Sunday, Feb 17 2019 | Time 01:28 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • डीजीपी ने उठाया कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा का मुद्दा
राज्य Share

दृष्टिहीन शिक्षक जगा रहे शिक्षा की अलख

रायसेन, 04 सितंबर (वार्ता) सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की लापरवाही के तमाम किस्से आपने सुने और देखे होंगे, लेकिन मध्यप्रदेश के रायसेन जिले में एक दृष्टिहीन शिक्षक छात्र छात्राओं में शिक्षा की अलख जला रहा है।
दृष्टिहीन शिक्षक वीरेंद्र कुमार पिछले 12 सालों से अपनी सेवाएं रायसेन जिले के सांचेत के माध्यमिक स्कूल में दे रहे हैं। इनकी काबिलियत को देखते हुए खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक साल पहले भोपाल बुलाकर इनको एक लाख रुपए और ट्राॅफी देकर सम्मानित भी किया है।
श्री कुमार दृष्टिहीन होने के बावजूद बच्चों के दिल में जगह बना कर उनके भविष्य को बेहतर ढंग से संवार रहे हैं। वे ब्रेल लिपि और ऑडियो सुन कर कोर्स को तैयार करते हैं। फिर उन्हें अपने तरीके से बच्चों को समझाते हैं। उनकी पढ़ाई की इस तकनीक को बच्चे बखूबी समझते हैं और उनकी बताई हर बात को याद रखते हैं।
श्री कुमार का कहना है कि समय समय पर ट्रेनिंग और अभ्यास के साथ वह बच्चों का कोर्स तैयार कराते हैं। वे चाहते हैं कि अन्य सरकारी शिक्षक भी पूरी ईमानदारी और लगन से काम करें तो उन्हें भी प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति से सम्मानित होने का मौका मिल सकता है।
कुछ बच्चे श्री कुमार को घर से अपने साथ स्कूल लाते हैं। बच्चों का कहना है कि सर जिस अंदाज में कविता और कहानी बताते हैं, उससे याद करना बहुत आसान हो जाता है।
सं सुधीर
वार्ता
More News
शहीद जवान वसंत का पार्थिव शरीर पंहुचा पैतृक स्थान

शहीद जवान वसंत का पार्थिव शरीर पंहुचा पैतृक स्थान

16 Feb 2019 | 11:27 PM

कोझिकोड 16 फरवरी (वार्ता) जम्मू-कश्मीर के पुलवामा फिदायीन हमले में शहीद हुए केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवान वी.वी वसंत कुमार का पार्थिव शरीर आज यहां दोपहर करीपुर हवाई अड्डे पर पंहुचा।

 Sharesee more..
image