Tuesday, Feb 19 2019 | Time 11:55 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सेना ने घाटी में बंदूक उठाने वालों को दी चेतावनी
  • मोदी ने छत्रपति शिवाजी की जयंती पर दी श्रद्धांजलि
  • सलमान की फैमिली ने हमेशा सपोर्ट किया: कैटरीना
  • बॉलीवुड में कमबैक करेंगी पूनम ढिल्लों
  • नयी फिल्म के पहले दाढ़ी और बाल बढ़ाते हैं आमिर
  • मोदी ने देश के प्रथम परिवर्तित विद्युत रेल इंजन का किया लोकार्पण
  • राव की नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका निरस्त
  • सैफ के फुट मसाज की आदत से चिढ़ती हैं करीना
  • ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान के लिये भावनात्मक होने की जरूरत नहीं: कैटरीना
  • नायक का सीक्वल बनाया जाना चाहिए: अनिल कपूर
  • तख्त के लिये काफी उत्साहित हैं करण जौहर
  • सलमान की फैमिली ने हमेशा सपोर्ट किया: कैटरीना
  • बॉलीवुड में कमबैक करेंगी पूनम ढिल्लों
  • नयी फिल्म के पहले दाढ़ी और बाल बढ़ाते हैं आमिर
  • सैफ के फुट मसाज की आदत से चिढ़ती हैं करीना
राज्य Share

स्वराज इंडिया ने भी किया किसानों से ब्याज वसूली का विरोध

स्वराज इंडिया ने भी किया किसानों से ब्याज वसूली का विरोध

चंडीगढ़, 06 सितंबर (वार्ता) दादूपुर नलवी नहर परियोजना रद्द करने के बाद किसानों को अधिग्रहित की गई जमीन लौटाने के लिए मुआवजे की रकम ब्याज के साथ वापस लेने के हरियाणा सरकार के फैसले का स्वराज इंडिया ने आज विरोध किया।

स्वराज इंडिया के आज यहां जारी बयान के अनुसार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने कहा कि हरियाणा में भूमि अधिग्रहण के नाम पर किसानों की लूट का सिलसिला 2004 से ठीक पहले शुरू हुआ जो मनोहर लाल खट्टर सरकार द्वारा दादुपुर नलवी केस में जमीन को सालों बाद अधिग्रहण से मुक्त करने से नए अवतार में सामने आया है।

पार्टी के उपाध्यक्ष राजीव गोदारा ने कहा कि कानूनन जब कोई जनहित, जिसके लिए, जमीन अधिगृहित की गई थी, वह अलाभकारी व गैर आवश्यक हो तो राज्य सरकार जमीन को डी नोटिफाई करसकती है मगर हरियाणा मंत्रिमंडल केकल के फैसले से साफ है कि प्रस्तावित नीति कानून के दायरों के बाहर किसान को उजाड़ने का माध्यम ही बनेगी| उन्होंने कहा कि कल किए फैसले में कहा गया है कि जमीन मालिक को मुआवजे की राशिसाधारण ब्याज के साथ लौटानी होगी|

श्री गोदारा ने कहा कि जब बाजार में जमीनों के भाव आसमान छू रहे थे तब पूंजीपतियों व भूपतियों के हितों की रक्षा करने वाली सरकार धड़ाधड़ जमीन का अधिग्रहण कर रही थी और रिहायशी प्लाट में बदलकर महंगे दामों पर बेच कर मुनाफा भी कमा रही थी। उस दौर में किसान को उजाड़ दिया गया और आज वर्तमान सरकार की आर्थिक नीतियों के चलते बाजार में भयानक मंदी है और इस मंदी के दौर में जमीन के भाव भी रसातल में है तथ्सस हुडा (हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण) द्वारा किसानों से छीनी गई जमीन पर काटे गए प्लॉट्स को महंगे भाव पर खरीदने वाला खरीदार बाजार में नहीं है तो आज आप किसान को वह जमीन लौटा देना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि यह सरकार की संवेदनहीनता है।

श्री यादव ने कहा कि इस पूरी प्रक्रिया को अपनाने के बाद भी किसान की आवाज या पक्ष सुने जाने का कोई प्रावधान दिखाई नहीं पड़ता तथा पूरी योजना जमीन अधिग्रहण करने वाले विभाग की समझ याआंकलन पर निर्धारित है । उन्होंने कहा कि सरकार की यह नीति हरियाणा के पूरे आर्थिक व सामाजिक ढांचे को प्रभावित करेगी। उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल का यह फैसला संकेत हैं कि सरकार अब अधिग्रहित जमीन का मुआवजा देने की बजाय जमीन को अधिग्रहण से मुक्त करने के फैसले बड़े स्तर पर करने वाली है।

महेश विक्रम

वार्ता

More News
मोदी ने देश के प्रथम परिवर्तित विद्युत रेल इंजन का किया लोकार्पण

मोदी ने देश के प्रथम परिवर्तित विद्युत रेल इंजन का किया लोकार्पण

19 Feb 2019 | 11:37 AM

वाराणसी, 19 फरवरी (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुराने डीजल इंजनों के पुर्जों की मदद से तैयार की गये देश के पहले उच्च अश्व शक्ति विद्युत रेल इंजन को मंगलवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में हरी झंडी दिखाकर राष्ट्र को समर्पित किया।

 Sharesee more..

कुंभ-माघी पूर्णिमा तीन अंतिम कुंभनगर

19 Feb 2019 | 11:25 AM

 Sharesee more..

कुंभ-माघी पूर्णिमा दो कुंभनगर

19 Feb 2019 | 11:24 AM

 Sharesee more..
image