Friday, Apr 26 2019 | Time 17:25 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • विमानवाहक पोत विक्रमादित्य में आग , नौसेना अधिकारी की मौत
  • दस सप्ताह में पहली बार घटा विदेशी मुद्रा भंडार
  • पुलवामा हमले को लेकर एच डी कुमारस्वामी पर आपराधिक मामला
  • विदेशी मुद्रा भंडार 73 92 करोड़ डॉलर घटा
  • माउंट अन्नपूर्णा में फंसे मलेशियाई पर्वतारोही सुरक्षित
  • येद्दियुरप्पा ने चुनाव आयोग से मांगा स्पष्टीकरण
  • हैम्पशायर के लिये जून में काउंटी खेलेंगे रहाणे
  • लोगों पर से उतर गया चाय का नशा,संभल कर करें वाेटिंग: अखिलेश
  • सायना और समीर क्वार्टरफाइनल में हारे
  • सायना और समीर क्वार्टरफाइनल में हारे
  • अकाली नेता अनिल चोपड़ा कांग्रेस में शामिल
  • नायडू ने सीईओ की चुनाव आयोग से की शिकायत
  • अमित और पूजा ने एशियाई चैंपियनशिप में जीते स्वर्ण
  • अमित और पूजा ने एशियाई चैंपियनशिप में जीते स्वर्ण
विशेष » कुम्भ


वसंत पंचमी पर नागा साधुओं ने लगायी संगम में आस्था की डुबकी

वसंत पंचमी पर नागा साधुओं ने लगायी संगम में आस्था की डुबकी

कुंभ नगर, 10 फरवरी (वार्ता) आस्था के कुंभ में हाथों में तलवार और त्रिशूल और होठों पर हर-हर महादेव के नारे लगाते भस्म से आच्छादित नागा साधुओं ने वसंत पंचमी पर्व पर रविवार को यहां पतित पावनी गंगा, श्यामल यमुना और अन्त:सलिला सरस्वती की त्रिवेणी में आस्था की डुबकी लगाई।

वसंत पंचमी पर सनातन धर्म का ध्वज चारों ओर फहर रहा था। अखाड़ों के संतों के साथ त्रिवेणी में आस्था का गोता लगाकर श्रद्धालु खुद को धन्य महसूस कर रहे थे। पवित्र संगम में ऐसा दिव्य और भव्य कुंभ शायद पहले नहीं देखा गया था। बाल सुलभ क्रीड़ा करते नागा साधुओं के अविस्मरणीय स्नान के दृश्य को दूर खड़े श्रद्धालु निहारते हुये अपनी नजरों में समाहित कर लेना चाह रहे थे।

संगम पर त्रिवेणी स्नान के बाद बाहर निकल कर गीले शरीर पर नागा संन्यासी भस्म लपेट रहे थे। सैकड़ों कैमरे उनकी गतिविधियों को कैद कर रहे थे। भीड़ में नागा संन्यासियों का श्रद्धालुओं ने दौड़कर पैर छूने का प्रयास किया जिसका उन्होंने गुस्से से विरोध किया जबकि कुछ ने श्रद्धालुओं को अपने पास आने दिया।

संगम तट पर स्नान के दौरान कुछ ऐसा ही दृश्य दिखाई दिया। शैव अखाड़ों के नागा साधुओं का जोश और उत्साह, हाथों में पकड़े दंड वहां मौजूद श्रद्धालुओं को भक्ति भाव से भर रहा था। जैसे ही नागा सन्यासियों की फौज संगम क्षेत्र में पहुंची, दोनों छोरों पर मौजूद श्रद्धालु उनकी एक झलक पाने के लिए लालायित हो गए।

सबसे पहले महानिर्वाणी और अटल अखाड़े के नागाओं ने संगम में स्नान करने से पहले नदियों को प्रणाम किया। गंगा की गोद में अठखेलियां करने के बाद बाहर निकल कर शरीर पर भस्म लगाया और इसके बाद अपने शिविर की ओर कूच कर गये। भस्म शायद कड़कड़ाती ठंड को नियंत्रित करने में सहायक होती है लेकिन कुछ नागा संन्यासी आस्था का गोता लगाने के बाद बाहर निकलने पर ठंड से कांप रहे थे।

संगम पर नागा संन्यासियों के स्नान का यह नजारा काफी देर तक दिखाई दिया। लोगों में इस बात की होड़ थी कि कैसे नागा संन्यासियों के स्नान के ठीक बाद पवित्र त्रिवेणी में स्नान कर वे भी पुण्य का लाभ ले सकें।

दिनेश विश्वजीत

वार्ता

More News
कुम्भ ने दुनिया को कराया भारतीय संस्कृति की विविधता का अहसास :राणा

कुम्भ ने दुनिया को कराया भारतीय संस्कृति की विविधता का अहसास :राणा

04 Mar 2019 | 9:55 PM

कुम्भ,04 मार्च (वार्ता) उत्तर प्रदेश के गन्ना विकास एवं चीनी मिल मंत्री सुरेश राणा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देशन तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल नेतृत्व का बखान करते हुए कहा कि पूरे विश्व ने कुम्भ की प्राचीन मान्यता, आध्यात्मिकता, लौकिकता, आपसी सद्भाव को स्वीकार किया।

see more..
कुम्भ की आभा बेमिसाल : फडणवीस

कुम्भ की आभा बेमिसाल : फडणवीस

04 Mar 2019 | 9:55 PM

कुम्भनगर,04 मार्च (वार्ता) महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक और सांस्कृतिक समागम कुम्भ की जितनी प्रशंसा की जाए,वह कम है।

see more..
महाशिवरात्रि स्नान पर एक करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने लगाई संगम में आस्था की डुबकी

महाशिवरात्रि स्नान पर एक करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने लगाई संगम में आस्था की डुबकी

04 Mar 2019 | 8:55 PM

कुम्भनगर, 04 मार्च (वार्ता) सम्पूर्ण विश्व में अपनी अमिट छाप छोड़ने वाले कुम्भ के आखिरी दिन महाशिवरात्रि के पर्व पर एक करोड़ 10 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने पतित पावनी गंगा, श्यामल यमुना और अन्त: सलिला स्वरूप में प्रवाहित हो रही सरस्वती में आस्था की डुबकी लगाई।

see more..
आध्यात्म,वैराग्य और ज्ञान की ऊर्जा सतत प्रवाहित होती है संगम की रेत में

आध्यात्म,वैराग्य और ज्ञान की ऊर्जा सतत प्रवाहित होती है संगम की रेत में

04 Mar 2019 | 6:04 PM

कुम्भनगर, 04 मार्च (वार्ता) पतित पावनी गंगा, श्यामल यमुना और अन्त: सलीला स्वरूप में प्रवाहित सरस्वती के त्रिवेणी की विस्तीर्ण रेती वैराग्य, ज्ञान और आध्यात्मिक शक्ति से ओतप्रोत है।

see more..
महाशिवरात्रि से पहले संगम पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

महाशिवरात्रि से पहले संगम पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

03 Mar 2019 | 2:35 PM

कुंभनगर, 03 मार्च (वार्ता) दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक और सांस्कृतिक समागम कुंभ के छठे और आखिरी स्नान पर्व महाशिवरात्रि से एक दिन पहले रविवार को एक बार फिर दूर-दराज से भक्तों का रेला संगम पर आस्था के समंदर में बूंदा-बांदी को धता बताकर हिलोरें ले रहा है।

see more..
image