Sunday, Feb 17 2019 | Time 17:02 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तुर्की ने चार विदेशी संदिग्धों को हिरासत में लिया
  • मुरादाबाद- कश्मीरी छात्रों के बारे में छानबीन जारी
  • सरकारी चिकित्सा महाविद्यालयों में शिक्षकों के 153 पद भरने के लिए मंत्रिमंडल की स्वीकृति
  • शाह सोमवार को जयपुर आयेंगे
  • संजय तोमर और श्री सीमा बने ‘मैक्स लाइफ इंश्योरेंस - द रन’ के चैंपियन
  • पुल की रेलिंग तोड़ गहरे नाले में गिरी बस, तीन की मौत पचास घायल
  • पुलवामा हमले के दोषियों को बख्शा नहीं जायेगा: नकवी
  • सुरक्षा हमारे लिए कोई मसला नहीं : मीरवाइज
  • पंजाब कांग्रेस भवन में पुलवामा के शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि
  • विश्वेन्द्र ने शहीद के परिजनों को बंधाया ढांढस
  • नारायणस्वामी का धरना पांचवे दिन भी जारी रहा
  • देवरिया में शहीद विजय के घर कल जायेंगे योगी
  • फोटो कैप्शन-पहला सेट
  • मोदी ने ईमानदारी से चलायी है पांच साल सरकार: नकवी
  • चीन में मकान ढहने से तीन लोगों की मौत, 14 घायल
खेल Share

इस बार पोडियम फिनिश का लक्ष्य: रानी रामपाल

इस बार पोडियम फिनिश का लक्ष्य: रानी रामपाल

जकार्ता,17 अगस्त (वार्ता) भारतीय महिला हॉकी टीम शनिवार से शुरू होने जा रहे 18वें एशियन खेलों में सबसे ऊंची रैंकिंग के रूतबे के साथ उतर रही है लेकिन कप्तान रानी रामपाल का मानना है कि स्वर्ण तक पहुंचना एक बड़ी चुनौती होगी और उनकी टीम इस बार हर हाल में पोडियम तक पहुंचने का प्रयास करेगी।

कप्तान रानी ने भरोसा जताया है कि उनकी टीम एशियाड में पोडियम फिनिश के लिये पूरी कोशिश करेगी। उन्होंने कहा,“ हमें यकीन है कि यदि हम स्वर्ण पाते हैं तो 2020 टोक्यो ओलंपिक में सीधे प्रवेश पा सकते हैं। लेकिन इन खेलों में स्वर्ण जीतना आसानी नहीं है। हालांकि यदि हमें सीधे प्रवेश मिलता है तो हम आगे ओलंपिक की तैयारी अच्छे से कर सकते हैं।”

एशियाड में महिला हॉकी ने 1982 दिल्ली खेलों से पदार्पण किया है और पिछले नौ संस्करणों में भारत के पास केवल एक स्वर्ण, एक रजत और तीन कांस्य हैं जबकि वह चार बार चौथे स्थान पर रहा है। इंचियोन एशियाई खेलों में भारत को कांस्य पदक मिला था। भारत ने आखिरी बार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलों में वर्ष 2002 राष्ट्रमंडल खेलों में महिला हॉकी का स्वर्ण जीता था।

वर्ष 2018 अप्रैल में भारतीय महिलाएं गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में कांस्य पदक मैच में इंग्लैंड से हारकर कांस्य से चूक गयी थीं। रानी ने कहा,“ हमने एफआईएच महिला विश्वकप में अच्छा प्रदर्शन किया है और उसी लय को बरकरार रखते हुये एशियाड में और बेहतर खेल दिखाएंगे।”

 

image