Friday, Sep 21 2018 | Time 17:18 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • संत समाज का तीन-चार नवंबर को तालकटोरा में सम्मेलन
  • निर्यातकों आैर छोटे उद्योगों को प्राथमिकता से मिले उधार : प्रभु
  • निर्यातकों आैर छोटे उद्योगों को प्राथमिकता से मिले उधार : प्रभु
  • मूक बधिर छात्रा से दुष्कर्म, आश्रम संचालक सहित छह आरोपी गिरफ्तार
  • गिर वन में आठ दिन में मरे 11 शेर, वन विभाग ने कहा- अधिकतर मौतें वर्चस्व की लड़ाई के चलते
  • सिंधू और श्रीकांत की हार के साथ भारतीय चुनौती समाप्त
  • पटना में युवक की दिनदहाड़े हत्या
  • मुहर्रम के मद्देनजर श्रीनगर के कुछ इलाकों में पाबंदी
  • सेंसेक्स 280 अंक टूटा;निफ्टी 91 अंक फिसला
  • 12 साल बाद शतरंज ओलंपियाड में उतरेंगे आनंद
  • लाला वर्ल्ड की ट्रांसफरटू के साथ भागीदारी
  • सार्वजनिक रूप से माफी मांगें कुमारस्वामी: भाजपा
  • नोएडा में पीएनबी पर बदमाशों का हमला, दो सुरक्षाकर्मियों की हत्या
खेल Share

मेरा अब एकमात्र फोकस ओलंपिक में पदक: दुती चंद

मेरा अब एकमात्र फोकस ओलंपिक में पदक: दुती चंद

नयी दिल्ली,31 अगस्त (वार्ता) एशियाई खेलों में 100 मीटर और 200 मीटर में रजत पदक जीतकर इतिहास बनाने वाली ओड़िशा की फर्राटा धाविका दुती चंद ने शुक्रवार को यहां कहा कि उनका अब एकमात्र लक्ष्य 2020 के टोक्यो ओलंपिक में देश के लिये पदक हासिल करना है।

दुती जकार्ता से गुरूवार रात स्वदेश लौटीं और आज उनके राज्य ओड़िशा के भुवनेश्वर स्थित कलिंगा इंस्टिट्यूट ऑफ़ सोशल साइंसेज और कलिंगा इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी ने दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में उन्हें सम्मानित किया। इन दोनों यूनिवर्सिटी के संस्थापक प्रोफेसर अच्युत सामंत ने इस अवसर पर बताया कि राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने दुती को दोनों रजत पदक जीतने के लिये डेढ़-डेढ़ करोड़ रूपये के ईनाम की घोषणा की है और साथ ही अगले ओलंपिक तक उनकी ट्रेनिंग का सारा खर्चा उठाने का वादा किया है।

फर्राटा एथलीट ने इस सम्मान से अभिभूत होते हुये कहा,“ मुझे खुशी और गर्व है कि मैंने महान एथलीट पीटी उषा के बाद फर्राटा स्पर्धा में देश को पदक दिलाया है। मैंने खेलों में जाने से पहले वादा किया था कि मैं पदक जरूर हासिल करूंगी और मैंने इस वादे को पूरा कर लिया है। अब मेरा अगला लक्ष्य 2020 के ओलंपिक हैं।”

जकार्ता में 11.32 सेकंड का समय लेकर 100 मीटर दौड़ में फोटो फिनिश में रजत जीतने वाली दुती ने कहा,“ इस साल की हमारी सारी स्पर्धाएं समाप्त हो चुकी हैं। अब अगले साल एशियन चैंपियनशिप और सैफ गेम्स होने हैं। लेकिन मेरा एकमात्र लक्ष्य अगले ओलंपिक हैं और अगले दो साल मैं इसी लक्ष्य के साथ अपनी तैयारी करूंगी।”

More News
द्रोणाचार्य अवार्डी कुश्ती कोच यशवीर का निधन

द्रोणाचार्य अवार्डी कुश्ती कोच यशवीर का निधन

21 Sep 2018 | 4:49 PM

नयी दिल्ली, 21 सितम्बर (वार्ता) ओलम्पिक पदक विजेता पहलवानों सुशील कुमार और योगेश्वर दत्त की कामयाबी में अहम् भूमिका निभाने वाले राष्ट्रीय कुश्ती कोच और द्रोणाचार्य अवार्डी यशवीर सिंह का निधन हो गया है। वह 54 वर्ष के थे।

 Sharesee more..

21 Sep 2018 | 4:34 PM

 Sharesee more..

12 साल बाद शतरंज ओलंपियाड में उतरेंगे आनंद

21 Sep 2018 | 4:29 PM

 Sharesee more..

21 Sep 2018 | 3:12 PM

 Sharesee more..

21 Sep 2018 | 2:57 PM

 Sharesee more..
image