Monday, May 27 2024 | Time 11:49 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


तीसरे चरण के लिए नामांकनपत्र भरने का काम 12 अप्रैल से

भोपाल, 10 अप्रैल (वार्ता) मध्यप्रदेश में लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में नौ संसदीय सीटों पर नामांकनपत्र दाखिले का कार्य 12 अप्रैल को अधिसूचना जारी होने के साथ प्रारंभ हो जाएगा। इन क्षेत्रों में मतदान के लिए सात मई की तिथि निर्धारित है।
राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने आज यहां बताया कि राज्य में चार चरणों में लोकसभा चुनाव होने हैं। तीसरे चरण में नौ लोकसभा क्षेत्रों में 12 अप्रैल से नामनिर्देशन पत्र भरे जायेंगे। मुरैना, भिण्ड, ग्वालियर, गुना, सागर, विदिशा, भोपाल, राजगढ़ और बैतूल (अजजा) लोकसभा क्षेत्र में मतदान तीसरे चरण में कराया जायेगा। नामांकनपत्र दाखिल करने की अंतिम तिथि 19 अप्रैल है। इसके अगले दिन 20 अप्रैल को नामांकनपत्रों की संवीक्षा की जाएगी। नामांकनपत्र भर चुके प्रत्याशी 22 अप्रैल तक अपने नाम वापस ले सकेंगे। तीसरे चरण के लिए सात मई को मतदान होगा। सभी चरणों की मतगणना चार जून को होगी।
श्री राजन ने बताया कि बसपा प्रत्याशी के निधन के कारण बैतूल लोकसभा क्षेत्र के निर्वाचन के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने 10 अप्रैल को नवीन कार्यक्रम जारी कर दिया है। बैतूल (अजजा) में अब सात मई को मतदान होगा। यहां निर्वाचन अधिसूचना 12 अप्रैल को जारी होगी। केवल बहुजन समाज पार्टी के अभ्यर्थी 12 से 19 अप्रैल तक नामांकनपत्र जमा कर सकेंगे। 20 अप्रैल को नामांकनपत्रों की संवीक्षा की जाएगी। अभ्यर्थी 22 अप्रैल तक अपने नाम वापस ले सकेंगे।
बैतूल लोकसभा संसदीय क्षेत्र में मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय राजनैतिक दल बहुजन समाज पार्टी से निर्वाचन में भाग ले रहे अभ्यर्थी अशोक भलावी का निधन हो गया है। इसी वजह से बैतूल में मतदान की तिथि परिवर्तित की गयी है। श्री राजन ने स्पष्ट किया है कि बैतूल के निर्वाचन में सिर्फ बहुजन समाज पार्टी के उम्मीदवार का ही नामांकनपत्र जमा होगा। शेष अभ्यर्थी यथावत रहेंगे।
राज्य में पहले चरण में छह सीटों के लिए 19 अप्रैल को, दूसरे चरण में छह सीटों के लिए 26 अप्रैल को और चौथे एवं अंतिम चरण में आठ सीटों पर 13 मई को मतदान होगा। राज्य में कुल 29 लोकसभा सीट हैं।
प्रशांत
वार्ता
More News
मोदी ने सनातन संस्कृति को शिक्षा में जोड़ा: यादव

मोदी ने सनातन संस्कृति को शिक्षा में जोड़ा: यादव

26 May 2024 | 11:36 PM

वाराणसी (उत्तरप्रदेश), 26 मई (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने आज कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अपने दूसरे कार्यकाल में राष्ट्रीय शिक्षा नीति लाई गई, जिसके माध्यम से पूरे देश में शिक्षा के पाठ्यक्रमों में भगवान श्रीराम और श्रीकृष्ण के साथ सनातन संस्कृति की शिक्षा को जोड़ा गया है।

see more..
image