Saturday, Jun 15 2024 | Time 00:57 Hrs(IST)
image
भारत


शहरों में केवल 36 प्रतिशत लोग ही शहर के अधिकारों का आनंद लेते हैं: बेनिंगर

नयी दिल्ली, 24 जनवरी(वार्ता) प्रेम जैन मेमोरियल ट्रस्ट की ओर से बुधवार को प्रतिष्ठित
प्रेम जैन मेमोरियल लेक्चर आयोजित किया गया और दो पुस्तकों का विमोचन किया गया।
लेक्चर के मुख्य वक्ता क्रिस्टोफर चार्ल्स बेनिंगर और न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल रहे।
बेनिंगर ने इस मौके पर कहा, “ हमारे शहरों में केवल 36 प्रतिशत लोग ही शहर के अधिकारों का आनंद लेते हैं जबकि शेष 64 प्रतिशत का जीवन अस्थिर रहता है। प्रकृति, परंपरा और प्रौद्योगिकी के साथ संतुलन सहित बुद्धिमान शहरीकरण के नौ सिद्धांतों की उनकी व्यावहारिक खोज, संपन्न और समावेशी शहरी निर्माण में दक्षता, मानव पैमाने, सौहार्द, एक अवसर मैट्रिक्स, संतुलित आंदोलन और संस्थागत अखंडता के वातावरण महत्व पर जोर देती है। ”
उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश एवं नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के प्रमुख न्यायमूर्ति गोयल ने इस अवसर पर कहा, “351 प्रदूषित नदी खंडों और 134 वायु-प्रदूषित शहरों के साथ, एनजीटी पर्यावरण संरक्षण से संबंधित मामलों के प्रभावी निपटान के लिये स्वत: संज्ञान कार्यवाही के माध्यम से हस्तक्षेप करता है। हमारे पर्यावरण के संरक्षक के रूप में, हमें सुरक्षा के लिये कानूनी कर्तव्य को पहचानना चाहिये। ”
उन्होंने कहा कि प्रदूषण के खिलाफ लड़ाई गंगा सफाई से आगे तक फैली हुई है, जो एक कठोर वास्तविकता को उजागर करती है। महाराष्ट्र, असम और गुजरात जैसे राज्य अपने पर्याप्त आर्थिक योगदान के बावजूद, 351 प्रदूषित नदी खंडों में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं।
डॉ पायल जैन ने इस मौके पर कहा, “आधुनिक हरित भवन आंदोलन के पीछे दूरदर्शी वास्तुकार डॉ. प्रेम जैन ने न केवल निर्माण के परिदृश्य को बदल दिया है, बल्कि भारत के लिए सतत निर्मित पर्यावरण में ज्ञान के वैश्विक प्रतीक के रूप में उभरने के लिये एक शक्तिशाली दृष्टिकोण भी स्थापित किया है। वर्ष 2007 से इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल
के अध्यक्ष के रूप में उन्होंने अथक रूप से हरित जीवन शैली का समर्थन किया और भारत को 'ग्रीन' विश्व लीडर के रूप में उभरने की नींव रखी। 'हरित इमारतों के जनक' के रूप में डॉ. जैन की विरासत दुनिया भर में इमारतों की अवधारणा और डिजाइन में एक आदर्श बदलाव को प्रेरित करती है, जो हमारे ग्रह के भविष्य पर एक अमिट छाप छोड़ती है।''
कार्यक्रम के दौरान दो पुस्तकें शैक्षिक संस्थानों में कल्याण पर पीजेएमटी हैंडबुक और इको-पोएट्री के अचेतन पुल का विमोचन किया गया।
श्रवण
वार्ता
More News
नड्डा ने दिया स्वास्थ्य सुविधाओं की गुणवत्ता पर जोर

नड्डा ने दिया स्वास्थ्य सुविधाओं की गुणवत्ता पर जोर

14 Jun 2024 | 9:25 PM

नयी दिल्ली 14 जून (वार्ता) केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने शुक्रवार को कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं और स्वास्थ्य प्रणालियों की गुणवत्ता तथा इनका दायरा बढ़ाने पर जोर दिया जाना चाहिए।

see more..
ट्रेनों में स्लीपर, जनरल कोच बढ़ाएगी रेलवे,

ट्रेनों में स्लीपर, जनरल कोच बढ़ाएगी रेलवे,

14 Jun 2024 | 8:00 PM

नयी दिल्ली 14 जून (वार्ता) रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने गर्मियों के सीज़न में यात्रियों को होने वाली दिक्कतों को गंभीरता से लेते हुए रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों को पांच मोर्चों पर युद्धस्तर पर काम करने के निर्देश दिये हैं जिनमें ट्रेनों में गैरवातानुकूलित स्लीपर एवं अनारक्षित श्रेणी के कोचों की संख्या बढ़ाना और वातानुकूलित कोचों में एयर कंडीशनिंग प्रणाली के खराब होने की शिकायतों को दूर करना शामिल है।

see more..
नयी दिल्ली स्टेशन के पुनर्विकास की तैयारी, बनेगा एमएमटीएच

नयी दिल्ली स्टेशन के पुनर्विकास की तैयारी, बनेगा एमएमटीएच

14 Jun 2024 | 8:00 PM

नयी दिल्ली 14 जून (वार्ता) देश की राजधानी के मुख्य रेलवे स्टेशन नयी दिल्ली स्टेशन के पुनर्विकास की उलझी हुई गुत्थी सुलझती हुई दिख रही है।

see more..
दिल्ली की जनता को सजा दे रही हरियाणा की भाजपा सरकार : संजय

दिल्ली की जनता को सजा दे रही हरियाणा की भाजपा सरकार : संजय

14 Jun 2024 | 8:00 PM

नयी दिल्ली, 14 जून (वार्ता) आम आदमी पार्टी (आप) के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि यहाँ के लोगों ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सातों सांसद जिताए हैं इसके बाद भी हरियाणा की भाजपा सरकार दिल्ली के लोगों को सजा दे रही है।

see more..
कृत्रिम बुद्धिमत्ता पर आधारित टूल ‘दिव्य दृष्टि’ करेगा चेहरे की पहचान

कृत्रिम बुद्धिमत्ता पर आधारित टूल ‘दिव्य दृष्टि’ करेगा चेहरे की पहचान

14 Jun 2024 | 8:00 PM

नयी दिल्ली 14 जून (वार्ता) रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) की प्रतियोगिता जीतने वाली एक महिला उद्यमी ने चेहरे की पहचान के लिए कृत्रिम बुद्धिमत्ता का इस्तेमाल करते हुए एक टूल ‘ दिव्य दृष्टि’ विकसित किया है।

see more..
image