Monday, May 27 2024 | Time 11:26 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


कर्ज की किश्त से बचने युवक ने जानलेवा हमले की रची झूठी कहानी, जांच के बाद खुलासा

रतलाम, 26 मार्च (वार्ता) मध्यप्रदेश के रतलाम में छह दिन पहले युवक पर चाकुओं से किए गए जानलेवा हमले की कहानी पुलिस की जांच में झूठी साबित हुयी। युवक ने वाहन के कर्ज की किश्त से बचने के लिए अज्ञात युवको द्वारा हमला किये जाने की झूठी कहानी बनाई थी। उसने खुद को ब्लेड से घायल किया था।
पुलिस अधीक्षक राहुल कुमार लोढ़ा ने बताया कि खातीपुरा निवासी फरियादी शोएब ने 20 मार्च को थाना स्टेशन रोड पर पहुंचकर रिपोर्ट कराई कि वह जब मध्य रात्री में अपनी मौसी के लड़के शाहरूख के साथ मोटर साइकिल से जा रहा था तभी उसे खाली प्लाट के पास चार अज्ञात लोगो ने रोक कर बुलाया और गालिया देकर जान से मारने की नियत से चाकू से दाहिने तरफ पेट मे चाकू मारा था।
शोएब के चिल्लाने पर चारों अज्ञात आरोपी वहां से भाग गये थे। घायल शोएब को उसका मौसेरा भाई शाहरूख मोटर साइकिल पर बैठाकर सिविल अस्पताल रतलाम ले गया। शोएब की रिपोर्ट पर जब अज्ञात आरोपियो की तलाश के लिए थाने से टीम गठित कर जांच शुरू की गई तो अज्ञात आरोपियों द्वारा घटना करने के संबंध में कोई साक्ष्य पुलिस को नहीं मिले। विवेचना के दौरान घटना के चश्मदीद साक्षी शाहरुख से जब पुलिस ने विस्तृत पुछताछ की उसने बताया कि फरीयादी शोएब ने नईम से एक पिकअप क्रय की थी, जिसकी फाइनेंस की 05 किश्ते शोएब ने जमा नहीं करवाई थी। इस पर नईम द्वारा उससे पिकअप की फाइनेंस की राशि जमा करने के संबंध में बात करने एवं इसी संबंध में शोएब द्वारा नईम को एग्रीमेंट लिखकर दिया था।
शोएब ने नईम से ली गई पिकअप के रुपये जमा करने से बचना चाहता था। इसी चक्कर में उसने शाहरुख के सामने घटनास्थल पर स्वयं को ब्लेड से पेट पर चोट पहुंचाई थी। शोएब ने शाहरुख को घटना के समय ही बता दिया था कि उससे कोई भी पूछे तो कहना कि चार अज्ञात व्यक्तियों ने आकर रास्ता रोककर चाकू मारा है। विवेचना के दौरान शाहरुख के बयान एवं मेडिकल रिपोर्ट आदि से शोएब द्वारा झूठी कहानी गढ़कर रुपये देने से बचने के लिये झूठी रिपोर्ट लिखाया जाना पाया गया है।
सं बघेल
वार्ता
More News
मोदी ने सनातन संस्कृति को शिक्षा में जोड़ा: यादव

मोदी ने सनातन संस्कृति को शिक्षा में जोड़ा: यादव

26 May 2024 | 11:36 PM

वाराणसी (उत्तरप्रदेश), 26 मई (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने आज कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अपने दूसरे कार्यकाल में राष्ट्रीय शिक्षा नीति लाई गई, जिसके माध्यम से पूरे देश में शिक्षा के पाठ्यक्रमों में भगवान श्रीराम और श्रीकृष्ण के साथ सनातन संस्कृति की शिक्षा को जोड़ा गया है।

see more..
image