Tuesday, Nov 30 2021 | Time 21:21 Hrs(IST)
image
राज्य » राजस्थान


भारतीय सेना में ताकतवर से ताकतवर दुश्मन के दांत खट्टे करने की क्षमता-मिश्र

भारतीय सेना में ताकतवर से ताकतवर दुश्मन के दांत खट्टे करने की क्षमता-मिश्र

जयपुर, 19 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा है कि भारतीय सेना के जवानों में वह दम-खम, शौर्य और पराक्रम है कि दुश्मन को भारत की ओर आंख उठाने से पहले दस बार सोचना पड़ता है।

श्री मिश्र 1971 के भारत-पाक युद्ध में भारतीय जीत की स्वर्ण जयन्ती के अवसर पर आज सप्त शक्ति कमान द्वारा आयोजित कार्यक्रमों की शृंखला के समापन समारोह में रविवार को रामबाग पोलो ग्राउण्ड में सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भारत की नीति सदैव से किसी पर आक्रमण नहीं करने की रही है, लेकिन भारतीय सेना में ताकतवर से ताकतवर दुश्मन के दांत खट्टे करने की क्षमता है।

श्री मिश्र ने स्वर्णिम विजय वर्ष की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वर्ष 1971 में पाकिस्तान ने जब हमारे देश पर हमला किया तब देश की तीनों सेनाओं ने शानदार समन्वय के साथ इस हमले का मुंहतोड़ जवाब दिया। भारत के वीर सैनिकों ने 13 दिन तक चले युद्ध में अदम्य साहस, पराक्रम और जज्बे से ही पाकिस्तान के 93 हजार सैनिकों को युद्धबन्दी बनाया। इस कारण आज का यह दिन पूरे देश के लिए भारतीय सेना पर गौरव का महान दिन है।

उन्होने रामबाग पोलो ग्राउण्ड में घोड़ों और हैलीकॉप्टर पर हैरतअंगेज करतब दिखाने और युद्ध कौशल का प्रदर्शन करने वाले जांबाजों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस शानदार प्रदर्शन को देखने के बाद सभी के मन में यह विश्वास और दृढ़ हो गया है कि देश की सीमाओं की सुरक्षा की जिम्मेदारी जिन बहादुर और अनुशासित जवानों पर है, उनका निशाना कभी चूक नहीं सकता।

रामसिंह

वार्ता

image