Sunday, Sep 23 2018 | Time 17:25 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ग्रामीणों ने चोर को पीट-पीट कर मार डाला
  • बाढ में फंसे अंतिम संस्कार में शामिल होने गये लोग
  • मूसलाधर बारिश से जनजीवन प्रभावित,चोटियों पर हिमपात
  • बिहार में ट्रस्ट मोड में लागू होगी आयुष्मान भारत योजना : नीतीश
  • विधायक समेत दो नेताओं की हत्या पर नायडू ने जताया क्षोभ
  • बस की ठोकर से साइकिल सवार किशोर की मौत
  • पेट्रोल 17 पैसे और डीजल 10 पैसे महंगा
  • विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना है पीएमजेएवाई : जावड़ेकर
  • नवीन को रजत, अब स्वर्ण की उम्मीदें दीपक से
  • कारोबारी भरोसा सूचकांक में तेज बढोतरी
  • सिक्किम के पहले हवाई अड्डे का उद्घाटन करेंगे मोदी
  • गंगा नदी में डूबने से दो छात्र की मौत
  • टोक्यो ओलम्पिक में दोहरी पदक संख्या का लक्ष्य रखें: बत्रा
  • टोक्यो ओलम्पिक में दोहरी पदक संख्या का लक्ष्य रखें: बत्रा
राज्य Share

इलाहाबाद में गंगा और यमुना के जलस्तर में उफान

इलाहाबाद,09 सितम्बर (वार्ता) तीर्थराज प्रयाग में गंगा और यमुना के जलस्तर में पिछले 24 घंटों के दौरान तेजी से हो रहे उफान से निचले क्षेत्रों में रहने वाले लोगों की जिंदगी एक बार हलाकान होने लगी है। गंगा और यमुना के जलस्तर में 21: 35: और 63 सेंटीमीटर वृद्धी दर्ज किया गया है और दोनो नदियां चार सेंटीमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से बढ़ रही हैं।
उत्तराखण्ड और मध्य प्रदेश में लगातार हो रही बरसात के कारण वहां के बांधो से पानी छोडे जाने से एक बार फिर गंगा और यमुना का जलस्तर बढ़ने लगा। उत्तराखण्ड में बारिश से टिहरी और नरौरा से पानी छोड़े जाने पर गंगा और मध्य प्रदेश में बरसात से केन और बेतवा नदी का पानी यमुना में पहुंचने लगा है और झांसी स्थित माताटीला से पानी छोड़े जाने पर यमुना के जलस्तर में एक बार फिर उफान शुरू हो गया।
सिंचाई विभाग बाढ़ खण्ड के अधिशाषी अभियंता मनोज सिंह का कहना है कि उत्तराखंड में बरसात हो रही है और टिहरी तथा नरौरा बांधों से पानी छोड़े जाने के कारण एक बार फिर नदियों का जलस्तर के साथ मध्य प्रदेश की केन एवं बेतवा नदियों का पानी यमुना में आने से उफान शुरू हो गया।
श्री सिंह ने बताया कि गंगा और यमुना का जलस्तर प्रति घंटे चार सेंटीमीटर की रफ्तार से बढ़ रहा है। उन्होंने बताया कि जिस रफ्तार से गंगा और यमुना का जलस्तर बढ़ रहा है, उसे देखकर लगता है कि गंगा इस बार प्रयाग के काेतवाल कहे जाने वाले बड़े हनुमान जी को स्नान कराने के बाद ही दम लेंगी।
बाढ़ नियंत्रण कक्ष द्वारा प्राप्त आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे के दौरान गंगा और यमुना नदियों के जलस्तर में तेजी से बढ़ोत्तरी जारी है। सुबह आठ बजे गंगा फाफामऊ में 21 सेंटीमीटर, छतनाग में 45 सेंटीमीटर और नैनी में यमुना के जलस्तर में 63 सेंटींमीटर वृद्धि दर्ज की गयी है।
फाफामऊ में गंगा का जलस्तर शनिवार को सुबह आठ बजे जलस्तर क्रमश: 81.44 मीटर, छतनाग में 80.44 और नैनी में यमुना का जलस्तर 81.13 मीटर दर्ज किया गया।
दिनेश सोनिया
वार्ता
image