Thursday, Nov 15 2018 | Time 22:46 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पटना पाइरेट्स ने दबंग दिल्ली को तीन अंकों से हराया
  • मोदी ने आसियान के साथ व्यापार पर दिया जोर
  • गाजा चक्रवात: चित्तूर में शुक्रवार को सभी स्कूलों में छुट्टी की घोषणा
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
  • मध्यप्रदेश में 2907 प्रत्याशी चुनाव मैदान में
  • स्कूल के शौचालय से युवक का शव बरामद
  • बिहार में सड़क दुर्घटना में आठ लोगों की मौत , सात घायल
  • दहेज हत्या मामले में पति और ससुर को आजीवन कारावास
  • नाबालिग के साथ दुष्कर्म
  • पंसारे हत्या मामले में अमोल आठ दिन की एसआईटी हिरासत में
  • अखाड़ा भवन ध्वस्तीकरण मामले में नगर निगम आयुक्त एवं पुलिस को नोटिस
  • विकास लक्ष्य हासिल नहीं कर सका झारखंड : झाविमो
  • 84 के सिख दंगा पीड़ितों को मुआवजे के भुगतान पर सरकार से जवाब तलब
  • जौनपुर बिजली विभाग के बिल घोटाले की जांच करेंगी एमडी
राज्य Share

विद्यार्थियों के हितों को नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए : लालजी

विद्यार्थियों के हितों को नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए : लालजी

पटना 11 सितंबर (वार्ता) बिहार के राज्यपाल एवं कुलाधिपति लालजी टंडन ने विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों को कड़ी हिदायत देते हुये आज कहा कि विद्यार्थियों के हितों को कतई नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए।

श्री टंडन ने यहां राजभवन आये कई छात्र-संघों के नेताओं और प्रतिनिधियों से मुलाकात के बाद विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों को कड़ी हिदायत देते हुये कहा कि विद्यार्थियों के हितों को कतई नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन ही मूलतः छात्रों के लिए नियमित अध्ययन की सुविधाओं के विकास तथा उनकी समस्याआें के निराकरण के लिए जिम्मेवार है। छात्र-संघों और छात्र-संगठनों की मांगों और अनुरोधों पर विश्वविद्यालय प्रशासन को गंभीर होना पड़ेगा तथा विश्वद्यिालय और महाविद्यालय के विकास में विद्यार्थियों की पूरी सहभागिता सुनिश्चित करनी होगी।

राज्यपाल ने छात्र नेताओं से कहा, “आप अपने सुझाव या मांगों को तर्कपूर्ण एवं तथ्यात्मक रूप से विश्वविद्यालय के पदाधिकारियों के समक्ष भी रखें। बिहार में छात्र-संघों के निर्वाचित पदाधिकारियों एवं अन्य सभी छात्र-संगठनों के पदाधिकारियों एवं प्रतिनिधियों से विश्वविद्यालय के पदाधिकारियों को समय निर्धारित कर निश्चित रूप से मिलना चाहिए। छात्र-संघों के पदाधिकारी, विश्वविद्यालय की कुछ समस्याओं का अत्यन्त व्यावहारिक समाधान सुझाते हैं।”

सूरज रमेश

जारी (वार्ता)

More News
जिया खान आत्महत्या मामले में जांच अधिकारियों को अदालत में पेश होने के आदेश

जिया खान आत्महत्या मामले में जांच अधिकारियों को अदालत में पेश होने के आदेश

15 Nov 2018 | 10:07 PM

मुंबई 15 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री जिया खान आत्महत्या मामले में सत्र अदालत के न्यायाधीश ने जूहू पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक और जांच अधिकारियों को अगली तारीख 28 नवंबर को अदालत में हाजिर रहने का आदेश दिया है।

 Sharesee more..
image