Friday, Sep 20 2019 | Time 17:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • घरेलू चरण के लिए तैयार है हरियाणा स्टीलर्स
  • राज्यपाल के आगमन के मद्देनजर झांसी प्रशासन जुटा तैयारियों में
  • पीड़िता की आत्मदाह की धमकी के बाद हुई चिन्मयानंद की गिरफ्तारी: प्रियंका
  • कश्मीर की प्रगति इमरान को हजम नहीं: भारतीय राजनयिक
  • आर्थिक मंदी को लेकर वाम दल करेंगे जनांदोलन
  • वीवो का डुअल पॉपअप सेल्फी कैमरा स्मार्टफोन वी 17 प्रो लाँच
  • राष्ट्रीय रोप स्किपिंग प्रतियोगिता में भाग लेने दिल्ली टीम रवाना
  • योगी पहुंचे वाराणसी, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का लेंगे जायजा
  • बजरंग की सेमीफाइनल हार पर कोच कृपाशंकर ने उठाये सवाल
  • बजरंग की सेमीफाइनल हार पर कोच कृपाशंकर ने उठाये सवाल
  • इंडिया सीएसआर सम्मेलन एवं प्रदर्शनी राजधानी में
  • दुबई से 20 लाख का अवैध सोना लाते, पांच बदमाश गिरफ्तार
  • जेल में बंद सजायाफ्ता कैदी की मौत
  • मैक्स बूपा और इंडियन बैंक की साझेदारी
  • श्रीलंका का पाकिस्तान दौरा तय कार्यक्रम से होगा
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


मानवाधिकार हनन के दो मामलों में आयोग ने लिया संज्ञान

भोपाल, 01 मई (वार्ता) मध्यप्रदेश मानव अधिकारी आयोग ने मानवाधिकार हनन के दो मामलों में संज्ञान लेते हुए संबंधित अधिकारियों से प्रतिवेदन तलब किया है।
आयोग की ओर से आज यहां जारी विज्ञप्ति के अनुसार राजधानी की अति सुरक्षित केन्द्रीय जेल में कैदियों के बीच खूनी संघर्ष होने की घटना सामने आयी है। दो आरोपी कैदियों ने जेल के जंग खाये लोहे के दरवाजे की राड निकालकर उसे चाकूनुमा बनाया और साथी कैदी की गर्दन के पीछे और चेहरे पर गंभीर वार कर दिये। पीड़ित कैदी को तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उसकी हालत स्थिर बनी हुई है। आयोग ने इस घटना पर संज्ञान लेकर पुलिस महानिदेशक (जेल) भोपाल एवं जेल अधीक्षक, केन्द्रीय जेल भोपाल से दो सप्ताह में प्रतिवेदन मांगा है।
इसी प्रकार सागर जेल की महिला बंदी 50 वर्षीया कमला रानी की हमीदिया अस्पताल भोपाल में उपचार के दौरान मौत हो गई। जेल प्रशासन ने दावा किया है कि महिला लंबे समय से बीमार थी। महिला को सागर जेल से उपचार के लिये हमीदिया में भर्ती कराया गया था। वह सजायाफ्ता बंदी थी। आयोग ने इस घटना पर संज्ञान लेकर पुलिस महानिदेशक (जेल) भोपाल एवं जेल अधीक्षक, सागर से प्रतिवेदन मांगा है।
बघेल
वार्ता
image