Monday, Feb 18 2019 | Time 14:07 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • संस्कृति तोड़ती नहीं बल्कि जोड़ती है और सद्भाव पैदा करती है: कोविंद
  • मैं दुनिया का महानतम क्रिकेटर : गेल
  • ब्याज दर में कटौती का लाभ ग्राहकों को देने के लिए बैंकों से कहेगा आरबीआई
  • मेडिकल फेयर इंडिया 21 फरवरी से राजधानी में
  • ब्याज दर में कटौती का लाभ ग्राहकों को देने के लिए बैंकों से कहेगा आरबीआई
  • ट्रंप ने एफबीआई के बजाय पुतिन पर किया भरोसा एंड्रयू
  • पाकिस्तान में रिलीज नहीं होगी ‘टोटल धमाल’
  • विदेशी डाक्टरों ने एम्स में मुर्दों के घुटने बदलने का लिया प्रशिक्षण
  • प्रमुुख मुद्राओं में तेजी
  • मध्यप्रदेश में दो महीने में 12 हजार से भी ज्यादा विभिन्न प्रकार के अपराध
  • सऊदी शहजादे का पाकिस्तान के 2107 कैदियों को रिहा करने का आदेश
  • चेन्नई सर्राफा के शुरुआती भाव
  • चेन्नई तिलहन के भाव
  • पाकिस्तान ने भारत स्थित उच्चायुक्त को बातचीत के लिए बुलाया
राज्य Share

तीन महीने पहले बना पुल बाढ के पानी में बहा

शिवपुरी, 09 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले के पोहरी में राजस्थान की सीमा से लगे क्षेत्र के कूनो नदी पर तीन महीने पहले बना पुल का एक बडा हिस्सा बाढ के पानी में बह गया है।
आधिकारिक सूत्रों के अनुसार बारिश के चलते कूनो नदी उफान पर बह रही है। कल इस पुल का एक हिस्सा टूटकर बह गया। यह पुल तीन महीने पहले ही बना था। इसके धराशाई होने के चलते राजस्थान से जिले का संपर्क टूट गया है। बताया गया है कि 29 मई 2018 को इस पुल का लोकार्पण किया गया था। इस पुल की लागत लगभग 7 करोड़ रुपए आई थी। इसका निर्माण ब्रिज डिवीजन ग्वालियर द्वारा कराया गया था।
नव निर्मित इस पुल के 5 सीमेंट के स्लैब एवं 3 खंबे नदी के तेज बहाव में बह गए। पोहरी विधानसभा सीट से दो बार विधायक रह चुके पूर्व विधायक हरिवल्लभ शुक्ला में बताया कि पोहरी क्षेत्र के लिए यह पल बहुत महत्वपूर्ण था। उन्होंने अपने कार्यकाल में भी इसके निर्माण के लिए प्रयास किए थे। घटिया निर्माण के कारण यह पुल पहली बारिश में ही बह गया। उन्होंने इस पूरे प्रकरण की जांच की मांग की है।
सं बघेल
वार्ता
image