Monday, Sep 24 2018 | Time 03:07 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मालदीव राष्ट्रपति चुनाव में विपक्षी उम्मीदवार की जीत
  • गब्बर और हिटमैन ने पाकिस्तान को धो डाला, भारत फाइनल में
  • अफगानिस्तान बाहर, बंगलादेश-पाकिस्तान में होगा सेमीफाइनल
  • कांगो में विद्रोहियों के हमले में 14 नागरिक मारे गये
  • हिमाचल में सड़क हादसों में छह की मौत,38 घायल
  • भाजपा के शीर्ष नेताओं में पर्रिकर से इस्तीफा मांगने का साहस नहीं : कांग्रेस
दुनिया Share

जिम्बाब्वे चुनाव में तीन की मौत

जिम्बाब्वे चुनाव में तीन की मौत

हरारे 02 अगस्त (रायटर) जिम्बाब्वे में सोमवार को राष्ट्रपति चुनाव में सत्तारुढ दल की ओर से धांधाली का आराेप लगाते हुए हरारे में बुधवार को प्रदर्शन कर रहे पथराव कर रही भीड़ को तितिर-बितर करने के लिए पुलिस को गोलियां चलानी पड़ी जिसमें तीन लोग मारे गये।

सैनिकों की तैनाती और हथियार रहित प्रदर्शनकारियों के मरने से राष्ट्रपति एम्मरसन मनगागवा को गहरा धटका लगा है। दशकों के दमन के बाद गत नवंबर में एक विद्रोह में हटाए गए रॉबर्ट मुगाबे के जाने के बाद पुरानी स्थिति बहला करना नये प्रशासक के लिए सबसे गंभीर चुनौती है।

हिंसा से पहले भी, यूरोपीय संघ के पर्यवेक्षकों ने राष्ट्रपति और संसदीय वोट के आचरण पर सवाल उठाया। दक्षिणी अफ्रीकी राष्ट्र के प्रभारी मुगाबे का लगभग 40 वर्षों के बाद मजबूरी में इस्तीफा देना पड़ा जिसके बाद पहली बार चुनाव हो रहा है।

पुलिस प्रवक्ता चैरिटी चरम्बा ने राज्य प्रसारक जिम्बाब्वे ब्रॉडकास्टिंग कॉर्पोरेशन (जेडबीसी) को बताया कि संघर्ष में मारे गए तीन लोगों की पहचान अभी तक नहीं की जा सकी है।

बुनफायर बख्तरबंद वाहनों और एक सैन्य हेलीकॉप्टर द्वारा समर्थित सैनिकों के रूप में क्रैक किया गया और कुछ ने अपने चेहरों के साथ मुखौटा लगाया, विपक्षी प्रदर्शनकारियों की सड़कों को मंजूरी दे दी।

विपक्षी दलों का आंदोलन जब शुरू हुआ जब मूवमेंट डेमोक्रेटिक चेंज (एमडीसी) के नेता नेल्सन चमिसा ने इस आशय की घोषणा कर दी कि उन्होंने लोकप्रिय वोट जीता है।

आंदोलनकारियों ने सड़कों पर टायर जलाने के बाद, जिम्बाब्वे चुनाव आयोग (जेईईसी) मुख्यालय के पास दंगा पुलिस पर हमला भी किया। अधिकारियों ने आंसू गैस और पानी की बौछारें कर आंदोलनकारियों को भगाने की काेशिश की।

विपक्षी गठबंधन एमडीसी ने कार्रवाई की निंदा करते हुए कहा है कि इसने रॉबर्ट मुगाबे के शासन के ‘काले दिनों’ की यादें ताज़ा कर दी हैं। एमडीसी ने सत्ताधारी ज़ानू-पीएफ़ पार्टी पर सोमवार को हुए चुनावों में धांधली करने का आरोप लगाया।

संसदीय चुनाव के नतीजों में ज़ानू-पीएफ़ बड़ी जीत की ओर बढ़ती दिख रही है। राष्ट्रपति चुनाव के नतीजे अब तक जारी नहीं किए गए हैं. एमडीसी गठबंधन का दावा है कि सोमवार को हुए चुनावों में उनके राष्ट्रपति उम्मीदवार नेल्सन चामीसा को जीत हासिल हुई है।

संजय

रायटर

More News

गुआम में भूकंप के तेज झटके

23 Sep 2018 | 3:50 PM

 Sharesee more..

23 Sep 2018 | 2:30 PM

 Sharesee more..
image