Monday, Feb 18 2019 | Time 18:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • वाहन से कुचल कर युवक की मौत
  • अब्दुल्ला यामीन को हिरासत में लेने का आदेश
  • वाहन से कुचल कर युवक की मौत
  • शहीद मेजर चित्रेश का हरिद्वार में पूर्ण सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया
  • झांसी: नहर में डूबे व्यक्ति का शव बरामद
  • आईएस लड़ाकू सीरिया से इराक में कर रहे पलायन
  • सिद्धू-मजीठिया के बीच तीखी नोंक झोंक, विपक्ष के शोरगुल के बीच विस स्थगित, आप का बहिर्गमन
  • सरकार को 280 अरब रुपये का अंतरिम लाभांश देगा आरबीआई
  • माघी पूर्णिमा पर कड़ी सुरक्षा के बीच लाखों श्रद्धालु लगाएंगे आस्था की डुबकी
  • शहीदों के प्रति गंभीर नहीं है भाजपा: अखिलेश
  • गुरुदेव का कृतित्व, सन्देश आज भी प्रासंगिक : मोदी
  • उधमसिंह नगर में दो लोगों को किया गिरफ्तार
  • एडीजे अजीत कुमार सिन्हा ने किया एनआईए जज का पदभार ग्रहण
  • विश्वजीत चटर्जी भाजपा में शामिल
  • चेन्नई में रेल कोच के पुर्जे बनायेगी जिंदल स्टेनलेस
खेल Share

राष्ट्रीय खेलकूद विश्वविद्यालय विधेयक लोकसभा से पारित

राष्ट्रीय खेलकूद विश्वविद्यालय विधेयक लोकसभा से पारित

नयी दिल्ली, 03 अगस्त (वार्ता) मणिपुर में स्थापित देश के पहले राष्ट्रीय खेलकूद विश्वविद्यालय के कुलाधिपति और शिक्षकों के रूप में प्रतिष्ठित खिलाड़ी नियुक्त किये जाएंगे और विदेशी प्रशिक्षकों को बुला कर विश्वविद्यालय में कक्षाएं आयोजित करायी जाएंगीं।

लोकसभा में राष्ट्रीय खेलकूद विश्वविद्यालय विधेयक 2018 पर चर्चा का जवाब देते हुए केंद्रीय खेल मंत्री कर्नल राज्यवर्द्धन सिंह राठौड़ ने सदस्यों को यह भी आश्वासन भी दिया कि विभिन्न राज्यों में वहां की सरकारों से चर्चा करके समुचित सुविधाएं एवं ज़मीन मिलने पर आउटलाइन केन्द्र खोले जाएंगे। सदन में बाद में ध्वनिमत से इस विधेयक को निर्विरोध पारित कर दिया।

विपक्ष की ओर से रेवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी (अारएसपी) के एन के प्रेमचंद्रन ने कुछ संशोधन पेश किये थे जिन्हें सदन ने अस्वीकार कर दिया। राठौड़ ने प्रेमचंद्रन द्वारा राष्ट्रीय खेलकूद विश्वविद्यालय अध्यादेश लाये जाने के औचित्य पर सवाल उठाये जाने पर जवाब देते हुए कहा कि इस विधेयक को 10 अगस्त 2017 को सदन में पेश किया गया था और 24 अगस्त को इसे संसदीय स्थायी समिति को सौंप दिया गया था।

राठौड़ ने कहा कि समिति ने पांच जनवरी को अपनी रिपोर्ट पेश की थी जबकि 15 जनवरी से कक्षाएं आरंभ हो गयी थीं। बाद में पूरे बजट सत्र के शोर शराबे की भेंट चढ़ जाने के कारण विधेयक को सदन में नहीं रखा जा सका था। इसलिए अध्यादेश लाना पड़ा था।

 

More News
विश्व कप में पाकिस्तान से नहीं खेले भारत : सीसीआई

विश्व कप में पाकिस्तान से नहीं खेले भारत : सीसीआई

18 Feb 2019 | 6:21 PM

मुंबई, 18 फरवरी (वार्ता) क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया (सीसीआई) के सचिव सुरेश बाफना ने कहा है कि भारत को इंग्लैंड में होने वाले आगामी विश्व कप मैच में पाकिस्तान के साथ मैच नहीं खेलना चाहिए।

 Sharesee more..

14 फरवरी देश के लिए काला दिन : सानिया

18 Feb 2019 | 5:36 PM

 Sharesee more..
image