Sunday, Dec 8 2019 | Time 10:55 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • रानी झांसी रोड के निकट अनाज मंडी में भीषण आग, 43 लोगों की मौत
  • योगी ने रैन बसेरा का किया निरीक्षण ,बांटे कंबल
  • योगी ने रेन बसेरा का किया निरीक्षण ,बांटे कंबल
  • धंधेबाज के मकान से 122 कार्टन विदेशी शराब बरामद
  • रानी झांसी रोड के निकट अनाज मंडी में भीषण आग, 30 से अधिक लोगों की मौत
  • राजदूत नियुक्त करने के अमेरिका और सूडान के निर्णय का स्वागत:सऊदी
  • रानी झांसी रोड़ के निकट अनाज मंडी में भीषण आग, 30 से अधिक लोगों के दम घुटने से मरने की आशंका
  • चीन में ट्रक पलटने से सात लोगों की मौत, दो अन्य घायल
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 09 दिसंबर)
  • इजरायल ने हमास के ठिकानों पर किये हवाई हमले
  • नेतन्याहू-पुतिन ने की सुरक्षा तथा अन्य अहम मुद्दों पर चर्चा
  • ‘अमेरिका कर रहा है हाइपरसोनिक हथियारों के विकास में निवेश’
  • अमेरिकी न्यायिक समिति के महाभियोग को लेकर जारी की रिपोर्ट
  • सीरिया के राष्ट्रपति कार्यालय ने की इटली के न्यूज चैनल की निंदा
  • बगदाद में प्रदर्शनकारियों पर गोलीबारी में मरने वालों की संख्या हुई 23
राज्य » बिहार / झारखण्ड


क्षेत्र विशेष की जरूरतों के अनुरूप कृषि योजनाओं को करें लागू : मुख्य सचिव

रांची 02 दिसंबर (वार्ता) झारखंड सरकार ने आज अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कृषि की योजनाओं को पूरे राज्य में एक समान लागू करने की जगह क्षेत्र विशेष की जरूरतों के अनुसार उसे कार्यान्वित करें।
मुख्य सचिव डॉ. डी. के. तिवारी ने यहां कृषि एवं स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग की चल रहे कार्यों और आगामी योजनाओं और उनकी कार्ययोजना की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कृषि की योजनाओं को पूरे राज्य में एक समान लागू करने की जगह क्षेत्र विशेष की जरूरतों के अनुसार उसे कार्यान्वित करें। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि जहां धान की खेती होती है, वहां ड्रिप सिंचाई योजना की जरूरत नहीं होगी। इसी तरह कई फसल के लिए कुछ खास किस्म की जमीन और मौसम ज्यादा बढ़िया होते हैं।
डॉ. तिवारी ने निर्देश दिया कि योजना बनाते और उसे लागू करते वक्त इसका विशेष ध्यान रखें। उन्होंने कहा जिस इलाके में जिस योजना की उपयोगिता कम होगी, वहां उसका योजना के अनुसार लाभ भी नहीं लिया जा सकता है। उन्होंने कृषि विभाग की राज्य में चल रही 24 योजनाओं को इसी आधार पर वर्गीकृत कर और ज्यादा उपयोगी इलाके (जिले) का चयन कर लागू करने का निर्देश दिया।
सूरज
जारी (वार्ता)
image