Tuesday, Sep 25 2018 | Time 11:03 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पेट्रोल 14 पैसे, डीजल 11 पैसे तक महँगा
  • अक्षय के बाद अर्जुन कहेंगे सिंह इज किंग !
  • पेट्रोल 14 पैसे, डीजल 11 पैसे तक महँगा
  • साहिर लुधियानवी का किरदार निभाने के लिये बेताब हैं अभिषेक बच्चन
  • बलिया में युवती का शव बरामद
  • असम में भूकंप के हल्के झटके
  • इलाहाबाद एनसीसी कैंप में खाना खाकर 25 से अधिक छात्रों की तबीयत बिगड़ी
  • सोपोर में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों में मुठभेड़
  • बीएचयू में हिंसा, आगजनी एवं तोड़फोड़ के बाद तनाव
  • अमेरिका और चीन ने एक-दूसरे के उत्पादों पर लगाया आयात शुल्क
  • ताइवान को 33 करोड़ डॉलर के रक्षा उपकरण बेचेगा अमेरिका
  • मोदी ने पं दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर दी श्रद्धांजलि
  • मोदी और शाह भोपाल में भाजपा कार्यकर्ता महाकुंभ में होंगे शामिल
  • इजरायल सेना की गोलीबारी में फिलीस्तीनी की मौत
  • उ कोरिया के साथ दूसरी शिखर बैठक जल्द ही : ट्रम्प
खेल Share

पिछले लगभग एक वर्ष से अधिक समय से सीमित ओवरों की टीम से बाहर चल रहे अश्विन और जडेजा दोनों के लिये यह टेस्ट सीरीज़ करो या मरो का मुकाबला है। यदि दोनों इस सीरीज़ में शानदार प्रदर्शन करते हैं और भारत को सीरीज़ जीत दिलाने में योगदान देते हैं तो उनके लिये 2019 में इंग्लैंड में ही होने वाले एकदिवसीय विश्वकप के लिये भारतीय टीम में वापसी का रास्ता खुल सकता है।
अश्विन 58 टेस्टों में 316 विकेट ले चुके हैं और वह सबसे तेज़ 300 विकेट पूरे करने वाले गेंदबाज है। उन्होंने 26 बार एक पारी में पांच विकेट और सात बार एक टेस्ट में 10 विकेट लिये हैं। बल्ले से भी अश्विन निचले क्रम में उपयोगी रहे हैं और अब तक 2163 रन बना चुके हैं।
भारत के सबसे कामयाब लेफ्ट आर्म स्पिनर जडेजा ने भी 36 टेस्टों में 171 विकेट लिये हैं और उनके खाते में 1196 रन भी हैं। जडेजा ने एक पारी में पांच विकेट नौ बार और एक टेस्ट में 10 विकेट एक बार लिये हैं। अश्विन ने अफगानिस्तान के खिलाफ जून में खेले गये एकमात्र टेस्ट में कुल पांच विकेट और जडेजा ने छह विकेट हासिल किये हैं। फिलहाल दोनों गेंदबाज़ भारतीय स्पिन आक्रमण की धुरी हैं लेकिन जिस तरह कुलदीप को लेकर चर्चा चल रही है उससे इन दोनों गेंदबाजों को भी खुद को साबित करने की नौबत आ गयी है।
भारत ने इंग्लैंड में अपनी पहली टेस्ट सीरीज़ 1971 में जीती थी और इस इतिहास को कपिल देव ने 1986 में तथा राहुल द्रविड़ ने 2007 में दोहराया था। दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार विराट के पास 11 साल बाद यह इतिहास दोहराने का मौका है।
अजीत वाडेकर की कप्तानी में जब भारत ने 1971 में टेस्ट सीरीज़ जीती थी तब भागवत चंद्रशेखर, एस वेंकटराघवन और बिशन सिंह बेदी की स्पिन तिकड़ी ने सीरीज़ में कुल 37 विकेट लेकर भारत को जीत दिलाई थी। चंद्रशेखर ने 13, वेंकटराघवन ने 13 और बेदी ने 11 विकेट हासिल किये थे।
राज प्रीति
जारी वार्ता
More News
शहजाद से फिक्सिंग के लिए किया गया था संपर्क

शहजाद से फिक्सिंग के लिए किया गया था संपर्क

24 Sep 2018 | 9:56 PM

दुबई, 24 सितम्बर (वार्ता) अफगानिस्तान के विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद शहजाद से शारजाह में पांच से 23 अक्टूबर तक खेली जाने वाली पहली अफगान प्रीमियर ट्वंटी 20 लीग में खराब प्रदर्शन करने के लिए संपर्क किया गया था।

 Sharesee more..
भारत ने 33 वर्षों में पहली बार ईरान को ड्रा पर रोका

भारत ने 33 वर्षों में पहली बार ईरान को ड्रा पर रोका

24 Sep 2018 | 9:14 PM

कुआलालम्पुर, 24 सितम्बर (वार्ता) भारत की अंडर-16 फुटबॉल टीम ने ईरान को एएफसी अंडर-16 चैंपियनशिप में सोमवार को गोल रहित ड्रा पर रोककर इतिहास रच दिया।

 Sharesee more..
टीवीएस रेसिंग के जगन ने बनायी बढ़त

टीवीएस रेसिंग के जगन ने बनायी बढ़त

24 Sep 2018 | 9:56 PM

बेंगलुरु, 24 सितम्बर (वार्ता) टीवीएस रेसिंग के जगन कुमार ने इंडियन नेशनल मोटरसाइकिल रेसिंग चैंपियनशिप 2018 के चौथे राउंड में जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए चैंपियनशिप में अपनी बढ़त मजबूत कर ली है।

 Sharesee more..
अदिति-तनीशा ने युगल वर्ग में जीता स्वर्ण

अदिति-तनीशा ने युगल वर्ग में जीता स्वर्ण

24 Sep 2018 | 9:56 PM

हल्द्वानी, 24 सितंबर (वार्ता) उत्तराखंड की बैडमिंटन खिलाड़ी अदिति भट्ट ने अखिल भारतीय जूनियर बैडमिंटन रैंकिंग टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करते हुए युगल वर्ग में स्वर्ण पदक जीत लिया।

 Sharesee more..
डालमिया के मेंटर और पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष दत्ता का निधन

डालमिया के मेंटर और पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष दत्ता का निधन

24 Sep 2018 | 8:40 PM

कोलकाता, 24 सितम्बर (वार्ता) भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के पूर्व अध्यक्ष बिश्वनाथ दत्ता का फेफड़ों के संक्रमण से सोमवार सुबह निधन हो गया। वह 92 वर्ष के थे। उनके परिवार में पुत्री और पुत्र सुब्रत दत्ता हैं।

 Sharesee more..
image