Thursday, Feb 21 2019 | Time 19:30 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • गांरटीड इनकम पर नया प्लान
  • अपने हिस्सा का पानी पाकिस्तान जाने से रोकेगा भारत
  • हिमाचल हिमस्खलन: मौसम खराब, शुरू नहीं हो सका बचाव अभियान
  • लोस चुनाव में जिले के सभी बूथों पर वीवीपैट मशीनों का होगा प्रयोग: वरिंदर
  • मोबिक्विक ऐप पर 20 में एक लाख का समूह सुक्ष्म जीवन बीमा
  • अमृतधारी छात्राओं की फीस नहीं बढ़ेगी : एसजीपीसी
  • एटीके को हराकर प्लेऑफ में जाना चाहेगा मुम्बई
  • विधानसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, सत्र संपन्न
  • एसजीपीसी ने किया गुरुद्वारा की जमीन देने से इंकार
  • अमृतसर की पुरानी जेल में बनेगा वाणिज्यिक केंद्र
  • यूनिवर्सल हेल्थकेयर सुनिश्चित करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध: नड्डा
  • कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करें सिख : भौमा
  • भारत, दक्षिण कोरिया के साथ मिलकर इलेक्ट्राॅनिक हब बनेगा: मोदी
  • शाह करेंगे शक्ति केंद्र कार्यकर्ताओं के साथ बैठक
  • नाबालिग भतीजी से बलात्कार : अंतिम सांस तक कैद की सजा
भारत Share

निजी वाहनों के पूर्ण उपयोग के लिए वाहन पूलिंग पर हो जोर: मोदी

निजी वाहनों के पूर्ण उपयोग के लिए वाहन पूलिंग पर हो जोर: मोदी

नयी दिल्ली 07 सितंबर(वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत को दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बताते हुये शुक्रवार को कहा कि निजी वाहनों का पूर्ण उपयोग सुनिश्चित करने के लिए वाहन पूलिंग की संभावनाओं का पूरा लाभ उठाया जाना चाहिए और ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित की चाहिए कि भविष्य में निजी वाहनों की तुलना में सार्वजनिक परिवहन को बढ़ावा मिले।

श्री मोदी ने देश में पर्यावरण अनुकूल एवं इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को बढ़ावा देने पर विचार विमर्श के लिए नीति आयोग द्वारा आयोजित पहले वैश्विक मोबिलिटी शिखर सम्मेलन का यहां शुभारंभ करते हुये कहा कि भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाला अर्थव्यवस्था है। उन्होंने कहा “इंडिया इज ऑन द मूव ,आवर इकोनॉमी इज ऑन द मूव”। उन्होंने मोबिलिटी की आवश्यकता और महत्व पर प्रकाश डालते हुये कहा कि मोबिलिटी अर्थव्यवस्था को गति देने वाला मुख्य कारक है। बेहतर मोबिलिटी से यात्रा और परिवहन का बोझ कम होता है तथा इससे अर्थव्यवस्था को गति मिल सकती है। मोबिलिटी रोजगार प्रदान करने वाला बहुत बड़ा क्षेत्र है और इस क्षेत्र में रोजगार के नये अवसर पैदा होने की व्यापक संभावना है।

उन्होंने कहा कि भारत में भविष्य की मोबिलिटी पर उनका दृष्टिकोण ‘7 सी’पर आधारित है। इनमें कॉमन, कनेक्टेड, कॉन्वेनियेंट, कंजेशन फ्री, चार्जड, क्लीन, कटिंग ऐज शामिल हैं। उन्होंने मोबिलिटी के दूसरे पहलुओं पर ध्यान केन्द्रित करते हुये कहा कि कनेक्टेड मोबिलिटी से भाैगोलिक एकीकरण के साथ ही परिवहन के साधन जुड़ते हैं। इंटरनेट से जुड़ी भागीदारी वाली अर्थव्यवस्था उभर रही है क्योंकि यह मोबिलिटी का आधार है। उन्होंने कहा कि निजी वाहनों का पूरा उपयोग सुनिश्चित करने के लिए वाहन पूलिंग की पूरी संभावनाओं का लाभ उठाया जाना चाहिए।

शेखर अर्चना

जारी/वार्ता

More News
एक दिन में 22 करोड़ घरों में ‘कमल ज्योति’ जागृत करेगी भाजपा

एक दिन में 22 करोड़ घरों में ‘कमल ज्योति’ जागृत करेगी भाजपा

21 Feb 2019 | 6:49 PM

नयी दिल्ली 21 फरवरी (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) 26 फरवरी को ‘कमल ज्याेति’ अभियान के तहत एक ही दिन में देशभर में लगभग 22 करोड़ गरीब घरों में संपर्क करेगी जिन्हें राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की गरीब कल्याण योजनाओं में से किसी ना किसी योजना का लाभ मिला है।

 Sharesee more..
कश्मीरी बच्चों पर हमला अनुचित : आजाद

कश्मीरी बच्चों पर हमला अनुचित : आजाद

21 Feb 2019 | 6:17 PM

नयी दिल्ली, 21 फरवरी (वार्ता) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि कश्मीर के लोग देशभक्त हैं और पाकिस्तानियों को खदेड़ने में उनकी अहम भूमिका रही है इसलिए देश के विभिन्न हिस्सों में पढने वाले कश्मीरी बच्चों और वहां के लोगों पर हमला करना उनके साथ नाइंसाफी है।

 Sharesee more..
लाखों आदिवासियों को बेदखल किये जाने पर मोदी को पत्र

लाखों आदिवासियों को बेदखल किये जाने पर मोदी को पत्र

21 Feb 2019 | 6:16 PM

नयी दिल्ली 21 फरवरी (वार्ता) मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर 22 लाख आदिवासियों को जंगल से बेदखल किये जाने के फैसले पर उनसे इस मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की और अध्यादेश जारी करने का अनुरोध किया है।

 Sharesee more..
image