Thursday, May 23 2024 | Time 23:14 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


पहले देश बांटकर राज किया, अब पैसा बांटकर राज करना चाहती है कांग्रेस: विजयवर्गीय

पहले देश बांटकर राज किया, अब पैसा बांटकर राज करना चाहती है कांग्रेस: विजयवर्गीय

भोपाल, 12 अप्रैल (वार्ता) मध्यप्रदेश की छिंदवाड़ा संसदीय सीट से कांग्रेस के कुछ नेताओं के कथित तौर पर पैसे बांटते पकड़े जाने पर राज्य सरकार के मंत्री और भारतीय जनता पार्टी जबलपुर क्लस्टर प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि कांग्रेस जनमत पर भरोसा नहीं करती और पार्टी ने पहले देश बांटकर राज किया और अब पैसा बांटकर राज करना चाहती है।

श्री विजयवर्गीय ने कल देर रात अपने बयान में कहा कि कांग्रेस और उसके नेताओं का चरित्र ही रहा है कि वह जनमत पर भरोसा नहीं करते। यही कार्य छिंदवाड़ा लोकसभा क्षेत्र में कांग्रेस और कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी नकुलनाथ कर रहे हैं। कांग्रेस छिंदवाड़ा में लोकतंत्र को नोटतंत्र के जरिए खरीदने का प्रयास कर रही है। कांग्रेस सोचती है, बांटो और राज करो चलेगा। कांग्रेस ने पहले देश बांटकर राज किया, अब छिंदवाड़ा को अपना गढ़ समझने वाले नकुलनाथ पैसा बांटकर राज करना चाहते हैं। मतदाता भगवान है और भगवान को खरीदने की सोचने वाली कांग्रेस रंगे हाथ पकड़ी गई है। न्याय-पत्र के झूठे वादे चले नहीं तो सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेता पैसों से बोली लगाकर लोकतंत्र के भगवान को खरीदने का कुत्सित प्रयास कर रहे हैं।

श्री विजयवर्गीय छिंदवाड़ा में जिला कांग्रेस महामंत्री व मोहखेड़ विकासखंड के पर्यवेक्षक गिरीश साहू के बिसापुर गांव में रूपए बांटते पकड़े जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भाजपा इस मुद्दे को लेकर चुनाव आयोग पहुंचकर शिकायत दर्ज करायेगी और कांग्रेस और नकुलनाथ के ठिकानों की जांच करने की मांग करेगी।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस धनबल के आधार पर चुनाव को प्रभावित करने का प्रयास कर रही है। नोट बांटने का खुलासा होने से यह सिद्ध हो गया है कि कांग्रेस ने अपनी हार स्वीकार कर ली है और वह लोगों को पैसों का लालच देकर खरीदने में जुटी है। कांग्रेस पहले नोट देकर वोट खरीदने का प्रयास करती है, जब चुनाव हार जाती है तो ईवीएम पर ठीकरा फोड़ती है।

छिंदवाड़ा में कांग्रेस जिला महामंत्री गिरीश साहू को बिसापुर गांव में रूपए बांटते हुए गिरफ्तार किया गया है। आरोपी के पास से 4 लाख 94 हजार की राशि पुलिस ने जब्त की है। इसके बाद पुलिस प्रकरण दर्ज कर जांच कर रही है।

गरिमा

वार्ता

image