समस्याओं के समाधान के लिए बदलाव नहीं लाने का आरोप लगाते हुए बुधवार को उच्च सदन से इस्तीफा दे दिया।

see more..
संसद का शीतकालीन सत्र 18 नवम्बर से शुरू होने की संभावना

संसद का शीतकालीन सत्र 18 नवम्बर से शुरू होने की संभावना

16 Oct 2019 | 10:13 PM

नयी दिल्ली, 16 अक्टूबर (वार्ता) संसद का शीतकालीन सत्र अगले महीने की 18 तारीख से शुरू होकर दिसंबर के तीसरे सप्ताह चक चलने की संभावना है।

see more..
मंदी पर सरकार ने नहीं सुनी अभिजीत बनर्जी की बात  : चिदम्बरम

मंदी पर सरकार ने नहीं सुनी अभिजीत बनर्जी की बात : चिदम्बरम

16 Oct 2019 | 9:46 PM

नयी दिल्ली, 16 अक्टूबर (वार्ता) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तथा पूर्व वित्त मंत्री पी चिदम्बरम ने बुधवार को कहा कि नोबेल पुरस्कार से सम्मानित अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी ने जब आर्थिक मंदी के प्रति आगाह किया था तो सरकार में किसी ने उनकी बात ही नहीं सुनी।

see more..
जस्टिस मिश्रा को सुनवाई से अलग करने की अर्जी पर बुधवार को फैसला

जस्टिस मिश्रा को सुनवाई से अलग करने की अर्जी पर बुधवार को फैसला

16 Oct 2019 | 9:29 PM

नयी दिल्ली, 16 अक्टूबर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय भूमि अधिग्रहण कानून में मुआवजे से संबंधित प्रावधानों की वैधता की सुनवाई करने वाली संविधान पीठ से न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा को अलग करने के अनुरोध पर अगले बुधवार को आदेश सुनायेगा।

see more..
अयोध्या विवाद: सुनवाई पूरी, फैसला सुरक्षित

अयोध्या विवाद: सुनवाई पूरी, फैसला सुरक्षित

16 Oct 2019 | 8:40 PM

नई दिल्ली, 16 अक्टूबर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद में बुधवार को फैसला सुरक्षित रख लिया।

see more..
image