Wednesday, Feb 20 2019 | Time 17:49 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • 80 फीसदी लोगों को गंभीर बीमारियां में होने वाले व्यय की जानकारी नहीं
  • बसों में गोमांस ले जा रही दो महिलाएं गिरफ्तार
  • हरियाणा में कांग्रेस अकेले चुनाव लड़ेगी : तंवर
  • तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ता को गोली मारी
  • मोदी सरकार पाकिस्तान को अलग थलग करने में कामयाब-शर्मा
  • सरकार के निर्देश पर ही विश्व कप में पाकिस्तान से खेलेंगे : चौहान
  • आशाराम को हाईकोर्ट से झटका,विशेष अपील खारिज
  • सरसों तेल सस्ता, चीनी, गेहूँ मजबूत, दालें स्थिर
  • निजी अस्पतालों की हड़ताल को लेकर हाईकोर्ट सख्त
  • आतंकवाद को मुंहतोड़ जवाब केवल मोदी ही दे सकते हैं: योगी आदित्यनाथ
  • शमीमा बेगम की जायेगी ब्रिटेन नागरिकता
  • बसों में गोमांस ले जा रही दो महिलाएं गिरफ्तार
  • मुजफ्फरनगर मंडी में गुड़ और चीनी के भाव
world Share

संयुक्त राष्ट्र में पहली बार मनाई गई अंबेडकर जयंती

संयुक्त राष्ट्र में पहली बार मनाई गई अंबेडकर जयंती

न्यूयॉर्क, 14 अप्रैल (वार्ता) संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की 125वीं जयंती मनाई गई और इस मौके पर विभिन्न क्षेत्रों में उनके योगदान और सेवाओं का उल्लेख किया गया। संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत के स्थायी मिशन ने अमेरिका आधारित गैर सरकारी संस्था फाउंडेशन फोर ह्यूमन हाेराइजन और भारत आधारित गैर सरकारी संस्था कल्पना सरोज फाउंडेशन के सहयोग से डा. अंबेडकर की 125वीं जयंती का विशेष समारोह आयोजित किया। इस मौके पर संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने कहा, “डॉ. भीमराव अंबेडकर भारतीय संविधान के प्रमुख निर्माता तथा स्वतंत्र भारत के पहले कानून मंत्री, एक समाज सुधारक, कानूनविद, पर्यावरणविद, लेखक और एक शोधार्थी थे। वह बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे और उन्हाेंने भारत में भेदभाव और सामाजिक असमानता के खिलाफ लड़ाई लड़ी।” संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की प्रशासक हेलन क्लार्क ने कहा कि डॉ. अंबेडकर जानते थे कि असमानता लोगों के कल्याण की दिशा में बुनियादी चुनौती है। इस अवसर पर कई अन्य लोगों ने भी अंबेडकर की शिक्षाओं को याद किया। इस मौके पर राजनयिक, संयुक्त राष्ट्र के वरिष्ठ अधिकारी, भारत से राज्य सरकार के अधिकारी, छात्र, सिविल सोसायटी तथा निजी क्षेत्र के प्रतिनिधि मौजूद थे। संयुक्त राष्ट्र संघ में पहली बार बाबा साहेब पर विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मनीषा, यामिनी वार्ता

More News
फ्रांस जैश के ख़िलाफ़ सुरक्षा परिषद मे लायेगा प्रस्ताव

फ्रांस जैश के ख़िलाफ़ सुरक्षा परिषद मे लायेगा प्रस्ताव

20 Feb 2019 | 4:20 PM

पेरिस, 20 फरवरी (वार्ता) फ्रांस सरकार ने कुख्यात आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मौलाना मसूद अज़हर को ‘वैश्विक आतंकवादी’ के रूप में सूचीबद्ध करने के लिए सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में प्रस्ताव लाने का निर्णय किया है।

 Sharesee more..
image