Thursday, Jul 18 2019 | Time 16:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • एचपी ने लाँच किया नया प्रोबुक 445 जी 6
  • ईबे करेगी पेटीएम मॉल में निवेश,लेगी 5 5 प्रतिशत हिस्सेदारी
  • ट्रम्प पर महाभियोग चलाने का प्रस्ताव गिरा
  • 2020 में विश्व खिताब जीतना है लक्ष्य: विजेन्दर
  • फोटो कैप्शन पहला सेट
  • बाबा रामदेव मंदिर से मुकुट और नकदी चोरी
  • राज्यसभा में अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता एवं सुलह केन्द्र बनाने की मांग
  • एशिया को फतह करने लेबनान रवाना भारत की लड़कियां
  • दिल्ली में 8 सितंबर को होगा 7वीं पिंकाथॉन दौड़ का आयोजन
  • दिल्ली में 8 सितंबर को होगा 7वीं पिंकाथॉन दौड़ का आयोजन
  • गुरु नानक देव के 550वें प्रकाशोत्सव को समर्पित पंजाब खेल कैलेंडर जारी
  • मानसून सत्र के पहले दिन विपक्ष के हंगामे के बीच परिषद की कार्यवाही स्थगित
  • भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाना सरकार की बड़ी सफलता : निशिकांत
राज्य


पुलिस मुख्यालय की ओर से जारी आंकड़े के अनुसार, बंद के दौरान जमशेदपुर में सबसे अधिक 831 समर्थक हिरासत में लिये गये। वहीं, रांची में 535, खूंटी में 30, गुमला में 441, सिमडेगा में 131, लोहरदगा में 380, चाइबासा में 140, सरायकेला में 392, पलामू में 178, गढ़वा में 301, लातेहार में 255, हजारीबाग में 391, रामगढ़ में 177, गिरिडीह में 609, कोडरमा में 304, चतरा में 157, बोकारो में 350, धनबाद में 482, दुमका में 315, देवघर में 618, जामताड़ा में 517, पाकुड़ में 165, गोड्डा में 378 और साहेबगंज में 707 लोगों को हिरासत में लिया गया।
अपर पुलिस महानिदेशक (अभियान) एवं झारखंड पुलिस प्रवक्ता आर. के. मलिक ने कहा कि सुरक्षा के मद्देनजर बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की बदौलत राज्य में बंद शांतिपूर्ण रहा। इसके अलावा असामाजिक तत्वों से निपटने के लिए भी व्यापक उपाय किये गये थे। उन्होंने कहा कि जैसे ही बंद समर्थक सड़कों पर आये उन्हें तुरंत हिरासत में ले लिया गया।
श्री मलिक ने कहा कि बंद के कारण लंबी दूरी के वाहनों का परिचालन ठप रहा तथा खनिजों की ढुलाई का काम भी प्रभावित हुआ। उन्होंने कहा कि हालांकि इस दौरान राज्य के किसी भी क्षेत्र से अप्रिय घटना की सूचना प्राप्त नहीं हुई है।
सूरज रमेश
वार्ता
More News
'आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस' का बड़ा केंद्र बनाना चाहते हैं मध्यप्रदेश को - कमलनाथ

'आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस' का बड़ा केंद्र बनाना चाहते हैं मध्यप्रदेश को - कमलनाथ

18 Jul 2019 | 4:54 PM

भोपाल, 18 जुलाई (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज विधानसभा में कहा कि उनकी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता नौजवान और उन्हें रोजगार मुहैया कराना है और मुख्य रूप से इसी को ध्यान में रखकर सरकार अपनी नीतियां बनाकर चल रही है। उन्होंने कहा कि वे मध्यप्रदेश को 'आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस' का बड़ा केंद्र बनाना चाहते हैं।

see more..
कृषि निर्यात के लिए नॉन टेरिफ बेरियर्स समाप्त करने केन्द्र करे विशेष प्रयास: कमलनाथ

कृषि निर्यात के लिए नॉन टेरिफ बेरियर्स समाप्त करने केन्द्र करे विशेष प्रयास: कमलनाथ

18 Jul 2019 | 4:46 PM

भोपाल, 18 जुलाई (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भारतीय कृषकों की आय बढ़ाने अंतर्राष्ट्रीय बाजार में उनके उत्पाद के निर्यात के लिए ‘नॉन टेरिफ बेरियर्स’ हटाने पर केन्द्र सरकार से विशेष प्रयास करने को कहा है।

see more..
image