Friday, Jul 19 2019 | Time 17:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सेंसेक्स 560 अंक लुढ़ककर दो महीने के निचले स्तर पर
  • बुंदेलखंड में पलायन की सबसे बडी वजह जल संकट
  • खाद्य तेलों में टिकाव, गेहूँ गरम, मूूंग चढ़ा
  • अंंबानी- अडानी का इतना कसूर कि वे गुजराती हैं- रूपाला
  • इंग्लैंड के स्टोक्स चुने गये ‘न्यूजीलैंडर ऑफ द ईयर’
  • डॉबर का मुनाफा 10 फीसदी बढ़ा
  • पर्ल एकेडमी का शत प्रतिशत प्लेसमेंट का वादा
  • सेंसेक्स 560 अंक लुढ़ककर दो महीने के निचले स्तर पर
  • कार-टैंकर भिडंत में चार मरे, आठ घायल
  • रुपया 17 पैसे चढ़ा
  • कर्नाटक संकट फिर पहुंचा शीर्ष अदालत की चौखट पर
  • भाजपा सरकार अपराध रोकने में नाकाम : प्रियंका
राज्य


जींद की 87 राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कर्मी टर्मिनेट

जींद, 09 सितंबर (वार्ता) प्रदेश सरकार ने बहुद्देशीय स्वास्थ्य कर्मचारियों (एमपीएचडब्ल्यू) की हड़ताल में भाग ले रही राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) की 87 कर्मचारियों को नौकरी से टर्मिनेट करने के आदेश जींद में जारी कर दिए हैं।
मिशन निदेशक ने शनिवार देर शाम ये आदेश जारी किए । प्रदेश में एमपीएचडब्ल्यू कर्मचारी पिछले कई दिनों से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं। उनकी हड़ताल में एनएचएम के तहत नियुक्त एएनएम भी भाग ले रही हैं। जींद जिले में एनएचएम के तहत नियुक्त हुई 87 एएनएम इस हड़ताल में शामिल हैं। इन सभी 87 एएनएम को एनएचएम के मिशन निदेशक ने दो दिन पहले हड़ताल में शामिल होने को लेकर नौकरी से टर्मिनेट करने के नोटिस जारी किए थे। नोटिसों में कहा गया था कि यह हड़ताल एस्मा के तहत प्रदेश सरकार ने गैर-कानूनी घोषित कर दी है। हड़ताल में शामिल एनएचएम कर्मचारियों ने दो दिन में डयूटी ज्वाइन नहीं की तो उन्हें नौकरी से बर्खास्त कर दिया जाएगा।
नोटिसों के बाद भी एनएचएम के तहत जींद में काम कर रही 87 एएनएम काम पर वापस नहीं लौटी तो शनिवार शाम को मिशन निदेशक ने जींद की इन तमाम 87 एएनएम को नौकरी से टर्मिनेट करने के आदेश जारी कर दिए। इसकी पुष्टि जींद में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने की।
सं विजय महेश
वार्ता
image