Saturday, Feb 16 2019 | Time 05:10 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • नाइजीरिया में बंदूकधारियों ने 66 की हत्या की
  • जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ ऑडियो-वीजुअल के रूप सबूत: विदेश मंत्रालय
  • तमिलनाडु में सड़क हादसे में दो मरे 11 घायल
खेल Share

पिछले लगभग एक वर्ष से अधिक समय से सीमित ओवरों की टीम से बाहर चल रहे अश्विन और जडेजा दोनों के लिये यह टेस्ट सीरीज़ करो या मरो का मुकाबला है। यदि दोनों इस सीरीज़ में शानदार प्रदर्शन करते हैं और भारत को सीरीज़ जीत दिलाने में योगदान देते हैं तो उनके लिये 2019 में इंग्लैंड में ही होने वाले एकदिवसीय विश्वकप के लिये भारतीय टीम में वापसी का रास्ता खुल सकता है।
अश्विन 58 टेस्टों में 316 विकेट ले चुके हैं और वह सबसे तेज़ 300 विकेट पूरे करने वाले गेंदबाज है। उन्होंने 26 बार एक पारी में पांच विकेट और सात बार एक टेस्ट में 10 विकेट लिये हैं। बल्ले से भी अश्विन निचले क्रम में उपयोगी रहे हैं और अब तक 2163 रन बना चुके हैं।
भारत के सबसे कामयाब लेफ्ट आर्म स्पिनर जडेजा ने भी 36 टेस्टों में 171 विकेट लिये हैं और उनके खाते में 1196 रन भी हैं। जडेजा ने एक पारी में पांच विकेट नौ बार और एक टेस्ट में 10 विकेट एक बार लिये हैं। अश्विन ने अफगानिस्तान के खिलाफ जून में खेले गये एकमात्र टेस्ट में कुल पांच विकेट और जडेजा ने छह विकेट हासिल किये हैं। फिलहाल दोनों गेंदबाज़ भारतीय स्पिन आक्रमण की धुरी हैं लेकिन जिस तरह कुलदीप को लेकर चर्चा चल रही है उससे इन दोनों गेंदबाजों को भी खुद को साबित करने की नौबत आ गयी है।
भारत ने इंग्लैंड में अपनी पहली टेस्ट सीरीज़ 1971 में जीती थी और इस इतिहास को कपिल देव ने 1986 में तथा राहुल द्रविड़ ने 2007 में दोहराया था। दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार विराट के पास 11 साल बाद यह इतिहास दोहराने का मौका है।
अजीत वाडेकर की कप्तानी में जब भारत ने 1971 में टेस्ट सीरीज़ जीती थी तब भागवत चंद्रशेखर, एस वेंकटराघवन और बिशन सिंह बेदी की स्पिन तिकड़ी ने सीरीज़ में कुल 37 विकेट लेकर भारत को जीत दिलाई थी। चंद्रशेखर ने 13, वेंकटराघवन ने 13 और बेदी ने 11 विकेट हासिल किये थे।
राज प्रीति
जारी वार्ता
More News
दिल्ली-चंडीगढ़ टीएसडी रैली में हिस्सा लेंगी 300 महिलाएं

दिल्ली-चंडीगढ़ टीएसडी रैली में हिस्सा लेंगी 300 महिलाएं

15 Feb 2019 | 10:56 PM

नयी दिल्ली, 15 फरवरी (वार्ता) नई दिल्ली से चंडीगढ़ के बीच शनिवार को आयोजित होने वाली महिला टीएसडी रैली में देश भर से 300 से अधिक महिला चालक हिस्सा लेंगी। एफएमएससीआई द्वारा मान्यता प्राप्त इस रैली को जेके टायर प्रायोजित कर रहा है।

 Sharesee more..
सिंधू और सायना में होगी खिताबी जंग

सिंधू और सायना में होगी खिताबी जंग

15 Feb 2019 | 10:40 PM

गुवाहाटी, 15 फरवरी (वार्ता) भारत की दो शीर्ष महिला खिलाड़ियों पीवी सिंधू और सायना नेहवाल के बीच पिछले साल की तरह इस साल भी 83वीं सीनियर राष्ट्रीय बैडमिंटन प्रतियोगिता के महिला एकल का खिताबी मुकाबला खेला जाएगा।

 Sharesee more..
मुदिराज चुने गए अमेच्योर कबड्डी महासंघ के अध्यक्ष

मुदिराज चुने गए अमेच्योर कबड्डी महासंघ के अध्यक्ष

15 Feb 2019 | 10:23 PM

नयी दिल्ली, 15 फरवरी (वार्ता) कसानी गुणेश्वर मुदिराज को भारतीय अमेच्योर कबड्डी महासंघ के शुक्रवार को यहां हुए चुनावों में अध्यक्ष चुना गया है।

 Sharesee more..
सुमित और गायत्री करेंगे दिल्ली कबड्डी टीमों की कप्तानी

सुमित और गायत्री करेंगे दिल्ली कबड्डी टीमों की कप्तानी

15 Feb 2019 | 10:09 PM

नयी दिल्ली, 15 फरवरी (‌वार्ता) सुमित और गायत्री कोलकाता में आयोजित 45वीं जूनियर राष्ट्रीय कबड्डी प्रतियोगिता में क्रमश: बालक और बालिका वर्ग में दिल्ली की टीमों की कप्तानी करेेंगे।

 Sharesee more..
सिंधू, मैरीकाम और विनेश के बीच होगा मुकाबला

सिंधू, मैरीकाम और विनेश के बीच होगा मुकाबला

15 Feb 2019 | 9:24 PM

मुंबई, 15 फरवरी (वार्ता) ओलंपिक और विश्व चैंपियनशिप की रजत विजेता बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू, छह बार की विश्व चैंपियन महिला मुक्केबाज एमसी मैरीकाम और राष्ट्रमंडल तथा एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली महिला पहलवान विनेश फोगाट के बीच भारतीय खेल सम्मान में स्पोर्टसवुमैन ऑफ द ईयर अवॉर्ड के लिए मुकाबला होगा।

 Sharesee more..
image