Monday, Nov 12 2018 | Time 23:38 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • द्रौपदी और रघुवर ने केंद्रीय मंत्री के निधन पर जताया शोक
  • मोदी ने पूर्वांचल वासियों को दी छठ पर्व पर हार्दिक बधाई
  • ‘न्यू इंडिया का नया विजन’ का प्रतिक वाराणसी का विकास : मोदी
  • कार की चपेट में आने से वृद्धा की मौत
  • उप्र के प्राणि उद्यानों को देश का अग्रणी बनाने के लिए सरकार प्रयासरत:चौहान
  • लालजी टंडन ने बिहारवासियों को दी छठ की बधाई
  • प्रसाद ने अनंत कुमार के निधन पर व्यक्त किया शोक
  • हॉकी विश्व कप की चमचमाती ट्रॉफी का अनावरण
  • हॉकी विश्व कप की चमचमाती ट्रॉफी का अनावरण
  • चुनाव आयोग ने नई वेबसाइट का किया शुभारंभ
  • आपत्तिजनक पोस्ट हटाने के लिए तंत्र बनाये ट्विटर: गृह सचिव
  • जूनियर प्रो कबड्डी के नाम पर 150 बच्चों से साइबर ठगी
  • जूनियर प्रो कबड्डी के नाम पर 150 बच्चों से साइबर ठगी
  • पंचायत चुनाव के आठवें चरण के लिए अधिसूचना जारी
  • सहकारी चीनी मिलों के आधुनिकीकरण के लिए 100 करोड़ के प्रस्ताव को हरी झंडी
India Share

सेना में डेढ लाख नौकरियां घटाना चिंता का विषय : कांग्रेस

सेना में डेढ लाख नौकरियां घटाना चिंता का विषय : कांग्रेस

नयी दिल्ली, 12 सितम्बर (वार्ता) कांग्रेस ने सेना में 1.50 लाख नौकरियां कम करने संबंधी खबरों को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए चिंता का विषय बताया और सवाल किया कि अपने प्रचार तथा विदेश यात्राओं पर करोड़ों रुपए खर्च करने वाली मोदी सरकार सेना की मजबूती के लिए पर्याप्त निधि उपलब्ध क्यों नहीं कराती है।
कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने बुधवार को यहां पार्टी की नियमित प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि सरकार को मीडिया की इन खबरों की असलियत सबके सामने रखनी चाहिए और स्पष्ट करना चाहिए कि रक्षा मंत्रालय ने क्या सही में सेना में डेढ लाख नौकरियों को कम करने का प्रस्ताव किया है। खबरों में यह भी कहा गया है कि इस कटौती से बचने वाले पांच-सात हजार करोड़ रुपए का इस्तेमाल सरकार सेना के आधुनिकीकरण और उसके लिए नये और उन्नत हथियारों की खरीद पर करना चाहती है।
उन्होंने कहा यदि यह खबर सही है तो उसे बताना चाहिए कि दो करोड़ नौकरियां हर साल देने का वादा करने वाली भाजपा सरकार देश में नौकरियों के अवसर घटाने का काम क्यों कर रही है। उन्होंने कहा कि यह देश की सुरक्षा के लिए चिंता का विषय है।
प्रवक्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगर अपनी सरकार के प्रचार प्रसार पर साढे चार साल में 500 करोड़ रुपए, भाजपा मुख्यालय चमकाने पर 1100 करोड़ रुपए तथा अपनी विदेश यात्राओं पर दो हजार करोड रुपए खर्च कर सकती है तो फिर यह सरकार सेना को पर्याप्त बजट क्यों नही दे सकती है।
उन्होंने कहा कि सेना के जवान और अर्द्धसैनिक बलों के जवान हर दिन देश के लिए कुर्बानी दे रहे हैं। वर्ष 2014 से जम्मू कश्मीर में 410 जवान अपना बलिदान दे चुके हैं और 243 जवान 2015 से नक्सली हमले में शहीद हुए हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार देश की सुरक्षा से समझौता कर रही है।
अभिनव संजीव
वार्ता

More News
सीएसआर के तहत एक हजार करोड़ के कार्य करवाने का लक्ष्य: मनोहर

सीएसआर के तहत एक हजार करोड़ के कार्य करवाने का लक्ष्य: मनोहर

12 Nov 2018 | 10:46 PM

नयी दिल्ली / गुरूग्राम 12 नवंबर (वार्ता) हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने उद्योग जगत से आहवान किया है कि वे सरकार के प्रयासों में भागीदारी करते हुए विकास कार्यों को त्याग समर्पण की भावना से आगे बढायें और स्वेच्छा से अपनी कमाई का 10 वां हिस्सा सार्वजनिक कार्यो में लगाने की भारतीय इतिहास की परंपरा को बनाए रखें।

 Sharesee more..
अयोध्या विवाद: त्वरित सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट का इन्कार

अयोध्या विवाद: त्वरित सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट का इन्कार

12 Nov 2018 | 9:52 PM

नयी दिल्ली, 12 नवम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले की त्वरित सुनवाई की याचिका सोमवार को ठुकरा दी।

 Sharesee more..
धारा 375 के खिलाफ याचिका की सुनवाई से इन्कार

धारा 375 के खिलाफ याचिका की सुनवाई से इन्कार

12 Nov 2018 | 9:45 PM

नयी दिल्ली, 12 नवम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने लिंग निरपेक्षता के आधार पर बलात्कार के अपराध से संबंधित भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 375 की संवैधानिक वैधता को चुनौती देने वाली याचिका पर विचार करने से इन्कार कर दिया है।

 Sharesee more..
चुनाव आयोग ने नई वेबसाइट का किया शुभारंभ

चुनाव आयोग ने नई वेबसाइट का किया शुभारंभ

12 Nov 2018 | 10:19 PM

नयी दिल्ली 12 नवंबर (वार्ता) चुनाव आयोग ने सोमवार को अपनी नई वेबसाइट की शुरुआत की जो उपयोगकर्ताओं के लिए बेहद सरल और सुगम होगी।

 Sharesee more..
सुरक्षा आयामों को समन्वित करने की जरूरत: कोविंद

सुरक्षा आयामों को समन्वित करने की जरूरत: कोविंद

12 Nov 2018 | 9:38 PM

नयी दिल्ली, 12 नवम्बर (वार्ता) राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने बदलती वैश्विक परिस्थितियों के परिप्रेक्ष्य में देश में सुरक्षा के विभिन्न पहलुओं को समन्वित करने की आवश्यकता जतायी है।

 Sharesee more..
image