Sunday, Nov 19 2017 | Time 15:42 Hrs(IST)
image
  • जबलपुर अंडा मावा डेयरी
  • आधार के बिना भी 31 दिसम्बर तक मिलेगी राशन
  • पुष्कर में राजपूत समाज ने पद्मावती फिल्म के विरोध में रैली निकाली
  • मध्यप्रदेश की डायल 108 एम्बुलेंस सेवा के पहिये थमे
  • स्कूली छात्र से गैंगरेप के अारोपियों को पुलिस ने भेजा जेल
  • अजमेर में सूचना ब्यूरो के नए भवन का उद्घाटन
  • बिजली दरों में बढ़ोत्तरी के प्रस्ताव का विरोध करेगा उपभोक्ता परिषद
  • जयपुर में सांड के हमले से विदेशी पर्यटक की मौत
  • एम्पायर एविएशन की इकाई को मिला एनएसओपी
  • '
  • अफगानिस्तान बना अंडर-19 एशिया कप चैंपियन
  • अजमेर में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा जी की सौ वीं जयंती मनाई गई
  • फोटो कैप्शन पहला सेट
  • हार्दिक के सात साथियों को मिलेगा कांग्रेस टिकट, वसोया का नामांकन कल
  • मुजफ्फरपुर में शादी टूटने से हताश युवक ने आत्महत्या की
फीचर्स Share

क्या होगा अगर दो मोर्चो पर जंग छिड़ गई तो?

क्या होगा अगर दो मोर्चो पर जंग छिड़ गई तो?

नयी दिल्ली. 22 जनवरी (वार्ता) ‘‘चीन की तो बात छोड़ दीजिये, अगर जंग की नौबत आई तो भारत पाकिस्तान को भी परास्त नहीं कर पाएगा।’’ अगर ऐसा आत्म पराजय वाला निष्कर्ष को पेश करे तो एक जोरदार बहस देश के सैन्य बलों की क्षमता को लेकर छिड़ जाना लाजिमी है। हाल ही में जब ‘‘ड्रैगन आॅन आॅवर डोरस्टेप’’ पुस्तक आई तो उसने ऐसी ही बहस छेड़ दी। यह पुस्तक ऐसी काल्पनिक स्थिति को सामने रखकर सैन्य बलों का आकलन करती है जिसमें भारत को चीन और पाकिस्तान दोनों ही ओर से जंग की नौबत का सामना करना पड़ता है। ‘‘अगर भारत को चीन से मैदान में मुकाबला करना पड़ा तो उसे एक बार फिर से पराजय का सामना करना पड़ सकता है’’। यह निष्कर्ष है पुस्तक के लेखक प्रवीण साहनी और गजाला वहाब का, जिनका रक्षा जगत में जाना माना नाम है। उनका कहना है कि इसमें परमाणु हथियारों से कोई लेना देना नहीं है। भारत, चीन और पाकिस्तान की रणनीति में परमाणु और परंपरागत हथियारों की योजना अलग-अलग हैं। सही कारण तो यह है कि पाकिस्तान ने सैन्य ताकत बनाने पर जोर दिया जबकि भारत ने सैन्य बलों के निर्माण पर ध्यान जमाया।

किताब के निष्कर्षों से सहमत हुए बिना भी इसे रक्षा प्रतिष्ठान और सामरिक विशेषज्ञों ने काफी सराहा है। विशेषज्ञों का कहना है कि यह सकारात्मक बहस की शुरूआत करती है ताकि भारत अपनी सैन्य रणनीति को नए सिरे से परिभाषित कर सके। अमेरिका स्थित कार्नेगी एन्डोवमेंट फार इंटरनेशनल पीस के सीनियर एसोसिएट एश्ले टैलिस ने कहा,‘‘यह इस बात का सपाट विश्लेषण देती है कि भारत किस तरह अपनी राष्ट्रीय ताकत और खास तौर से सैन्य क्षमताओं को लगातार चौधराहट जमाते जा रहे चीन के सामने कैसे प्रोजेक्ट कर सकता है और शांति बनाए रखने में कामयाब हो सकता है। उन्होंने कि भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा से सरोकार रखने वाले सभी लोगों को यह पुस्तक सावधानी से पढ़नी चाहिए। गौरतलब है कि श्री टैलिस का नाम भारत में अमेरिका के अगले राजदूत के रूप में गिनाया जा रहा है। पूर्व सेना प्रमुख वी पी मलिक की राय में चीन और भारत अगले दशकों में एशिया की भू-राजनीति और अर्थव्यवस्था तय करेंगे और ऐसे में श्री साहनी और गजाला वहाब की यह कृति चीन के साथ संबंधों को शांतिपूर्ण ढंग से संचालित करने की दिशा में एक अनूठा नजरिया देती है।

पुस्तक में पूर्व राष्ट्रपति के आर नारायण के हवाले से कहा गया है कि चीन के साथ भारत की समस्याएं इतिहास की देन भले ही हों लेकिन उन्हें आने वाले इतिहास पर छोड़ने के बजाए सुलझाने की जरूरत है। यह बात उन्होंने मार्च 2000 में पेईचिंग यात्रा के दौरान उस समय कही थी जब चीन के तत्कालीन राष्ट्रपति ने कहा कि भारत और चीन के बीच की समस्याएं इतिहास की छोड़ी हुई हैं और उनके बारे में संयम बरतने की जरूरत है। पुस्तक कहती है-‘‘अफसोस की बात यह है कि राजीव गांधी के समय से ही भारत के तमाम प्रधानमंत्रियों ने चीन के साथ सीमा विवाद को देश के प्रमुख सरोकार के रूप में नहीं देखा और न ही उन्होंने इसे भारत के लगातार बढ़ते ओहदे को प्रभावति करने वाली समस्या के तौर समझा। पुस्तक में अनुमान जाहिर किया गया है कि अगर भारत का पाकिस्तान के साथ युद्ध हुआ तो उसमें चीन उसका पूरा सहयोग करेगा। ऐसे में भारत को दो मोर्चों पर जंग की पूरी तैयारी रखनी होगी या फिर शांति बनाए रखने की रणनीति अपनानी होगी। इन दोनो में से कोई भी तैयारी नहीं करना आत्मघाती साबित हो सकता है। कौशिक, उप्रेती देवेन्द्र वार्ता

'विस्तृत समाचार के लिए हमारी सेवाएं लें।'
मुख्य समाचार

भाजपा सांसद ने दी चेतावनी बेटे को नहीं मिला टिकट तो छोड़ देंगे पार्टी

गांधीनगर, 19 नवंबर (वार्ता) गुजरात में चुनावी गहमागहमी के बीच सत्तारूढ भाजपा की मुश्किलें बढाते हुए पार्टी के लोकसभा सांसद लीलाधर वाघेला ने आज चेतावनी दी कि अगर उनके बेटे को टिकट नहीं दिया गया तो वह पार्टी छोड़ देंगे।

आगे देखे..
मोदी ने स्वच्छता के महत्व पर जोर दिया

मोदी ने स्वच्छता के महत्व पर जोर दिया

नयी दिल्ली, 19 नवंबर (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विश्व शौचालय दिवस पर आज देश में स्वच्छता के क्षेत्र में सुधार और इस दिशा में सरकार की प्रतिबद्धता को दोहराया।

आगे देखे..
मूल्यों और सिद्धांतों के लिए लड़ी इंदिरा गांधी: सोनिया

मूल्यों और सिद्धांतों के लिए लड़ी इंदिरा गांधी: सोनिया

नयी दिल्ली, 19 नवंबर (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आज कहा कि लौह महिला के रूप में विख्यात पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी हमेशा निजी हितों और व्यक्तिगत एजेंडा के विरुद्ध रहीं और वह जीवनभर मूल्यों और सिद्धांतों के लिए लड़ती रही।

आगे देखे..
प्रणव़ मनमोहन ,राहुल ने इंदिरा गांधी को श्रद्धांजलि दी

प्रणव़ मनमोहन ,राहुल ने इंदिरा गांधी को श्रद्धांजलि दी

नयी दिल्ली, 19 नवम्बर (वार्ता) पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 100वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

आगे देखे..
मंदिर मसले पर नरेन्द्र गिरि का रविशंकर को नसीहत

मंदिर मसले पर नरेन्द्र गिरि का रविशंकर को नसीहत

इलाहाबाद,19 नवम्बर (वार्ता) ऐतिहासिक रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद के मसले पर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेन्द्र गिरि ने आध्यात्मिक गुरू श्री श्री रविशंकर को नसीहत देते हुए कहा, 'वो सिर्फ आर्ट ऑफ लिविंग चलाएं, मंदिर मामले से अपने को न जोड़े तो बेहतर होगा।

आगे देखे..
एयर इंडिया के खिलाफ सर्वाधिक शिकायत, ओटीपी में इंडिगो आगे

एयर इंडिया के खिलाफ सर्वाधिक शिकायत, ओटीपी में इंडिगो आगे

नयी दिल्ली, 19 नवंबर (वार्ता) सरकारी विमान सेवा कंपनी एयर इंडिया का प्रदर्शन यात्रियों की शिकायत के मामले में अक्टूबर में एक बार फिर सबसे खराब रहा जबकि समय पर उड़ान भरने यानी ओटीपी के मामले में देश की सबसे बड़ी एयरलाइन इंडिगो पहले स्थान पर रही।

आगे देखे..

हार्दिक के सात साथियों को मिलेगा कांग्रेस टिकट, वसोया का नामांकन कल

अहमदाबाद, 19 नवंबर (वार्ता) हार्दिक पटेल के करीबी साथी तथा पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति (पास) के संयोजकाें की कोर कमेटी के सदस्य ललित वसोया ने आज कहा कि वह कल गुजरात के राजकोट जिले की धोराजी विधानसभा सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी के तौर पर नामांकन करेंगे।

आगे देखे..
कोविंद ने मानुषी को दी बधाई

कोविंद ने मानुषी को दी बधाई

नयी दिल्ली 19 नवम्बर(वार्ता) राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने मानुषी छिल्लर को मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने के लिए आज बधाई दी।

आगे देखे..
मांसाहार  के नाम पर एंटीबायटिक खिला रहीं हैं एमएनसीज-रिपोर्ट

मांसाहार के नाम पर एंटीबायटिक खिला रहीं हैं एमएनसीज-रिपोर्ट

नयी दिल्ली 19 नवंबर (वार्ता ) कुछ बहुराष्ट्रीय कंपनियां फास्ट फूड के नाम पर देश में ऐसे मांसाहारी व्यंजन परोस रही हैं जिनसे लोगों में एंटी बायटिक दवाओं का असर न होने का खतरा पैदा हो गया है।

आगे देखे..
कलवरी से अरिहंत तक,समुद्र में धाक है भारतीय पनडुब्बियों की

कलवरी से अरिहंत तक,समुद्र में धाक है भारतीय पनडुब्बियों की

नयी दि​ल्ली 19 नवम्बर (वार्ता ) कभी अंग्रेजों द्वारा 'नादान और अपरिपक्व' करार देकर पनडुब्बी की ताकत से वंचित रखी गयी भारतीय नौसेना ने लंबा सफर तय करते हुए अपनी अत्याधुनिक परमाणु पनडुब्बी बनाकर न केवल दुनिया के चुनिंदा देशों में जगह बनायी है बल्कि वह हिन्द प्रशांत क्षेत्र में एक बड़ी समुद्री ताकत बनकर उभरी है।

आगे देखे..
image