Thursday, Sep 20 2018 | Time 03:40 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तीन तलाक पर तीन साल तक की जेल, अध्यादेश को राष्ट्रपित की मंजूरी
खेल Share

भारत ने एशियाई खेलों में एकमात्र बार 1982 में नयी दिल्ली में अपनी मेजबानी में स्वर्ण पदक जीता था। भारतीय पुरुष टीम के सेमीफाइनल में मलेशिया के हाथों सडन डैथ में हारने के बाद उम्मीद थी कि महिला टीम स्वर्ण पदक जीतकर इन जख्मों पर मरहम लगायेगी लेकिन महिला टीम भी निराश कर गयी और उसे दूसरी बार रजत पदक से संतोष करना पड़ा। चीन ने इससे पहले कोरिया को 2-1 से हराकर कांस्य पदक जीता।
भारतीय महिला टीम ने 1982 में स्वर्ण, 1986 में कांस्य, 1998 में रजत, 2006 में कांस्य और 2014 में कांस्य पदक जीता था। इस बार भारत के हाथ रजत पदक लगा। जापानी खिलाड़ियों ने स्वर्ण पदक जीतने के बाद एक-दूसरे को गले लगाकर इसकी खुशी मनाई जबकि फाइनल हारने से भारतीय खिलाड़ी बेहद मायूस हो गयीं।
राज, रवि
जारी वार्ता
More News

19 Sep 2018 | 11:10 PM

 Sharesee more..

19 Sep 2018 | 11:09 PM

 Sharesee more..
जरूरत पर नहीं मिलती खिलाड़ियों को मदद: योगेश्वर

जरूरत पर नहीं मिलती खिलाड़ियों को मदद: योगेश्वर

19 Sep 2018 | 11:01 PM

झुंझुनूं, 19 सितम्बर (वार्ता) ओलम्पिक पस्दक विजेता और पद्मश्री पुरस्कार प्राप्त पहलवान योगेश्वर दत्त ने कहा है कि जब खिलाड़ियों को संसाधनों और सहायता की जरूरत पड़ती है तब उनकी मदद के लिए कोई आगे नहीं आता।

 Sharesee more..
पूनम के चौके से भारतीय महिलाओं ने श्रीलंका को हराया

पूनम के चौके से भारतीय महिलाओं ने श्रीलंका को हराया

19 Sep 2018 | 8:57 PM

काटुनायके, 19 सितम्बर (वार्ता) लेग स्पिनर पूनम यादव (26 रन पर चार विकेट) की घातक गेंदबाजी से भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने श्रीलंका को बुधवार को पहले ट्वंटी-20 मैच में 13 रन से हराकर पांच मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली।

 Sharesee more..

19 Sep 2018 | 8:51 PM

 Sharesee more..
image