Tuesday, Nov 30 2021 | Time 05:03 Hrs(IST)
image
राज्य » जम्मू-कश्मीर


शाह तीन दिवसीय दौरे पर जम्मू-कश्मीर पहुंचे, शहीद इंस्पेक्टर के परिजनों से मिले

शाह तीन दिवसीय दौरे पर जम्मू-कश्मीर पहुंचे, शहीद इंस्पेक्टर के परिजनों से मिले

श्रीनगर, 23 अक्टूबर (वार्ता) केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस के शहीद इंस्पेक्टर परवेज अहमद के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें सांत्वना दी।

श्री शाह ने केन्द्र शासित प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था की स्थिति पर एक उच्च स्तरीय बैठक में शामिल होने से पहले शहीद परवेज के घर गये और उनकी पत्नी फातिमा को सरकारी नौकरी का नियुक्ति पत्र सौंपा। वहां परिजनों के साथ कुछ समय बिताया और उन्हें सांत्वना दी। परवेज जम्मू-कश्मीर पुलिस के काउंटर इन्टेलीजेंस कश्मीर (सीआईके) में पदस्थ थे। उनकी 22 जून को नौगाम स्थित उनके घर के बाहर हत्या कर दी गयी थी।

उप राज्यपाल मनोज सिन्हा, प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री डॉ जितेन्द्र सिंह और पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह भी इस दौरान मौजूद थे।

श्री शाह केन्द्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के तीन दिवसीय दौरे पर श्रीनगर पहुंचे हैं। राज्य काे मिला विशेष दर्जा पांच अगस्त 2019 को वापस लिये जाने के बाद से उनका यह पहला दौरा है।

केन्द्रीय गृह मंत्री का यह दौरा राज्य में प्रवासी मजदूरों और अल्पसंख्यकों की लक्षित हत्याओं के बीच हो रहा है।

श्री शाह इस दौरान सुरक्षा समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करेंगे। इस बैठक में खुफिया ब्यूरो के प्रमुख, सीमा सुरक्षा बल के प्रमुख, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के महानिदेशक और अन्य वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी शामिल होंगे।

केन्द्रीय गृह मंत्री आज शाम को श्रीनगर से शारजाह के लिए सीधी अंतरराष्ट्रीय उड़ान की शुरुआत करेंगे।

इसके अलावा वह कई अन्य कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे।

श्रवण.मनोहर

वार्ता

More News
बिना चर्चा कृषि कानूनों को वापस लेना ‘नये लोकतंत्र का नमूना’: उमर

बिना चर्चा कृषि कानूनों को वापस लेना ‘नये लोकतंत्र का नमूना’: उमर

29 Nov 2021 | 8:38 PM

श्रीनगर 29 नवंबर (वार्ता) जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कृषि कानून वापस लेने के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर हमला बोला है और कहा है कि संसद में बिना चर्चा कराये कृषि कानूनों को वापस लेने ‘नये भारत के नये लोकतंत्र का नमूना’ है।

see more..
image