Sunday, May 31 2020 | Time 16:15 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए धूम्रपान त्यागने का संकल्प लें : प्रेमचन्द
  • मंदिरों के पुजारियों, ग्रन्थियों को किया सम्मानित
  • बलिया में सात और कोरोना पॉजिटिव मिले, संख्या बढ़कर 49 पहुंची
  • एटा में चार और कोरोना पॉजिटिव मिले,संक्रमितों की संख्या हुई 31
  • इंडोनेशिया में कोरोना के 700 नये मामले, 40 की मौत
  • केरल में मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह
  • बागेश्वर से अभी तक 848 प्रवासियों को भेजा नेपाल
  • रवांडा में कोरोना से पहली मौत, संक्रमितों की संख्या 359 हुई
  • कासगंज में दो और कोरोना पॉजिटिव,संख्या बढ़कर हुई 20
  • असम में कोरोना के 56 नये मामले, कुल संक्रमितों की संख्या 1272 हुई
  • हैदराबाद में बारिश से लोगों को गर्मी से मिली राहत
  • केरल में पेड क्वारंटीन आतिथ्य क्षेत्र के लिए बड़ी राहत
  • एक जून से प्रशिक्षण पर लौटेंगे श्रीलंकाई खिलाड़ी
  • एक जून से प्रशिक्षण पर लौटेंगे श्रीलंकाई खिलाड़ी
  • कोविड-19: मेघालय में कर्फ्यू में और ढील
राज्य » बिहार / झारखण्ड


जमशेदपुर से एक आतंकवादी गिरफ्तार

जमशेदपुर से एक आतंकवादी गिरफ्तार

रांची 22 सितंबर (वार्ता) झारखंड आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) ने जमशेदपुर रेलवे स्टेशन से आतंकवादी संगठन अलकायदा से जुड़े एक आतंकवादी को गिरफ्तार कर लिया।

एटीएस की पुलिस अधीक्षक ए. विजयलक्ष्मी ने आज यहां बताया कि आतंकवादी मो. कलीमुद्दीन को एटीएस ने जमशेदपुर रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आतंकवादी के अल कायदा से तार जुड़े हैं और पूछताछ में इससे कई खुलासे होंगे। पुलिस को इसकी पिछले तीन साल से तलाश थी।

वहीं अपर पुलिस महानिदेशक मुरारी लाल मीणा ने बताया कि गिरफ्तार आतंकवादी मो. अब्दुल रहमान अली खान उर्फ हैदर उर्फ मसूद उर्फ कतकी का करीबी है। उन्होंने बताया कि कलीमुद्दीन लोगों को तथाकथित जिहाद में शामिल होने के लिए प्रेरित करता था। साथ ही वह युवकों को आतंकवादी संगठन में शामिल करने के और उनके भारत के बाहर प्रशिक्षण की व्यवस्था करता था।

श्री मीणा ने बताया कि कलीमुद्दीन की ही तरह कतकी को भी जमशेदपुर से गिरफ्तार किया गया था। कलीमुद्दीन मानगो के आजाद नगर का रहने वाला है और उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस पिछले तीन साल से प्रयास कर रही थी। कलीमुद्दीन के खिलाफ जमशेदपुर में मामला दर्ज किया गया है।

गौरतलब है कि इससे पूर्व कलीमुद्दीन के मकान और संपत्ति की कुर्की जब्ती की जा चुकी है। वह आतंकी योजनाओं को पूरा करने के लिए पश्चिम बंगाल के आसनसोल और कोलकाता के साथ ही गुजरात, मुंबई, उत्तर प्रदेश, सउदी अरब, अफ्रीका एवं बंग्लादेश जाता रहा है।

सूरज

वार्ता

image