Monday, Sep 24 2018 | Time 08:53 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • क्यूबा के नए राष्ट्रपति अमेरिकी प्रतिबंध का करेंगे विरोध
  • मैक्रों की लोकप्रियता में आैर गिरावट : सर्वे
  • स्विट्जरलैंड के दूसरे प्रांत में भी बुर्का पर लगा प्रतिबंध
  • अपहृत नौका चालक दल के सदस्यों की हुई पहचान
  • मालदीव के राष्ट्रपति चुनाव में विपक्षी उम्मीदवार सोलिह जीते
  • मालदीव राष्ट्रपति चुनाव में विपक्षी उम्मीदवार की जीत
  • गब्बर और हिटमैन ने पाकिस्तान को धो डाला, भारत फाइनल में
  • अफगानिस्तान बाहर, बंगलादेश-पाकिस्तान में होगा सेमीफाइनल
  • कांगो में विद्रोहियों के हमले में 14 नागरिक मारे गये
  • हिमाचल में सड़क हादसों में छह की मौत,38 घायल
  • भाजपा के शीर्ष नेताओं में पर्रिकर से इस्तीफा मांगने का साहस नहीं : कांग्रेस
राज्य Share

राफेल विमानों की खरीद सौदा शताब्दी का सबसे बड़ा घोटाला:आनंद शर्मा

राफेल विमानों की खरीद सौदा शताब्दी का सबसे बड़ा घोटाला:आनंद शर्मा

वाराणसी, 05 सितंबर(वार्ता) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सांसद आनंद शर्मा ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए राफेल विमानों की खरीद सौदे को शताब्दी का सबसे बड़ा घोटाला करार देते हुए पूरे मामले की जांच संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) से कराने की मांग दोहरायी है।

श्री शर्मा ने बुधवार को प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर देश की संवैधानिक संस्थाओं एवं कानून के दुरुपयोग करने का गंभीर आरोप लगाया है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री शर्मा ने यहां संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के दौरान फ्रांस से 526 करोड़ रुपये प्रति राफेल विमान खरीदने का सौदे हुआ था जिसे मोदी सरकार तीन गुणा अधिक कीमत 1670 करोड़ रुपये प्रति विमान खरीद रही है। कांग्रेस कार्य समिति के सदस्य श्री शर्मा ने कहा कि राफेल खरीद मामले में प्रधानमंत्री मोदी ने कानून को ताक पर रख कर फैसला लिया तथा भारत के रक्षा मंत्री तक को इसकी जानकारी नहीं दी गई।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस द्वारा पूरे मामले की जांच संयुक्त संसदीय कमेटी (जेपीसी) कमेटी से कराने की मांग लगातार की जा रह है लेकिन जनता की गाढ़ी कमाई में से अरबों रुपये के इस घोटाले की जांच के लिए सरकार तैयार नहीं हो रही है।

राज्यसभा में विपक्ष के नेता श्री शर्मा ने कहा कि नोटबंदी मामले में भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के हालिया घोषणा से साबित होता है कि श्री मोदी के मनमाने फैसले देश को भारी नुकसान हुआ। इससे अर्थ व्यवस्था पर विपरीत असर पड़ा। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से गरीब एवं मध्यम वर्ग का सबसे अधिक नुकसान हुआ और करोड़ों लोगों की रोजी-रोटी चली गई। श्री शर्मा ने कहा कि वर्ष 2019 के लोक सभा चुनाव में जनता इसका जवाब देगी और भाजपा को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखायेगी।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार को अनुसूचित जाति एवं जनजाति कानून में संशोधन के लिए सर्वसम्मति बनानी चाहिए।

बीरेंद्र मुसन्ना तेज

वार्ता

More News

24 Sep 2018 | 12:04 AM

 Sharesee more..
आयुष्मान भारत एक नयी क्रांति: शिवराज

आयुष्मान भारत एक नयी क्रांति: शिवराज

23 Sep 2018 | 11:45 PM

भोपाल, 23 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आयुष्मान भारत योजना की प्रशंसा करते हुए आज कहा कि यह योजना एक नयी क्रांति है।

 Sharesee more..

नयी पार्टी बनाने की कोई योजना नहीं: अलागिरी

23 Sep 2018 | 11:38 PM

 Sharesee more..
image