Friday, Apr 19 2019 | Time 05:51 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कांगो में नाव पलटने से 104 लोगों की मौत, 30 को बचाया गया
  • सत्ता पाने के लिए भाजपा बना रही है कश्मीर को बलि का बकरा: महबूबा
  • भाजपा ने की कांग्रेस नेताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग
राज्य


--------------

रोडवेज यूनियनों का 16 सूत्रीय मांगों को लेकर घोषित बसों का चक्का जाम का चरखी दादरी में बेअसर रहा। अल सुबह 4 बजे से पुलिस बल के साथ रोडवेज अधिकारियों ने बसों का संचालन किया। इस दौरान बसों को रोकने का प्रयास कर रहे सात कर्मचारियों को पुलिस ने हिरासत में लिया।
बाद में साथियों की रिहाई को लेकर रोडवेज कर्मचारियों ने रोज गार्डन में मीटिंग कर रोष जताया और चेतावनी दी कि गिरफ्तार कर्मचारियों की रिहाई नहीं की गई तो पूरे हरियाणा को बंद कर दिया जाएगा।
देर रात से बसों का चक्का जाम को लेकर रोडवेज के कर्मचारी बस स्टैंड के आसपास डटे हुए थे। पुलिस व प्रशासन की तरफ से भी चक्का जाम से निपटने को लेकर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए थे।
भिवानी में हड़ताल बेअसर दिखी। हालांकि सुबह कुछ प्रदर्शनकारी रोडवेज वर्कशाप पहुंचे पर महाप्रबंधक का कार्यभार देखे रहे भिवानी के एसडीएम सतीश कुमार ने चेतावनी दी कि अगर किसीने कानून को हाथ में लेने की कोशिश की तो प्रशासन सख्ती से निपटेगा। चप्पे-चप्पे पर पुलिस बलों की तैनाती की गई थी। यहां अधिकांश तय रूट पर बसें चलती दिखीं। यहां इंटक को छोड़कर कई अन्य यूनियनों ने हड़ताल से किनारा कर लिया। इंटक नेता अजय शर्मा ने कहा कि यह लड़ाई आम जनता के हितों के लिए है और प्राईवेट परमिटों के विरोध में है। उन्होंने कहा कि विरोध जारी रहेगा।
रोडवेज महाप्रबंधक सतीश कुमार सैनी ने दावा किया कि सभी बसें तय रूटों पर चल रही हैं व हड़ताल का किसी तरह का असर नहीं है। उन्होंने कहा कि भिवानी व तोशाम में पुख्ता प्रबंध किए गए हैं व 171 बसें अपने-अपने तय रूटों पर चल रही हैं।
सं महेश विक्रम
जारी वार्ता
image