Monday, Feb 18 2019 | Time 17:50 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • प्रियंका 21 फरवरी से प्रयागराज और वाराणसी दौरे पर
  • --
  • आतंकवादियों के खात्मे में सफल हो रहे हैं सुरक्षा बल : राजनाथ
  • आरसीए ने भी पाकिस्तानी खिलाड़ियों की तस्वीरें हटायीं
  • 14 फरवरी देश के लिए काला दिन : सानिया
  • वर्ष 2031 तक 30 करोड़ टन इस्पात उत्पादन का लक्ष्य : बीरेन्द्र सिंह
  • चेन्नई सर्राफा के भाव
  • जिसों में टिकाव
  • वंदे भारत एक्सप्रेस के आधुनिक तकनीक वाले कोच बनायेगा एमसीएफ
  • रुपया 13 पैसे लुढ़का
  • लखनऊ से माल कस्बा शादी में गये व्यक्ति की धारदार हथियार से हत्या
  • टीम फोर्स ने जीता टीडीएस क्वींस आॅफ नार्थ इंडिया खिताब
  • शिक्षा के व्यवसायीकरण के खिलाफ रैली
  • नई दिल्ली मैराथन में चमक बिखेरेंगे धोनी, रशपाल, मोनिका और ज्योति
  • छत्तीसगढ़ के तीन शहरों से विमान सेवा शुरू करने की अनुमति- भूपेश
लोकरुचि Share

साइबेरियन पंक्षियों के कलरव से गुंजायमान है सोहेलवा वन्यजीव क्षेत्र

साइबेरियन पंक्षियों के कलरव से गुंजायमान है सोहेलवा वन्यजीव क्षेत्र

बलरामपुर एक दिसम्बर (वार्ता) शरद ऋतु के आगमन के साथ उत्तर प्रदेश में बलरामपुर जिले का सोहेलवा वन्य जीव संरक्षित क्षेत्र विदेशी मनमोहक मेहमान पंक्षियों के कलरव से गुंजायमान है।

वन विभाग के सूत्रों ने शनिवार को बताया कि पंक्षी बिहार में साइबेरिया,अफगानिस्तान समेत अन्य दूरदराज के देशों से आये रंग बिरंगे विदेशी पक्षी चहचहाहट और मनमोहक अटखेलियों से पर्यटकों को खूब लुभा रहे है। शरद ऋतु की शुरुआत से ही साइबेरिया मे जबरदस्त बर्फबारी से पंक्षियों को भोज्य पदार्थ का अकाल पड़ने लगता है जिसके चलते साइबेरियन पक्षी हजारों मील का सफर तय कर भोजन की तलाश मे यहां आते है। चार महीने के प्रवास के बाद मार्च मे बसंत ऋतु के आगमन के साथ ही वे गंतव्य स्थान पर वापस लौट जाते है।

उन्होने बताया कि करीब चार महीनों के इन दुर्लभ मेहमानों के यहां प्रवास करने से पर्यटकों से पंक्षी बिहार हरा भरा रहता है जिसका सीधा लाभ वन विभाग को होता है। इन दिनों दुर्लभ जाति व प्रजातियों के पण्कौआ ,पिहो ,जांघिल ,ड्बारु ,तिवारी ,नीलसर ,लालसर ,सीकपर ,पिंटेल ,सलही ,बारंकटा ,बगुला ,मैना, तोता ,सारस ,मोर और अन्य सुरीले पक्षियों ने पक्षी बिहार की हवाओं को भी संगीतमय सुरीली बना दिया है।

अफगानिस्तान से आये हाईबैक्टेल ने पर्यटको को अपनी मृदु वाणी के वश मे कर कैद कर रखा है। लुभावने विदेशी पक्षी लौटते समय प्रजनन भी करते है। पक्षियों के संग वन क्षेत्र मे पाये जाने वाले दुर्लभ सर्प ,वन्यजीव भी पर्यटकों को दिलखुश हरकतों से लुभा रहे है।

सूत्रों के अनुसार ,नेपाल ,दिल्ली व अन्य कई स्थानों पर फैले बर्ड फ्लू के कारण विदेशी पक्षियों में वायरस की आशंका को देखते हुये फिलहाल पर्यटकों को दूर से ही पक्षियों को निहारने की सलाह दी जा रही है। बहेलियो और शिकारियों की टेढ़ी नज़र से पक्षियों को बचाये रखने के लिये वनरक्षकों को सतर्क कर दिया गया है।

सं प्रदीप

वार्ता

More News
राजधानी पटना में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त राकबैंड करेंगे परफाॅर्म

राजधानी पटना में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त राकबैंड करेंगे परफाॅर्म

12 Feb 2019 | 10:47 AM

पटना 12 फरवरी (वार्ता) राजधानी पटना में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के रॉकबैंड पाटिलीपुत्रा ओपन एयर तले परफाॅर्म करने जा रहे हैं।

 Sharesee more..
आकर्षक तरीके से दे रही है टीकाकरण कराने संदेश

आकर्षक तरीके से दे रही है टीकाकरण कराने संदेश

12 Feb 2019 | 10:08 AM

बड़वानी, 12 फरवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के बड़वानी से कुछ दूर बड़वानी खुर्द की ए एन एम चंद्रलता सोलंकी निराले अंदाज में टीकाकरण का संदेश देकर आकर्षण का केंद्र बिंदु बनी हुई है।

 Sharesee more..
औरंगाबाद में देव सूर्य महोत्सव का आयोजन कल से

औरंगाबाद में देव सूर्य महोत्सव का आयोजन कल से

11 Feb 2019 | 4:44 PM

औरंगाबाद 11 फरवरी (वार्ता) बिहार में औरंगाबाद जिले के ऐतिहासिक पौराणिक और धार्मिक स्थल देव को पर्यटन के राष्ट्रीय मानचित्र पर सुस्थापित करने तथा देसी-विदेशी सैलानियों को आकर्षित करने के उद्देश्य से दो दिवसीय देव सूर्य महोत्सव का आयोजन कल से शुरू होगा।

 Sharesee more..
तितलियों ने चंबल घाटी में बिखेरी इंद्रधनुषी छटा

तितलियों ने चंबल घाटी में बिखेरी इंद्रधनुषी छटा

05 Feb 2019 | 4:43 PM

इटावा, 05 फरवरी (वार्ता) शहरीकरण की अंधाधुंध रफ्तार के बीच लगभग गायब हो चुकी रंग बिरंगी तितलियों ने चंबल घाटी को सतरंगी बना रखा है।

 Sharesee more..
image