Monday, May 25 2020 | Time 07:31 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अमेरिका ने कोरोना के कारण ब्राज़ील पर लगाया यात्रा प्रतिबंध
  • 'अमेरिका बनायेगा कोरोना वायरस का पहला टिका'
  • अफगानिस्तानी राष्ट्रपति ने दो हजार तालिबानियों को रिहा करने के दिए निर्देश
  • दो महीने बाद घरेलू यात्री उड़ानें दुबारा शुरू
  • दो महीने बाद घरेलू यात्री उड़ानें दुबारा शुरू
  • न्यूज़ीलैंड में 5 8 की तीव्रता के भूकंप के झटके
  • सोमालिया में विस्फोट, पांच लोगों की मौत
  • इटली में कोरोना से अबतक 32,785 लोगों की मौत
  • बिहार में काेरोना संक्रमण से मृत 13 लोगों के आश्रितों को चार-चार लाख निर्गत
  • अरुणाचल में कोरोना के दूसरे मामले की पुष्टि
खेल


पिछले लगभग एक वर्ष से अधिक समय से सीमित ओवरों की टीम से बाहर चल रहे अश्विन और जडेजा दोनों के लिये यह टेस्ट सीरीज़ करो या मरो का मुकाबला है। यदि दोनों इस सीरीज़ में शानदार प्रदर्शन करते हैं और भारत को सीरीज़ जीत दिलाने में योगदान देते हैं तो उनके लिये 2019 में इंग्लैंड में ही होने वाले एकदिवसीय विश्वकप के लिये भारतीय टीम में वापसी का रास्ता खुल सकता है।
अश्विन 58 टेस्टों में 316 विकेट ले चुके हैं और वह सबसे तेज़ 300 विकेट पूरे करने वाले गेंदबाज है। उन्होंने 26 बार एक पारी में पांच विकेट और सात बार एक टेस्ट में 10 विकेट लिये हैं। बल्ले से भी अश्विन निचले क्रम में उपयोगी रहे हैं और अब तक 2163 रन बना चुके हैं।
भारत के सबसे कामयाब लेफ्ट आर्म स्पिनर जडेजा ने भी 36 टेस्टों में 171 विकेट लिये हैं और उनके खाते में 1196 रन भी हैं। जडेजा ने एक पारी में पांच विकेट नौ बार और एक टेस्ट में 10 विकेट एक बार लिये हैं। अश्विन ने अफगानिस्तान के खिलाफ जून में खेले गये एकमात्र टेस्ट में कुल पांच विकेट और जडेजा ने छह विकेट हासिल किये हैं। फिलहाल दोनों गेंदबाज़ भारतीय स्पिन आक्रमण की धुरी हैं लेकिन जिस तरह कुलदीप को लेकर चर्चा चल रही है उससे इन दोनों गेंदबाजों को भी खुद को साबित करने की नौबत आ गयी है।
भारत ने इंग्लैंड में अपनी पहली टेस्ट सीरीज़ 1971 में जीती थी और इस इतिहास को कपिल देव ने 1986 में तथा राहुल द्रविड़ ने 2007 में दोहराया था। दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार विराट के पास 11 साल बाद यह इतिहास दोहराने का मौका है।
अजीत वाडेकर की कप्तानी में जब भारत ने 1971 में टेस्ट सीरीज़ जीती थी तब भागवत चंद्रशेखर, एस वेंकटराघवन और बिशन सिंह बेदी की स्पिन तिकड़ी ने सीरीज़ में कुल 37 विकेट लेकर भारत को जीत दिलाई थी। चंद्रशेखर ने 13, वेंकटराघवन ने 13 और बेदी ने 11 विकेट हासिल किये थे।
राज प्रीति
जारी वार्ता
More News
दो महीने बाद गेंदबाजी करना सुखद : ब्रॉड

दो महीने बाद गेंदबाजी करना सुखद : ब्रॉड

24 May 2020 | 8:56 PM

नॉटिंघम, 24 मई (वार्ता) इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड ने कहा है कि कोरोना वायरस के कारण दो महीने बाद गेंदबाजी करना उनके लिए सुखद एहसास रहा।

see more..
जॉन मोगोदी सीएसए बोर्ड के गैर-स्वतंत्र निदेशक चुने गए

जॉन मोगोदी सीएसए बोर्ड के गैर-स्वतंत्र निदेशक चुने गए

24 May 2020 | 8:45 PM

जोहानसबर्ग, 24 मई (वार्ता) क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) बोर्ड के सदस्यों ने जॉन मोगोदी को बोर्ड का गैर-स्वतंत्र निदेशक चुना है।

see more..
सुरक्षा निर्देशों पर स्पष्टता दे आईसीसी : शाकिब

सुरक्षा निर्देशों पर स्पष्टता दे आईसीसी : शाकिब

24 May 2020 | 8:24 PM

ढाका, 24 मई (वार्ता) बंगलादेश के स्टार ऑलराउंडर शाकिब अल हसन ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से कोरोना वायरस के कारण जारी सुरक्षा निर्देशों पर स्पष्टता देने के लिए कहा है।

see more..
घरेलू खिलाड़ियों के चोट प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित करेगा बीसीसीआई

घरेलू खिलाड़ियों के चोट प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित करेगा बीसीसीआई

24 May 2020 | 8:07 PM

नयी दिल्ली, 24 मई (वार्ता) भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) घरेलू खिलाड़ियों के चोट प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित करेगा।

see more..
आईसीसी इस सप्ताह टी-20 विश्वकप पर ले फैसला : टेलर

आईसीसी इस सप्ताह टी-20 विश्वकप पर ले फैसला : टेलर

24 May 2020 | 7:15 PM

सिडनी, 24 मई (वार्ता) ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के निदेशक मार्क टेलर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से इस साल ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी-20 विश्वकप को लेकर फैसला करने की अपील की है।

see more..
image