Monday, Nov 19 2018 | Time 08:33 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • एटा में भागवत कथा के दौरान फायरिंग में किशोर की मृत्यु
  • फ्रांस में देशव्यापी विरोध प्रदर्शन के बावजूद पेट्रोल, डीजल की बढ़ी कीमतें रहेंगी बरकरार
  • ट्रंप नहीं सुनेंगे खशोगी की हत्या का ऑडियो टेप
  • तालिबान के साथ शांति समझौता चाहते हैं खलिलजाद
  • इजरायल में जल्द चुनाव संभव नहीं : नेतन्याहू
  • सबरीमला : श्रद्धालु गिरफ्तार, विजयन के निवास के बाहर प्रदर्शन
  • विजयन के निवास के बाहर श्रद्धालुओं ने किया प्रदर्शन
  • सबरीमला में तनाव बरकरार, भक्ति गीत गाने पर श्रद्धालु गिरफ्तार
  • एचएएल बनायेगा स्वदेशी तेजस लड़ाकू विमान: भामरे
  • सबरीमला मेें मानवाधिकारों का गंभीर उल्लंघन: केरल मानवाधिकार आयोग
  • कांग्रेस ने राजस्थान के लिए सभी उम्मीदवार किये घोषित
राज्य Share

शिव सेना ने भाजपा विधायक कदम की तुलना खिलजी से की

शिव सेना ने भाजपा विधायक कदम की तुलना खिलजी से की

मुंबई 07 सितंबर (वार्ता) शिवसेना ने भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के विधायक राम कदम के विवादित बयान पर उनकी तुलना 13वीं सदी के सुल्तान अलाउद्दीन खिलजी से की।

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने पार्टी मुखपत्र सामना के आज के संपादकीय में लिखा है कि भाजपा ऐसे लोगों को संरक्षण दे रही जो महिलाओं, किसानों और सैनिकों की पत्नियों के बारे में गलत बयानबाजी कर रहे हैं। ऐसे लोगों को छत्रपति शिवाजी महाराज का नाम लेने और राज्य में शासन करने का कोई अधिकार नहीं है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, तीन तलाक के मामले में मुस्लिम महिलाओं को न्याय दिलाने की बात करते हैं जबकि महाराष्ट्र में उनकी पार्टी के विधायक महिलाओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करते हैं।

'रानी पद्मावती ने अपने सम्मान, प्रतिष्ठा और धर्म की रक्षा करने के लिए अन्य हजारों राजपूत महिलाओं के साथ जौहर किया था। अलाउद्दीन खिलजी और उसके उत्पीड़न के खिलाफ उनका जौहर अब भी भारत में महिलाओं के लिए प्रेरणादायक है लेकिन ऐसा दिख रहा है कि महाराष्ट्र में महिलाओं के लिए भाजपा के खिलजी के खिलाफ जौहर करने का समय आ गया है।”

महिलाओं के अधिकारों के बारे में बात करने वाली केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने इस मुद्दे पर चुप्पी क्यों साध रखी है पार्टी ने कहा कि अगर किसी कांग्रेस विधायक ने यह टिप्पणी की होती तो भाजपा हंगामा कर देती।

भगवान कृष्ण महिलाओं के रक्षक थे लेकिन विडंबना यह है कि उनके जन्मदिवस पर भाजपा विधायक ने महिला विरोधी टिप्पणी की।

गौरतलब है कि दही हांडी उत्सव के दिन श्री कदम ने युवाओं को संबोधित करते हुए कहा था,“ जिसे आप पसंद करते हो और उसने विवाह के लिए मना कर दिया तब तुम अपने अभिभावकों के साथ मेरे पास आओ और उनकी सहमति से मैं लड़की को अगवा कर लूंगा और आपको सौंप दूंगा। ”

त्रिपाठी.श्रवण

वार्ता

image