Tuesday, Nov 20 2018 | Time 22:57 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • चित्रकूट में सरकार की नीतियों के खिलाफ मंच साझा करेंगे शत्रुघ्न एवं हार्दिक
  • उत्तराखंड नगर निकाय चुनाव में भाजपा लगातार आगे
  • मिर्जापुर में जुलूस पर पथराव के बाद तनाव, कई घायल
  • मराठा समुदाय के साथ मुसलमानों को भी आरक्षण दिया जाय: पवार
  • रघुवर ने दिव्यांग युवा लेखिका की पुस्तक का किया लोकार्पण
  • रायबरेली से अपहृत युवक मुक्त, चार बदमाश गिरफ्तार
  • अजय राजनीतिक नहीं पुत्र मोह दल बना रहे हैं:अभय चौटाला
  • दुमका में चार कट्टर नक्सली गिरफ्तार,भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद
  • नोटबंदी की दवाई से भ्रष्टाचार का दीमक नहीं बल्कि निर्दोष मरे: कमलनाथ
  • बिलासपुर जिले की मरवाही में सर्वाधिक मतदान
  • सबरीमला मामले में केरल सरकार महिलाओं पर अत्याचार कर रही है: विहिप
  • सेना का मनोबल तोड़ने वाले आप नेता पाकिस्तान से मिले: विज
  • बेटियों को ‘सम्मान’ समझने के लिए कन्या उत्थान योजना : नीतीश
  • राहुल ने मिजोरम के लोगों से की भावनात्मक अपील
राज्य Share

श्री नायडू ने कहा कि वर्ष 2013-14 में अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें 105.52 डालर प्रति बैरल थी अौर यह घटकर 2015-16 में 46 डालर प्रति बैरल रह गई तथा इस समय 72़ 23 डालर प्रति बैरल हैं। इसी तरह 2014 में पेट्रोल की कीमतें 49़ 60 रूपए प्रति लीटर थी और अब यह 86़ 71 रूपए प्रति लीटर हैं।
इसी तरह डीजल की कीमतें 2014 में 62़ 98 रूपए प्रति लीटर थी और अब यह दर 79़ 98 रूपए प्रति लीटर है। उन्होंने आरोप लगाया कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में कमी के बावजूद केन्द्र सरकार पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में कमी करने में नाकाम रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि 2014 में डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 3़ 56 रूपए प्रति लीटर थी जो सितंबर 2017 में बढ़कर 17़ 33 रूपए प्रति लीटर हो गई थी। इसी तरह पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 2014 में 9़ 48 रूपए थी जो 2018 में बढ़कर 19़ 48 रूपए प्रति लीटर हो गई है। इसके अलावा केन्द्र सरकार ने आधारभूत ढांचे के नाम पर पेट्रोल पर सात रूपए और डीजल पर आठ रूपए का अतिरिक्त बोझ डाल रखा है जिसका खामियाजा आखिरकार आम आदमी को ही देना भुगतना पड़ रहा है।
उन्होंने कहा कि आम आदमी पर एक्साइज ड्यूटी के नाम का बोझ को डाल कर पिछले साढ़े चार वर्षों में केन्द्र सरकार ने दस लाख करोड़ रूपए एकत्र कर लिए हैं। श्री नायडू ने कहा कि पेट्रोलियम उत्पादों में बढ़ोत्तरी का सीधा असर आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में इजाफे के तौर पर देखने को मिलेगा।
उन्हाेंने केन्द्र सरकार से मांग करते हुए कहा कि वह आम आदमी के हितों को ध्यान में रखते हुए तत्काल पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में कमी करे।
जितेन्द्र आशा
वार्ता
More News

रिश्वत लेते बैंक मैनेजर गिरफ्तार

20 Nov 2018 | 9:44 PM

 Sharesee more..
खाद नहीं मिलने पर किसानों ने किया राष्ट्रीय राजमार्ग जाम

खाद नहीं मिलने पर किसानों ने किया राष्ट्रीय राजमार्ग जाम

20 Nov 2018 | 9:38 PM

रायबरेली, 20 नवम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में खाद नहीं मिलने से परेशान किसानों ने मंगलवार को राष्ट्रीय राजमार्ग-24 बी को जाम कर दिया।

 Sharesee more..
निगम -विहिप संघर्ष मामले  की जांच के लिए टीम का गठन :मंडलायुक्त

निगम -विहिप संघर्ष मामले की जांच के लिए टीम का गठन :मंडलायुक्त

20 Nov 2018 | 9:26 PM

झांसी 20 नंवबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश में झांसी मंडलायुक्त ने नगर निगम के कर्मचारियों और विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के कार्यकर्ताओं के बीच हुए संघर्ष मामले की जांच के लिए एक टीम का गठन किया है और उसे एक सप्ताह में जांच रिपोर्ट देने के आदेश दिये गये हैं।

 Sharesee more..
image