Tuesday, Nov 20 2018 | Time 19:37 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राजस्थान में 613 नामांकन रद्द
  • निगम -विहिप संघर्ष मामले की जांच के लिए टीम का गठन :मंडलायुक्त
  • सिख दंगों के एक मामले में एक को फांसी, दूसरे को आजीवन कारावास 35 35 लाख रुपए जुर्माना
  • झारखंड विद्युत प्रणाली सुधार परियोजना के लिए विश्व बैंक देगा 31 करोड़ डॉलर का ऋण
  • आप या बसपा के साथ गठबंधन पर कर रहे हैं विचार: दिग्विजय
  • फूजी फिल्म का दिल्ली एनसीआर में ग्राफिक आर्ट्स डेमो सेंटर शुरू
  • तुर्की में 195 गुलेन समर्थकों की गिफ्तारी का वारंट जारी
  • उप्र में बारावफात के मौके पर सुरक्षा व्यवस्था बनाये रखने के निर्देश
  • अमरिन्दर 23 नवंबर को करेंगे वृक्षारोपण
  • नरसिंहपुर में भाजपा और कांग्रेस में जोरदार टक्कर
  • सिख हत्याकांड पर आए फैसले का भाई लोंगोवाल ने किया स्वागत
  • रमन ने परिवार सहित गृह नगर कवर्धा में किया मतदान
  • यौन शोषण मामले में उच्च न्यायालय ने संस्थान से मांगी रिपोर्ट
  • झांसी: निगम कर्मचारियों और विहिप कार्यकर्ताओं के बीच जमकर चले लाठी डंडे
  • गुजरात सरकार शेरों और अन्य वन्यजीवों के लिए 50 करोड़ की लागत से बनायेगी अत्याधुनिक अस्पताल
राज्य Share

त्रिपुरा में निकाय उपचुनाव पूर्व हिंसा में 47 घायल

अगरतला 12 सितंबर (वार्ता) त्रिपुरा में निकाय उपचुनाव से पहले विपक्षी राजनीतिक दलों और सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की सहयोगी दलों के बीच कई जगहों पर संघर्ष हुआ , जिसमें एक पुलिस अधिकारी सहित 47 लोग घायल हो गए।
पुलिस सूत्रों ने बताया कि भाजपा और आईपीएफटी कार्यकर्ताओं के बीच मंगलवार देर रात उत्तरी त्रिपुरा, ढलाई जिला, खोवई जिला, पश्तिमी त्रिपुरा और गोमती जिले में कई जगहों पर मारपीट की घटनाएं हुई। ढलाई जिले में हिंसा के दौरान एक त्रिपुरा पुलिस सेवा अधिकारी और तीन अन्य पुलिसकर्मियों सहित 47 लोग घायल हुए हैं।
मंगलवार को एक सड़क दुर्घटना में एक व्यक्ति की मौत के बाद स्थानीय लोगों की भीड़ ने लॉरी के सहायक की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। दुर्घटना के बाद गुस्साए स्थानीय लोगों ने लॉरी के चालक और सहायक का टीएसआर शिविर के पास पीछा किया। शिविर में ही लोगों ने चालक और उसके सहायक को पीटा और शिविर भी आग लगा दी। घटना के बाद से राज्य का एक बड़ा हिस्सा अशांत है जिससे भाजपा- इंडीजीनस पीपुल्स फ्रंट ऑफ इंडिया(आईपीएफटी) गठबंधन सरकार के बने रहने पर सवाल उठने लगे हैं।
रमेश टंडन
वार्ता
image