Saturday, Sep 22 2018 | Time 03:01 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राफेल सौदा प्रकरण, फ्रांस की कंपनियां भारतीय सहयोगी चुनने को लेकर स्वतंत्र: फ्रांस सरकार
  • मलिक के कमाल से पाकिस्तान ने अफगानिस्तान को हराया
  • राष्ट्रपति ने नौका हादसे की जांच का दिया आदेश
  • नन से दुष्कर्म का आरोपी बिशप मुलक्कल गिरफ्तार
राज्य Share

राज्य के 19 लाख से अधिक किसानों को मिला ऋण माफी का लाभ

जयपुर, 7 सितम्बर(वार्ता)राजस्थान के सहकारिता मंत्री अजय सिंह किलक ने विधानसभा में कहा कि राज्य में वर्तमान सरकार द्वारा की गई ऋण माफी से 19 लाख 24 हजार 102 किसानों को 5 हजार 461 करोड़ रुपये का ऋण माफी का लाभ दिया जा चुका है तथा शेष पात्र किसानों को 31 अक्टूबर, 2018 तक लाभान्वित कर दिया जाएगा।
श्री किलक विधानसभा में शून्यकाल में इस सम्बन्ध में उठाए गए मुद्दे पर हस्तक्षेप कर जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि देश के कई राज्यों ने किसानों की कर्ज माफी की घोषणा की है, लेकिन राजस्थान ने बहुत कम समय में योजना को क्रियान्वित कर किसानों को लाभ दिया है। उन्होंने बताया कि ब्याज मुक्त फसली ऋण वितरण में राजस्थान देश में सबसे आगे है और वर्तमान सरकार ने राज्य के किसानों को अब तक 70 हजार करोड़ रुपये से अधिक का फसली ऋण वितरण किया है और इस वित्तीय वर्ष के अंत तक यह राशि 80 हजार करोड़ रुपये तक हो जाएगी। जबकि पूर्ववर्ती सरकार ने अपने पांच साल के कार्यकाल में लगभग 25 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त फसली ऋण किसानों को बांटा था।
सहकारिता मंत्री ने बताया कि मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने उदयपुर संभाग के भ्रमण के दौरान जनजाति उपयोजना क्षेत्र के सहकारी बैंकों से कृषि ऋण लेने वाले लघु एवं सीमान्त किसानों की अवधिपार खातों में 31 जुलाई, 2018 को बकाया ऋण माफ किया है। इससे किसानों का लगभग 100 करोड़ रुपये का ऋण माफ होगा तथा बैंकों के पास किसानों की रहन रखी गई लगभग 60 हजार बीघा जमीन किसानों को वापस लौटाई जाएगी। यह पहली बार है, जब टीएसपी एरिया के किसानों को बड़ी राहत दी है।
श्री किलक ने बताया कि वर्तमान सरकार ने किसानों को कम ब्याज पर ऋण देने की पहल की है। पूर्ववर्ती सरकार के समय किसानों को 12.5 प्रतिशत से अधिक पर कृषि ऋण सहकारी भूमि विकास बैंकों से मिलता था। वर्तमान सरकार ने पहले 5 प्रतिशत अनुदान देकर तथा इस वित्तीय वर्ष में 7 प्रतिशत ब्याज अनुदान देकर किसानों को 5.5 प्रतिशत पर सहकारी भूमि विकास बैंकों से कृषि ऋण देने की पहल की है।
श्री किलक ने कहा कि वर्तमान सरकार ने सहकारी संस्थाओं के माध्यम से साढ़े चार वर्षों में 38.90 लाख मीट्रिक टन उपज किसानों से खरीद की है जिसकी राशि 12 हजार 400 करोड़ रुपये से अधिक है। यह पहली बार हुआ है। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार ने अपने पांच वर्ष के कार्यकाल में मात्र एक हजार 121 करोड़ से उपज किसानों से खरीदी थी।
सहकारिता मंत्री ने कहा कि किसानों को व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा के तहत 10 लाख रुपये तक बीमा कवर दिया जा रहा है और फसली ऋण लेने वालेे सभी किसानों को इस योजना से जोड़ा गया है। उन्होंने बताया कि पूर्ववर्ती सरकार ने किसानों को 50 हजार रुपये का दुर्घटना बीमा मिलता था, जिसे हमने लगातार बढ़ाते हुए 10 लाख रुपये किया है। यह बीमा राशि देश में किसी भी राज्य द्वारा अपने किसानों को दिए जाने वाले व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा की सर्वाधिक राशि है।
सैनी
वार्ता
More News
प्रदेश के किसी व्यक्ति पर गलत कार्रवाई नहीं होंने देंगे: सिंधिया

प्रदेश के किसी व्यक्ति पर गलत कार्रवाई नहीं होंने देंगे: सिंधिया

21 Sep 2018 | 11:54 PM

शिवपुरी, 21 सितंबर (वार्ता) अनुसूचित जाति-अनुसूचित जनताति अधिनियम के विरोध के बीच कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के मध्यप्रदेश अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आज सपाक्स को आश्वासन देते हुए कहा कि इस अधिनियम के अन्तर्गत प्रदेश के किसी भी व्यक्ति पर गलत कार्यवाही नहीं होंने देंगे।

 Sharesee more..
हमने जूते-चप्पल पहनाए, कांग्रेस के पेट में मरोड़ हो गई - शिवराज

हमने जूते-चप्पल पहनाए, कांग्रेस के पेट में मरोड़ हो गई - शिवराज

21 Sep 2018 | 11:46 PM

छिंदवाड़ा, 21 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने तपती दोपहर में नंगे पैर तेंदूपत्ता बीनने वाली महिलाओं और पुरुषों को जूते-चप्पल पहनाए, तो कांग्रेस के पेट में मरोड़ उठने लगी।

 Sharesee more..

मालगाड़ी की महिला गार्ड के साथ छेड़छाड़

21 Sep 2018 | 11:38 PM

 Sharesee more..

टीआरएस नेता सपत्नीक कांग्रेस में शामिल

21 Sep 2018 | 11:22 PM

 Sharesee more..
भाजपा ने कुमारस्वामी के खिलाफ राज्यपाल से की शिकायत

भाजपा ने कुमारस्वामी के खिलाफ राज्यपाल से की शिकायत

21 Sep 2018 | 11:17 PM

बेंगलुरु 21 सितम्बर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं ने शुक्रवार को कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच. डी. कुमारस्वामी के जनता को विद्रोह के लिए उकसाने वाले बयान को लेकर उनके खिलाफ राज्यपाल वजुभाई वाला को शिकायत पत्र दिया और श्री कुमारस्वामी के खिलाफ संविधान के अनुसार कार्रवाई करने का आग्रह किया।

 Sharesee more..
image