Sunday, Jul 21 2019 | Time 16:54 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मंगलवार को स्कूल बंद कर हिसार में करेंगे प्रदर्शन निजी स्कूल संचालक
  • किसान की हत्या कर चुराई तीन भैंसें
  • धोनी जानते हैं कि उन्हें संन्यास कब लेना है: प्रसाद
  • ठाणे में सड़क हादसे में मजदूर की मौत, 19 घायल
  • गुजरात में बारिश के कारण चार लोगों की मौत
  • विश्वास मत पर वोटिंग के दौरान तठस्थ रहेंगे बसपा के इकलौते विधायक
  • पैरोल जंप करने वाला ‘मोस्ट वांटेड‘ बदमाश पकड़ा गया
  • अमेरिका में लू से छह लोगों की मौत, करोड़ों प्रभावित
  • विश्व में खसरे से प्रति घंटे दस बच्चों की होती है मौत
  • विराट को तीनों फार्मेट की कप्तानी, हार्दिक को विश्राम
  • सादगी की मिसाल राय दा ने आजीवन पेंशन नहीं ली
खेल


‘लार्ड्स का किंग’ बनने उतरेंगे भारतीय खिलाड़ी

‘लार्ड्स का किंग’ बनने उतरेंगे भारतीय खिलाड़ी

लंदन, 08 अगस्त (वार्ता) भारतीय क्रिकेट टीम के लिये हमेशा भाग्यशाली साबित हुये लार्ड्स के मैदान पर गुरूवार से शुरू होने जा रहे दूसरे टेस्ट में विराट कोहली एंड कंपनी जीत दर्ज करते हुये पांच मैचों की सीरीज़ में बराबरी हासिल करने के इरादे से उतरेगी।

भारतीय टीम को सीरीज़ के पहले मैच में इंग्लैंड टीम ने 31 रन से हराया था जिससे मेहमान टीम 1-0 से पिछड़ गयी है। हालांकि लार्ड्स पर भारतीय खिलाड़ियो के पास वापसी का मौका रहेगा जहां वर्ष 2014 की पिछली सीरीज़ में भारतीय टीम को उसकी एकमात्र जीत हासिल हुई थी।

भारत ने इंग्लैंड में पिछली पांच मैचाें की सीरीज़ 1-3 से गंवायी थी लेकिन लार्ड्स पर उसने दूसरा मैच 95 रन से जीतकर क्लीन स्वीप की शर्मिंदगी बचाई थी। भारत ने अपने इतिहास का पहला विश्वकप 1983 में भी लार्ड्स मैदान पर जीता था। ऐसे में कप्तान विराट की टीम इंडिया फिर से यहां अपना जादू चला सकती है।

चार वर्ष पूर्व टीम में मुरली विजय, अजिंक्या रहाणे,चेतेश्वर पुजारा, शिखर धवन, रवींद्र जडेजा, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और विराट कोहली उस टीम का हिस्सा थे और मौजूदा टीम में भी ये खिलाड़ी शामिल हैं। इन खिलाड़ियों के पास इंग्लिश परिस्थितियों का अच्छा अनुभव है। वर्ष 2014 सीरीज़ के लार्ड्स मैदान पर हुये मैच में मुरली की 95, रहाणे की 103 रन और ऑलराउंडर जडेजा की निचले क्रम पर 68 रन की पारी अहम रही थी।

हालांकि भुवनेश्वर कुमार की निचले क्रम पर अर्धशतकीय पारी के साथ 82 रन पर छह विकेट का प्रदर्शन भी लाजवाब था लेकिन भुवी इस बार चोट के कारण टीम से बाहर हैं लेकिन तेज़ गेंदबाज़ों में फिर से निगाहें इशांत पर होंगी जिन्होंने यहां इंग्लैंड की दूसरी पारी में 74 रन पर सात विकेट निकाले थे और भारत को जीत दिला मैन ऑफ द मैच रहे थे।

 

image