Saturday, Feb 22 2020 | Time 09:48 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मैक्सिको में सड़क दुर्घटना में आठ लोगों की मौत
  • कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 2345
  • कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 2345
  • नागपुर में मिट्टी का टीला ढहने से 4 की मौत, 3 घायल
  • अनंतनाग मुठभेड़ में लश्कर के दो आतंकवादी ढेर
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 23 फरवरी)
  • अनंतनाग में मूुठभेड़, लश्कर के दो आतंकवादी मारे गये
  • जिनपिंग ने कोरोना वायरस से लड़ने में मदद के लिए गेट्स का जताया आभार
  • इटली में कोरोना वायरस से पहली मौत
  • ‘कोरोना का चीन-आसियान समझौते पर नहीं पड़ेगा असर’
  • अमेरिका ने भारत के व्यापारिक बाधाओं को लेकर जताई चिंता
  • गुटेरेस ने सीरिया के इडलिब में जारी हिंसा को रोकने की अपील की
मनोरंजन


संजय दत्त 60 वर्ष के हुये

संजय दत्त 60 वर्ष के हुये

जन्म दिन 29 जुलाई

मुंबई 29 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड में संजय दत्त का नाम उन गिने चुने अभिनेताओं में शुमार किया जाता है जिन्होंने लगभग तीन दशक से अपने दमदार अभिनय से दर्शकों के दिल में आज भी एक ख़ास मुकाम बना रखा है।

मुंबई में 29 जुलाई 1959 को जन्मे संजय दत्त को अभिनय की कला विरासत में मिली। उनके पिता सुनील दत्त अभिनेता और मां नरगिस जानी मानी फिल्म अभिनेत्री थी। घर में फिल्मी माहौल रहने के कारण वह अक्सर अपने माता-पिता के साथ शूटिंग देखने जाया करते थे। इस वजह से उनका भी रूझान फिल्मों की ओर हो गया और वह भी अभिनेता बनने के ख्वाब देखने लगी।

उन्होंने बतौर बाल कलाकार अपने सिने करियर की शुरूआत अपने पिता के बैनर तले बनी फिल्म रेशमा और शेरा से की। बतौर अभिनेता उन्होंने अपने करियर की शुरूआत वर्ष 1981 में प्रदर्शित फिल्म “रॉकी” से की। दमदार निर्देशन, पटकथा और गीत -संगीत के कारण फिल्म टिकट खिड़की पर सुपरहिट साबित हुयी।

वर्ष 1982 मे संजय दत्त को निर्माता -निर्देशक सुभाष घई की फिल्म ‘विधाता’ में काम करने का अवसर मिला। यूं तो पूरी फिल्म अभिनेता दिलीप कुमार, संजीव कुमार और शम्मी कपूर जैसे नामचीन अभिनेताओं के इर्द गिर्द घूमती थी लेकिन संजय दत्त ने फिल्म में अपनी छोटी सी भूमिका में दर्शकों का दिल जीत लिया। वर्ष 1982 से 1986 तक का वक्त संजय दत्त के सिने करियर के लिये बुरा साबित हुआ। इस दौरान उनकी जानी आई लव यू, मैं आवारा हूं, बेकरार, मेरा फैसला, जमीन आसमान, दो दिलों की दास्तान, मेरा हक और जीवा जैसी कई फिल्में बॉक्स आफिस पर असफल हो गयी हालांकि वर्ष 1985 में प्रदर्शित फिल्म “जान की बाजी” टिकट खिड़की पर औसत कारोबार करने में सफल रही।

संजय दत्त की किस्मत का सितारा वर्ष 1986 में प्रदर्शित फिल्म “नाम” से चमका। यूं तो यह फिल्म राजेन्द्र कुमार ने अपने पुत्र कुमार गौरव को फिल्म इडस्ट्री में दोबारा स्थापित करने के लिये बनायी थी लेकिन फिल्म में उनकी भूमिका को दर्शकों द्वारा ज्यादा पसंद किया गया। फिल्म की सफलता के साथ ही संजय दत्त एक बार फिर से फिल्म इंडस्ट्री में अपनी खोई हुयी पहचान बनाने में कामयाब हो गये। फिल्म नाम की सफलता के बाद उनकी छवि एंग्री यंग मैन स्टार के रूप में बन गयी। इस फिल्म के बाद निर्माता निर्देशकों ने अधिकतर फिल्मों में संजय दत्त की इसी छवि को भुनाया। इन फिल्मों में जीते है शान से, खतरों के खिलाड़ी, ताकतवर, हथियार, इलाका, जहरीले, क्रोध और खतरनाक जैसी फिल्में शामिल है।

वर्ष 1991 में प्रदर्शित फिल्म “सड़क” संजय दत्त के सिने करियर की महत्वपूर्ण फिल्मों में शुमार की जाती है। महेश भटृ के निर्देशन में बनी इस फिल्म में उनके अभिनय में एक्शन के साथ ही रोमांस का अनूठा संगम देखने को मिला। वर्ष 1991 में ही प्रदर्शित फिल्म “साजन” संजय दत्त के सिने करियर की महत्वपूर्ण फिल्मों में शुमार की जाती है। लाॅरेंस डिसूजा के निर्देशन में बनी संगीतमय इस फिल्म में उनके अभिनय का नया रूप देखने को मिला। इस फिल्म में निर्देशक ने उनकी मारधाड़ वाली छवि को छोड़ उन्हें एक नये अंदाज में पेश किया। फिल्म में अपने दमदार अभिनय के कारण वह अपने सिने करियर में पहली बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के फिल्मफेयर पुरस्कार के लिये नामांकित हुये ।

वर्ष 1992 में प्रदर्शित फिल्म “खलनायक” संजय दत्त के सिने करियर की सुपरहिट फिल्मों में शुमार की जाती है। देखा जाये तो फिल्म में उनका यह किरदार पूरी तरह ग्रे शेडस लिये हुये था बावजूद इसके वह दर्शकों की सहानुभूति पाने में कामयाब हुये और अपने दमदार अभिनय से फिल्म को सुपरहिट बना दिया। वर्ष 1993 संजय दत्त के व्यक्गित जीवन में काला वर्ष साबित हुआ। मुंबई बम विस्फोट में नाम आने की वजह से उन्हें जेल तक जाना पड़ा। लगभग 16 महीने तक जेल रहने के बाद वह जमानत पर रिहा हुये। वर्ष 1993 से 1999 तक संजय दत्त की कुछ फिल्में प्रदर्शित हुयी जो टिकट खिड़की पर खास कमाल नहीं दिखा सकी।

वर्ष 1999 में प्रदर्शित फिल्म “वास्तव” संजय दत्त के सिने करियर की महत्वपूर्ण फिल्म साबित हुयी । फिल्म में अपने दमदार अभिनय के लिये संजय दत्त अपने सिने करियर में पहली बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित किये गये। वर्ष 1999 में उनके सिने करियर की एक और सुपरहिट फिल्म ‘हसीना मान जायेगी’ प्रदर्शित हुयी। डेविड धवन निर्देशित इस फिल्म में उनके अभिनय का नया रंग देखने को मिला। इस फिल्म से पहले उनके

बारे में यह धारणा थी कि वह केवल संजीदा या मारधाड़ वाली भूमिकाएं निभाने में ही सक्षम है लेकिन इस फिल्म में उन्होंने गोविन्दा के साथ जोड़ी जमाकर अपने जबरदस्त हास्य अभिनय से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया ।

वर्ष 2003 में प्रदर्शित फिल्म “मुन्ना भाई एम बी बी.एस.” संजय के सिने करियर की सर्वाधिक सुपरहिट फिल्मों में शुमार की जाती है। फिल्म में संजय दत्त और अरशादी वारसी की जोड़ी ने जबरदस्त धमाल मचाकर सिने प्रेमियों को रोमांचित कर दिया। फिल्म में अपने दमदार अभिनय के लिये संजय दत्त सर्वश्रेष्ठ हास्य कलाकार के फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित किये गये। वर्ष 2006 में फिल्म की सफलता को देखते हुये इसका सीक्वल “लगे रहो मुन्ना भाई” बनाया गया जिसे टिकट खिड़की पर जबरदस्त सफलता मिली ।

संजय दत्त के सिने करियर में उनकी जोड़ी अभिनेत्री माधुरी दीक्षित के साथ काफी पसंद की गयी। उन्होंने कई फिल्मों में अपने पार्श्वगायन से भी श्रोताओं को दीवाना बनाया है। संजय ने अपने सिने करियर में अबतक लगभग 150 फिल्मों में अभिनय किया है। उनकी इस वर्ष कलंक प्रदर्शित हुयी है। संजय दत्त की आने वाली फिल्मों में पानीपत, शमशेरा, सड़क-2 आदि शामिल है।

 

More News
गुंजन सक्सेना द कारगिल वॅार देखने को उत्साहित हैं सोनम

गुंजन सक्सेना द कारगिल वॅार देखने को उत्साहित हैं सोनम

21 Feb 2020 | 11:00 AM

मुंबई 21 फरवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री सोनम कपूर फिल्म ‘गुंजन सक्सेना- द कारगिल वॅार’ देखने के लिये उत्साहित हैं।

see more..
कुली नं 1 के रीमेक के लिए वरूण को गोविंदा की बधाई

कुली नं 1 के रीमेक के लिए वरूण को गोविंदा की बधाई

21 Feb 2020 | 10:53 AM

मुंबई 21 फरवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता गोविंदा ने कुली नं 1 के रीमेक के लिये वरूण धवन को बधाई दी है।

see more..
‘पवन एंड पूजा’ में दीप्ति संग नजर आएंगे महेश मांजरेकर

‘पवन एंड पूजा’ में दीप्ति संग नजर आएंगे महेश मांजरेकर

21 Feb 2020 | 10:48 AM

नयी दिल्ली 21 फरवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता एवं निर्देशक महेश मांजरेकर पवन एंड पूजा नामक वेब सीरीज में पहली बार दिग्गज अभिनेत्री दीप्ति नवल के साथ नजर आने वाले हैं।

see more..
image