Wednesday, Feb 20 2019 | Time 19:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मिस्र में नौ लोगों को फांसी
  • पुलवामा में पाक की भूमिका मानी, प्रतिबंधों का समर्थन किया सऊदी अरब ने
  • शौक़ीन ने दक्षिण अफ्रीका को दिए चार झटके
  • महिला दिवस के दिन होगा ‘रन 4 नाइन’ का आयोजन
  • बिहार विधानमंडल की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित
  • नगर निगम और जींद उपचुनाव में जनता ने लगाई हरियाणा सरकार के कार्यों पर मुहर: आर्य
  • नामवर पंचतत्व में विलीन, साहित्य जगत में शोक की लहर
  • तस्कर से फेलिडे प्रजाति की 11 किलो हड्डियां जब्त
  • शहीद हेमराज मीणा की अस्थियां गंगा में विसर्जित
  • एनएचएम के 615 कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त
  • आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस पर माइक्रोसॉफ्ट का श्वेत पत्र
  • दिल्ली से रायपुर के लिए उड़ान शुरू करेगी विस्तारा
  • जावडेकर ने किया ऑपरेशन डिजिटल बोर्ड लांच
  • उत्तर भारत में तेज हवा चलने का अनुमान
राज्य Share

पुलिस नहीं होती तो आज बंद समर्थक कर देते मेरी हत्या : पप्पू

 पुलिस नहीं होती तो आज बंद समर्थक कर देते मेरी हत्या : पप्पू

पटना 06 सितम्बर(वार्ता) जन अधिकार पार्टी (जाप) के राष्ट्रीय संरक्षक और बिहार के मधेपुरा से सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने आज आरोप लगाया कि बंद समर्थकों ने मुजफ्फरपुर में उनपर जानलेवा हमला किया और यदि उस समय केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवान नहीं होते तो उनकी हत्या हो जाती।

श्री यादव ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि सवर्ण संगठनों के आह्वान पर आज भारत बंद के दौरान मुजफ्फरपुर के खबरा में बंद समर्थकों ने उनकी गाड़ी पर हमला किया और पार्टी कार्यकर्ताओं की पिटाई कर दी। उन्होंने कहा कि यदि उस समय सीआरपीएफ के जवान नहीं होते, तो उनकी हत्‍या हो जाती। श्री यादव इतना कह कर फफक-फफक कर रोने लगे।

सांसद ने कहा कि इस हमले में कई वाहन क्षतिग्रस्‍त हो गये और कई कार्यकर्ता भी घायल हो गये। इसपर उन्होंने वहां के पुलिस अधीक्षक और पुलिस उप महानिरीक्षक से बात करने की कोशिश की, लेकिन किसी ने फोन नहीं उठाया। फिर इसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री सचिवालय में फोन लगाया तो मुख्‍यमंत्री के निजी सचिव ने कहा कि वह इस घटना की सूचना मुख्यमंत्री को दे देंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था की क्या स्थिति है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि जब एक सांसद सुरक्षित नहीं है और उसकी शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं होती है तो आम लोगों के साथ क्या होता होगा।

श्री यादव ने कहा कि वह किसी तरह से जान बचाकर वहां से निकले। बाद में सांसद मधुबनी पहुंचे और बासोपट्टी से नारी बचाओ पदयात्रा की शुरूआत की। यह पदयात्रा 13 सितंबर तक चलेगी। पदयात्रा के दौरान लोगों को नारी सम्‍मान का संकल्‍प दिलाया जाएगा।

शिवा सूरज

वार्ता

image