Tuesday, Sep 25 2018 | Time 14:22 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जम्मू-कश्मीर में सशस्त्र बलों की 400 अतिरिक्त टुकड़ियां
  • शिवराज ने राहुल गांधी पर किया जमकर हमला
  • रुपये की संदर्भ दर
  • न्यूजीलैंड की पीएम बेटी को लेकर पहुंची संरा असेंबली में
  • सीलिंग मामले में मनोज तिवारी को सुप्रीम कोर्ट की फटकार
  • वेंकैया ने की भगवान वेंकटेश्वर की पूजा-अर्चना
  • राष्ट्रीय राजधानी में मौसम रहा खुशनुमा
  • पितृ तर्पण की पहली वेदी है आदिगंगा पुनपुन
  • अलग-अलग सड़क हादसों में दो की मौत,13 छात्र घायल
  • जेल भरो आन्दोलन में हिस्सा लेने आ रहे कांग्रेसजनों की राज्यभर में गिरफ्तारी
  • कार्यकर्ता महाकुंभ में शामिल होने मोदी पहुंचे भोपाल
  • जेल सुधारों के लिए तीन-सदस्यीय समिति गठित
  • सीरिया में एस-300 मिसाइल प्रणाली की तैनाती रूस की ‘भारी भूल’: अमेरिका
  • ‘माननीयों को वकालत करने से नहीं रोका जा सकता’
  • कार से भारी मात्रा में शराब बरामद
राज्य Share

श्री नायडू ने कहा कि वर्ष 2013-14 में अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें 105.52 डालर प्रति बैरल थी अौर यह घटकर 2015-16 में 46 डालर प्रति बैरल रह गई तथा इस समय 72़ 23 डालर प्रति बैरल हैं। इसी तरह 2014 में पेट्रोल की कीमतें 49़ 60 रूपए प्रति लीटर थी और अब यह 86़ 71 रूपए प्रति लीटर हैं।
इसी तरह डीजल की कीमतें 2014 में 62़ 98 रूपए प्रति लीटर थी और अब यह दर 79़ 98 रूपए प्रति लीटर है। उन्होंने आरोप लगाया कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में कमी के बावजूद केन्द्र सरकार पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में कमी करने में नाकाम रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि 2014 में डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 3़ 56 रूपए प्रति लीटर थी जो सितंबर 2017 में बढ़कर 17़ 33 रूपए प्रति लीटर हो गई थी। इसी तरह पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 2014 में 9़ 48 रूपए थी जो 2018 में बढ़कर 19़ 48 रूपए प्रति लीटर हो गई है। इसके अलावा केन्द्र सरकार ने आधारभूत ढांचे के नाम पर पेट्रोल पर सात रूपए और डीजल पर आठ रूपए का अतिरिक्त बोझ डाल रखा है जिसका खामियाजा आखिरकार आम आदमी को ही देना भुगतना पड़ रहा है।
उन्होंने कहा कि आम आदमी पर एक्साइज ड्यूटी के नाम का बोझ को डाल कर पिछले साढ़े चार वर्षों में केन्द्र सरकार ने दस लाख करोड़ रूपए एकत्र कर लिए हैं। श्री नायडू ने कहा कि पेट्रोलियम उत्पादों में बढ़ोत्तरी का सीधा असर आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में इजाफे के तौर पर देखने को मिलेगा।
उन्हाेंने केन्द्र सरकार से मांग करते हुए कहा कि वह आम आदमी के हितों को ध्यान में रखते हुए तत्काल पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में कमी करे।
जितेन्द्र आशा
वार्ता
More News

शिवराज ने राहुल गांधी पर किया जमकर हमला

25 Sep 2018 | 2:15 PM

भोपाल, 25 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर जमकर हमला बाेलते हुए कहा कि उन्होंने देश को 'मनोरंजन' और राजनीति को 'तमाशा' बना दिया है।

 Sharesee more..
भाजपा का महाकुंभ, कांग्रेस ने बोला हमला

भाजपा का महाकुंभ, कांग्रेस ने बोला हमला

25 Sep 2018 | 1:58 PM

भोपाल, छिंदवाड़ा, 25 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में आज भारतीय जनता पार्टी की ओर से आयोजित हो रहे कार्यकर्ता महाकुंभ के पहले कांग्रेस के आला नेतृत्व ने इस आयोजन पर हमला बोलते हुए भाजपा से सवाल किए हैं।

 Sharesee more..
वेंकैया ने की भगवान वेंकटेश्वर की पूजा-अर्चना

वेंकैया ने की भगवान वेंकटेश्वर की पूजा-अर्चना

25 Sep 2018 | 1:35 PM

तिरुमला 25 सितंबर (वार्ता) उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने अपने परिवार के साथ मंगलवार काे भगवान वेंकटेश्वर की पूजा-अर्चना की।

 Sharesee more..
कार्यकर्ता महाकुंभ में शामिल होने मोदी पहुंचे भोपाल

कार्यकर्ता महाकुंभ में शामिल होने मोदी पहुंचे भोपाल

25 Sep 2018 | 1:33 PM

भोपाल, 25 सितंबर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी की मध्यप्रदेश इकाई की ओर से आज राजधानी भोपाल में हो रहे कार्यकर्ता महाकुंभ में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भोपाल पहुंच गए।

 Sharesee more..
भोपाल हुआ 'भाजपामय', चप्पे-चप्पे पर भगवा ध्वज

भोपाल हुआ 'भाजपामय', चप्पे-चप्पे पर भगवा ध्वज

25 Sep 2018 | 1:26 PM

भोपाल, 25 सितंबर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी की मध्यप्रदेश इकाई के आज राजधानी भोपाल में होेने जा रहे 'कार्यकर्ता महाकुंभ' में पार्टी की ओर से करीब 10 लाख कार्यकर्ताओं के शामिल होने के दावे के बीच पार्टी ने समूची राजधानी को 'भाजपामय' करने की कोशिश की है।

 Sharesee more..
image