Monday, Sep 24 2018 | Time 07:26 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मैक्रों की लोकप्रियता में आैर गिरावट : सर्वे
  • स्विट्जरलैंड के दूसरे प्रांत में भी बुर्का पर लगा प्रतिबंध
  • अपहृत नौका चालक दल के सदस्यों की हुई पहचान
  • मालदीव के राष्ट्रपति चुनाव में विपक्षी उम्मीदवार सोलिह जीते
  • मालदीव राष्ट्रपति चुनाव में विपक्षी उम्मीदवार की जीत
  • गब्बर और हिटमैन ने पाकिस्तान को धो डाला, भारत फाइनल में
  • अफगानिस्तान बाहर, बंगलादेश-पाकिस्तान में होगा सेमीफाइनल
  • कांगो में विद्रोहियों के हमले में 14 नागरिक मारे गये
  • हिमाचल में सड़क हादसों में छह की मौत,38 घायल
  • भाजपा के शीर्ष नेताओं में पर्रिकर से इस्तीफा मांगने का साहस नहीं : कांग्रेस
India Share

सेना में डेढ लाख नौकरियां घटाना चिंता का विषय : कांग्रेस

सेना में डेढ लाख नौकरियां घटाना चिंता का विषय : कांग्रेस

नयी दिल्ली, 12 सितम्बर (वार्ता) कांग्रेस ने सेना में 1.50 लाख नौकरियां कम करने संबंधी खबरों को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए चिंता का विषय बताया और सवाल किया कि अपने प्रचार तथा विदेश यात्राओं पर करोड़ों रुपए खर्च करने वाली मोदी सरकार सेना की मजबूती के लिए पर्याप्त निधि उपलब्ध क्यों नहीं कराती है।
कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने बुधवार को यहां पार्टी की नियमित प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि सरकार को मीडिया की इन खबरों की असलियत सबके सामने रखनी चाहिए और स्पष्ट करना चाहिए कि रक्षा मंत्रालय ने क्या सही में सेना में डेढ लाख नौकरियों को कम करने का प्रस्ताव किया है। खबरों में यह भी कहा गया है कि इस कटौती से बचने वाले पांच-सात हजार करोड़ रुपए का इस्तेमाल सरकार सेना के आधुनिकीकरण और उसके लिए नये और उन्नत हथियारों की खरीद पर करना चाहती है।
उन्होंने कहा यदि यह खबर सही है तो उसे बताना चाहिए कि दो करोड़ नौकरियां हर साल देने का वादा करने वाली भाजपा सरकार देश में नौकरियों के अवसर घटाने का काम क्यों कर रही है। उन्होंने कहा कि यह देश की सुरक्षा के लिए चिंता का विषय है।
प्रवक्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगर अपनी सरकार के प्रचार प्रसार पर साढे चार साल में 500 करोड़ रुपए, भाजपा मुख्यालय चमकाने पर 1100 करोड़ रुपए तथा अपनी विदेश यात्राओं पर दो हजार करोड रुपए खर्च कर सकती है तो फिर यह सरकार सेना को पर्याप्त बजट क्यों नही दे सकती है।
उन्होंने कहा कि सेना के जवान और अर्द्धसैनिक बलों के जवान हर दिन देश के लिए कुर्बानी दे रहे हैं। वर्ष 2014 से जम्मू कश्मीर में 410 जवान अपना बलिदान दे चुके हैं और 243 जवान 2015 से नक्सली हमले में शहीद हुए हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार देश की सुरक्षा से समझौता कर रही है।
अभिनव संजीव
वार्ता

More News
महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर ‘मुशायरा’

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर ‘मुशायरा’

23 Sep 2018 | 9:27 PM

नयी दिल्ली, 23 सितम्बर (वार्ता) केंद्र सरकार राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर देशभर में मुशायरों का आयोजन करेगी और इसके जरिए बापू का संदेश जन जन तक पहुंचाया जाएगा।

 Sharesee more..
राहुल और ओलांद के बयानों में तारतम्य की कोई वजह जरूर है: जेटली

राहुल और ओलांद के बयानों में तारतम्य की कोई वजह जरूर है: जेटली

23 Sep 2018 | 8:37 PM

नयी दिल्ली, 23 सितम्बर (वार्ता) राफेल सौदे में रिलायंस को लाभ पहुंचाने के आरोपों से घिरी मोदी सरकार के बचाव में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने रविवार को फिर मोर्चा संभाला और कहा कि राफेल को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तथा फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बयानों में जो तारतम्य है, उसे देखते हुए लगता है कि दोनों बयानों के बीच जरूर कोई न कोई संबंध है।

 Sharesee more..
केजरीवाल की अमित शाह को बहस की चुनौती

केजरीवाल की अमित शाह को बहस की चुनौती

23 Sep 2018 | 8:09 PM

नयी दिल्ली, 23 सितम्बर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह के दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर काम नहीं करने और इससे दिल्ली की जनता के नाराज होने संबंधी बयान पर श्री केजरीवाल ने भाजपा अध्यक्ष को खुले मैदान में बहस करने की चुनौती दी है।

 Sharesee more..
भूटान भारत के परिवार का हिस्सा रहा है: वेंकैया

भूटान भारत के परिवार का हिस्सा रहा है: वेंकैया

23 Sep 2018 | 7:08 PM

नयी दिल्ली, 23 सितम्बर (वार्ता) उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा है कि भारत भूटान को अपने परिवार का ही हिस्सा मानता है और वहां की संस्कृति ने भारतीयों को हमेशा आकर्षित किया है।

 Sharesee more..
image